गोरखपुर में प्रेम प्रसंग को लेकर प्रापर्टी डीलर को गोली मारी, हालत गंभीर

गोरखपुर में बुधवार रात करीब पल्सर सवार बदमाशों ने गांव के 28 वर्षीय नागेंद्र निषाद गोली मार दी। गोली सीने के दाई तरफ कंधे से थोड़ा नीचे आर-पार हो गई है। नागेंद्र की हालत गंभीर है। उसे इलाज के लिए मेडिकल कालेज ले जाया गया।

Pradeep SrivastavaThu, 09 Dec 2021 01:08 AM (IST)
मेडिकल कालेज में भर्ती गोली लगने से घायल नागेंद्र निषाद। - जागरण

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। प्रेम प्रसंग को लेकर पिपराइच के जंगल धूषण के टोला हसनगंज में बुधवार रात करीब पल्सर सवार बदमाशों ने गांव के 28 वर्षीय नागेंद्र निषाद गोली मार दी। गोली सीने के दाई तरफ कंधे से थोड़ा नीचे आर-पार हो गई है। नागेंद्र की हालत गंभीर है। उसे इलाज के लिए मेडिकल कालेज ले जाया गया। वहां उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है। घायल नागेंद्र के बड़े भाई रामचंदर निषाद की तहरीर पर पुलिस ने प्रधान प्रतिनिधि राजकुमार भारती निवासी जंगल तिनकोनिया नंबर दो सहित हसनगंज के गोपीचंद्र गुप्ता व रामसेवक प्रजापति के विरुद्ध थाने में तहरीर दी है। पुलिस तीनों आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन में जुटी है। नागेंद्र प्रापर्टी डीलिंग का काम करता है।

यह है मामला

रामचंदर ने थाने में तहरीर दी है कि शाम को उसका भाई गांव के बाहर एक पटाखा फैक्ट्री वाले रास्ते के पास बैठा हुआ था। इसी दौरान राजकुमार, गोपीचंद्र व रामसेवक बाइक लेकर वहां पहुंच गए और उनके भाई को गोली मार दी। घटना की जानकारी मिलने पर स्वजन भी वहां पहुंच गए और उसे इलाज के लिए मेडिकल कालेज ले गया। घटना की जानकारी पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और वह आरोपितों की तलाश में जुट गई। पुलिस के मुताबिक नागेंद्र ने आरोपित गोपीचंद्र गुप्ता की बहन से छह माह पहले कोर्ट मैरिज किया था, लेकिन घर वाले उसे नागेंद्र के साथ नहीं जाने दे रहे थे। इसे लेकर दोनों परिवारों में अनबन की स्थिति थी।

12 दिसंबर को गोपीचंद्र के बहन की शादी होने वाली थी, लेकिन नागेंद्र इसके लिए तैयार नहीं था। उसने गोपीचंद्र के परिवार को धमकी दी थी कि उन्होंने शादी नहीं रोकी तो वह सभी समक्ष कोर्ट के दस्तावेज रख देगा। आरोपित परिवार को डर था कि कहीं नागेंद्र उनके बहन की शादी न तुड़वा दे। ऐसे में संभव है कि उन्होंने गोली मारी होगी। पुलिस ने यह भी कहा है कि प्रधान प्रतिनिधि ने पीड़ित परिवार की चुनावी रंजिश है।

टीमें गठित कर आरोपितों की तलाश की जा रही है। आरोपितों की तलाश के लिए जगह-जगह छापेमारी की जा रही है। वह जल्द ही गिरफ्तार होंगे। - अखिलानंद उपाध्याय, सीओ चौरीचौरा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.