India-Nepal Border Opened: डेढ़ साल बाद भारत-नेपाल सीमा पर शुरू हुआ आवागमन

India-Nepal Border Opened नेपाल गृह मंत्रालय के शाखा अधिकारी सुमन पंडित ने सभी विभागों को सीमा खोलने संबंधी आदेश जारी किया है। आदेश में सीमा पर कोविड नियमों की सख्ती से पालन के निर्देश दिए गए हैं। नेपाल जाने वाले लोगों पर कई शर्तें भी लगाई गईं हैं।

Pradeep SrivastavaSun, 26 Sep 2021 08:50 PM (IST)
करीब डेढ साल बाद भारत नेपाल की सील सीमा खुल गई है। - जागरण

गोरखपुर, जेएनएन। India-Nepal Border Opened: नेपाल कैबिनेट के निर्णय के बाद वहां के गृह मंत्रायल ने भारत से जुड़ी सीमाओं को खोलने की अनुमति दे दी है। जिसके बाद भारत-नेपाल की सोनौली- बेल‍ह‍िया सीमा को भारतीय व विदेशी पर्यटकों के लिए कुछ शर्तों के साथ खोल दिया गया है। हालांकि पर्यटक वाहनों पर रोक अब भी बरकरार है। कोव‍िड के कारण बीते करीब डेढ सात से सीमा सील थी। इसे रविवार को खोल द‍िया गया। रव‍िवार देर शाम सीमा पर आवागमन शुरू हो गया। इस निर्णय के बाद सीमावर्ती क्षेत्र में खुशी का माहौल है।

पर्यटक वाहनों के प्रवेश पर प्रति‍बंध बरकरार, दि‍खाना होगा कोवि‍ड टीकाकरण का प्रमाणपत्र

नेपाल के रुपनदेही जिले के सीडीओ ऋषिराम तिवारी ने बताया कि गृह मंत्रालय के आदेश के अनुपालन में सोनौली सीमा से भारतीय व विदेशी पर्यटकों को आनलाइन फार्म भरकर नेपाल में प्रवेश की अनुमति मिलेगी। यात्रियों को कोरोना जांच की रिपोर्ट व टीकाकरण प्रमाण पत्र भी लगाना पड़ेगा। पर्यटक वाहनों के भंसार या सुविधा की व्यवस्था अभी नहीं जारी होगी। नेपाल गृह मंत्रालय से जारी आदेश नवलपरासी के सीडीओ कार्यालय पहुंच गया है। गृह मंत्रालय के शाखा अधिकारी सुमन पंडित ने सभी विभागों को सीमा खोलने संबंधी आदेश जारी किया है। आदेश में सीमा पर कोविड नियमों का सख्ती से पालन के निर्देश दिए गए हैं। नेपाल जाने वाले लोगों पर कई शर्तें भी लगाई गईं हैं। नेपाल के होटल प्रबंधन को भी सरकार के आदेश का पालन करना होगा।

नेपाल जाने के लिए यह होंगी शर्तें

नेपाल गृह मंत्रालय द्वारा यात्रा प्रबंधन आदेश 2078 को लागू किया गया है। जिससे सीमा पर आवागमन तो सामान्य हो जाएगा, लेकिन लोगों को कुछ शर्ताें का पालन करना होगा। आदेश के अनुसार नेपाल में जाने के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट दिखाने की अनिवार्यता होगी। इसके साथ ही अंतरराष्ट्रीय यात्री फार्म भरना होगा। जिसके बाद ही सड़क मार्ग से पैदल प्रवेश मिलेगा। विदेशी नागरिकों काे कोरोना रोधी दोनों डोज का टीकाकरण प्रमाणपत्र दिखाना होगा। प्रवेश के समय इमिग्रेशन कार्यालय पर जांच होगी। यदि वहां जांच नहीं होती है तो जिस होटल में ठहरेंगे , वहां कोरेाना जांच कराना अनिवार्य होगा।।

बाहर से आए पर्यटक वाहनों की कहां होगी पार्किंग

सोनौली सीमा पर पहले से मालवाहक ट्रकों की कतार के कारण जाम व पार्किंग की समस्या बरकार है। ऐसे में दूर दराज से नेपाल सीमा तक आए पर्यटक अपने वाहन सोनौली में कहां पार्क करेंगे। यह एक बड़ी समस्या हो सकती है। सोनौली के व्यापारी संजीव जायसवाल, रवि वर्मा, संजय वर्मा, बैजनाथ वर्मा, धर्मेंद्र मोदनवाल, राजकुमार, गुड्डू गुप्ता, हरेंद्र, मनोज, प्रेम जायसवाल, अनिल व मोहित गुप्ता का कहना है कि नेपाल में मालवाहक वाहनों पर रोक नहीं है। पर्यटकों के लिए नेपाल प्रवेश की अनुमति मिली है, तो उनके वाहनों को भी प्रवेश की छूट मिलनी चाहिए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.