North Eastern Railway: 31 जुलाई तक सौ फीसद टीकाकरण के लिए रेलवे चलाएगा अभियान

महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी ने समस्त रेलकर्मियों और उनके स्वजन का सौ फीसद टीकाकरण सुनिश्चित करने के सभी प्रमुख विभागाध्यक्षों और मंडल रेल प्रबंधकों को निर्देशित कर दिया है। ताकि रेलकर्मियों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया जा सके।

Satish Chand ShuklaFri, 23 Jul 2021 04:27 PM (IST)
महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी का फाइल फोटो, जागरण।

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। 31 जुलाई तक सौ फीसद टीकाकरण का लक्ष्य पूरा करने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन अभियान चलाएगा। 22 जुलाई को गोरखपुर स्टेशन स्थित डीजल लाबी में कैंप लगाकर टीकाकरण हुआ। 23 को सिग्नल कारखाना गोरखपुर छावनी, 26 को महाप्रबंधक कार्यालय, 27 को रेलवे सुरक्षा विशेष बल द्वितीय वाहिनी रजही कैंप और 28 को सवारी माल डिपो में कैंप लगाया जाएगा। टीकाकरण आन स्पाट पंजीकरण के आधार पर किया जा रहा है।

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार रेलवे बोर्ड के दिशा निर्देश पर टीकाकरण के 100 फीसद लक्ष्य को हासिल करने के लिए निर्धारित तिथि तक मुख्यालय गोरखपुर स्थित चयनित विभागों, केंद्रों और कारखानों में कैंप लगाए जाएंगे। कैंप में सुबह 10 से अपराह्न 3.00 बजे तक टीकाकरण होगा। पूर्वोत्तर रेलवे में जनवरी 2021 के अंतिम सप्ताह से टीकाकरण अभियान चलाकर युद्ध स्तर पर रेलकर्मियों, उनके स्वजन, कुलियों और वेंडरों को टीका लगाया जा रहा है। अभी तक 45963 रेलकर्मियों, 36173 रेल कर्मियों के आश्रितों तथा लगभग 1200 कुलियों, वेण्डरों तथा संविदा पर कार्यरत कर्मियों को टीका लगाया जा चुका है।

जीएम ने अधिकारियों को दिया निर्देश

महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी ने समस्त रेलकर्मियों और उनके स्वजन का सौ फीसद टीकाकरण सुनिश्चित करने के सभी प्रमुख विभागाध्यक्षों और मंडल रेल प्रबंधकों को निर्देशित कर दिया है। ताकि, रेलकर्मियों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया जा सके। यहां जान लें कि पूर्वोत्तर रेलवे में लगभग 50 हजार कर्मी हैं। 95 फीसद से अधिक रेलकर्मियों को टीका लग चुका है।

रेलवे अस्पतालों की सु²ढ़ हो रहीं स्वास्थ्य सेवाएं

कोरोना के तीसरी लहर से बचाव के लिए रेलवे प्रशासन ने अपनी तैयारी तेज कर दी है। केंद्रीय सहित सभी मंडलीय रेलवे अस्पतालों की स्वास्थ्य सेवाओं को और स²ढ़ किया जा रहा है। सभी अस्पतालों में आक्सीजन प्लांट और बच्‍चों के लिए अलग से वार्ड तैयार किए जा रहे हैं। गोरखपुर में तो ब'चों के लिए अस्थाई वार्ड तैयार भी कर दिया गया है। अगस्त में सभी आक्सीजन प्लांट और वार्ड बन जाएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.