सिद्धार्थनगर में रोज बढ़ रही फर्जी शिक्षकों की संख्‍या, 58 पर होगा मुकदमा

58 फर्जी शिक्षकों पर दर्ज होगा मुकदमा। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

एसटीएफ की जांच में 14 नए फर्जी शिक्षक मिले हैं। इसके पूर्व 44 की पहचान हो चुकी है। कुल मिलाकर फर्जी शिक्षकों की संख्या बढ़कर 58 तक पहुंच गयी है। सभी फर्जी शिक्षकों के तैनाती स्थल वाले ब्लाक में शिक्षा विभाग मुकदमा दर्ज कराएगा।

Rahul SrivastavaSun, 11 Apr 2021 01:30 PM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन : एसटीएफ की जांच में 14 नए फर्जी शिक्षक मिले हैं। इसके पूर्व 44 की पहचान हो चुकी है। कुल मिलाकर फर्जी शिक्षकों की संख्या बढ़कर 58 तक पहुंच गयी है। सभी फर्जी शिक्षकों के तैनाती स्थल वाले ब्लाक में शिक्षा विभाग मुकदमा दर्ज कराएगा। चिन्हित पांच शिक्षक देवरिया, एक वाराणसी व गाजीपुर के अलावा सात लोग गोरखपुर जनपद के निवासी हैं। करीब एक वर्ष पूर्व हुई कार्रवाई में एक बाबू, माफिया शिक्षक को जेल भी हो चुकी है। फिर भी फर्जी शिक्षकों के मिलने का सिलसिला जारी है।

दस माह से ठप थी फर्जी शिक्षकों पर कार्रवाई

पिछले दस माह से फर्जी शिक्षकों पर कार्रवाई ठप थी। 102 फर्जी शिक्षकों पर पहले कार्रवाई हो चुकी है। इस बीच दोबारा शासन ने फर्जी शिक्षकों पर फिर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है, जिसके तहत फर्जी शिक्षकों की कुंडली फिर खंगाली गई है। सूत्रों का दावा है कि जनपद में पांच सौ से अधिक फर्जी शिक्षक नियुक्ति हैं, जिनकी आधी रकम हर माह शिक्षा माफिया को चला जाता है। फर्जीवाड़ा को लेकर विभाग लंबे समय से चर्चा में बना हुआ है।

यह 14 मिले हैं नए फर्जी शिक्षक

अमितेंद्र शेखर मिश्र निवासी धकपुरा देवरिया,राजेश कुमार सिंह- कुईंचवर देवरिया, आनंद शेखर निवासी जिगनी बलिया, रंजेश सिंह -कुईंचवर देवरिया, अंशुमान कुमार श्रीवास्तव-बरडीहा देवरिया, छोटेलाल-हेतेमपुर गाजीपुर, गोविंदलाल गुप्ता-कटघर गोरखपुर, दूधनाथ यादव- छताईं गोरखपुर, गुलाब सिंह -पतालपुर देवरिया, रामदरश सिंह, तलियाबाद गोरखपुर, रागिनी सिंह-एलआइजी द्वितीय विकासनगर बरगदवा गोरखपुर, ज्ञानेंद्र कुमार सिंह-डी 59/378 के चार शिवपुरा वाराणसी, शशिकांत त्रिपाठी- गौरी बलिया शामिल हैं।

इनकी हो चुकी है पूर्व में पहचान

विवेक कुमार सिंह निवासी कड़सर, बलियां, शबाना वारसी-बहियारी देवरिया, विजय कुमार यादव, बृज किशोर यादव , रीता, रितेश सिंह, वंदना सिंह, निवेदिता सिंह व गीतिका सिंह-कुईचवार देवरिया, प्रतिभा मिश्रा-मानबेला गोरखपुर, कुमकुम त्रिपाठी-महरी बलिया, सुमन भारती-श्रीपुर बलिया, प्रियंका सिंह-अपयाल बलिया, सम्पत्ति यादव- खेजुरी बलिया, विकास राय-चौधुरचापर देवरिया, अवनीश कुमार सिंह-फुलवरिया देवरिया, किरन सिंह-झरना गोरखपुर, स्नेह लता बरनवाल- भाटपाररानी देवरिया, रिंकी यादव-छताई गोरखपुर, अबरार अहमद-बगही देवरिया, रमेश चंद्र शुक्ल-अगया सिद्धार्थनगर, रुबी सिंह-जागीर बलिया, अनीस कुमार-खेड़ा फिरोजाबाद, विजय पाल यादव-कसैला बस्ती, प्रियंका सिंह-बकवां बलिया, प्रिया यादव-नारी गाजीपुर, मो. खान-जैतपुरा देवरिया, राजेश कुमार गुप्ता व मनु कुमार सिंह-पनिया बलिया, सरोज उपाध्याय-खड़ेसर देवरिया, सीमा-थरौली सिद्धार्थनगर, धर्मेंद्र यादव-उपाध्याय चक बलिया, राम प्रकाश सिंह-धनिहरा बलिया, ज्योति श्रीवास्तव-मदैया जयराम आजमगढ़, शालिनी सिंह-बहियारी देवरिया, रुमी सिंह व पिंकी सिंह-बड़सरी बलिया, प्रियंका सिंह टघरौली बलिया, अनीसा देवी-बिदापुर मिर्जापुर, विवेकानंद कुमार-कैंट वाराणसी, अश्वनी कुमार श्रीवास्तव-परसिया देवरिया, जीवन कुमार-बिछिया जंगल तुलसीराम गोरखपुर, प्रिया यादव-ब्रज नाथ नगर-इटावा।

शिक्षकों पर कार्रवाई की जानकारी मांगी है एसटीएफ ने

सिद्धार्थनगर के बीएसए राजेंद्र सिंह ने बताया कि एसटीएफ ने शिक्षकों पर कार्रवाई की जानकारी मांगी है। इसके तहत नए चिन्हित कुल 58 फर्जी शिक्षकों के खिलाफ संबंधित थानों में मुकदमा पंजीकृत कराने के लिए संबंधित खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। इससे संबंधित पत्रावली पुलिस अधीक्षक को भी सौंपी गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.