सोहगीबरवा वन्‍यजीव प्रभाग में शिकारियों ने लगाया था फंदा, फंसा तेंदुआ- हुआ घायल

महराजगंज जिले के सोहगीबरवा वन्यजीव प्रभाग के दक्षिणी चौक रेंज के कुसुमहवा बीट में में शिकारियों ने फंदा लगा रखा था। एक तेंदुआ जाल में फंसकर घायल हो गया। इसकी जानकारी होन पर देर रात वनकर्मी तेंदुए को बचाने के अभियान में जुट गए।

Navneet Prakash TripathiSat, 04 Dec 2021 10:50 AM (IST)
सोहगीबरवा वन्‍यजीव प्रभाग में शिकारियों ने लगाया था फंदा, फंसा तेंदुआ- हुआ घायल। प्रतीकात्‍मक फोटो

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। महराजगंज जिले के सोहगीबरवा वन्यजीव प्रभाग के दक्षिणी चौक रेंज के कुसुमहवा बीट में में शिकारियों ने फंदा लगा रखा था। एक तेंदुआ जाल में फंसकर घायल हो गया। इसकी जानकारी होन पर देर रात वनकर्मी तेंदुए को बचाने के अभियान में जुट गए। रात डेढ़ बजे के करीब उसे पिंजड़े में रखकर रेंज कार्यालय लाया गया। फंदे कसने के चलते उसके पैर में कई जगह चोट लग गई है। तीन दिसंबर को सुबह उसे गोरखपुर चिड़ियाघर भेजा गया।

जंगल के बाहर लगाया गया था फंदा

घायल पड़े तेंदुए को वनकर्मियों ने पकड़ कर इलाज के लिए गोरखपुर स्थित चिड़िया घर में तीन दिसंबर को भेजा। दक्षिणी चौक रेंज के सटे गांव चौक एवं सोनाड़ी खास के लोगों ने बताया कि गुरुवार की रात में शिकारियों ने कुसुमहवा बीट में शिकार के लिए जंगल में फंदा लगाया था । गोरक्षनाथ फार्म के सामने जंगल के बाहर फंदे में एक तेंदुआ घायल होकर तड़प रहा था। ग्रामीणों ने इसकी सूचना वन विभाग को दिया। डीएफओ के निर्देशन में घायल तेंदुए को तत्काल पिंजड़ा में कैद कर लिया गया, तथा गोरखपुर स्थित एक चिड़िया घर में पहुंचा दिया गया। वन क्षेत्राधिकारी दक्षिणी चौक रेंज रवि कुमार गंगवार ने बताया कि तेंदुआ खतरे से बाहर है। गोरखपुर चिड़ियाघर में उसका इलाज चल रहा है।

खलिहान की भूमि पर पानी टंकी निर्माण रोकने की मांग

ब्लाक के ग्राम पंचायत बरोहिया के ग्रामीणों ने अधिशासी अभियंता जलनिगम को प्रार्थना पत्र देकर खलिहान की भूमि पर पानी की टंकी का निर्माण नहीं कराने की मांग की है। ग्राम पंचायत बरोहिया निवासी गंगा, योगेंद्र ओझा, नारद, जगदीश, रमेश, बहादुर, रामा आदि ने प्रार्थना पत्र में बताया कि प्रधान के प्रस्तावित खलिहान की भूमि पर वर्षों से फसल की मड़ाई आदि कार्य किया जाता है। इस भूमि पर पानी का टंकी बनने से खेती का कार्य प्रभावित होगा।

शिकायती पत्र देकर जांच की मांग

मिठौरा बाजार ब्लाक क्षेत्र के ग्राम पंचायत बसवार में मनरेगा योजना से बने पोषण वाटिका की देखरेख का कार्य स्वयं सहायता समूह को से नहीं कराया जा रहा है। जिससे एक ग्रामीण ने एडीओ आईएसवी मिठौरा को शिकायती पत्र देकर मामले की जांच की मांग की। एडीओआइएसबी रामकिशुन गुप्ता ने बताया कि मामले की जांच की जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.