धान क्रय कन्‍द्रों पर लटक रहे ताले, बिक्री के लिए भटक रहे किसान

बस्ती जिले में बाढ़ बरसात से सुरक्षित जो धान का उत्पादन बचा अब उसे बेचने के लिए किसान भटक रहे हैं। गेंहू की बोआई के लिए खाद व बीज की जरूरत है। किसान के पास जो पूंजी थी उसे खरीफ के फसल में लगा दिया।

Navneet Prakash TripathiSun, 05 Dec 2021 07:05 AM (IST)
धान क्रय केंद्र पर लटक रहे ताले, बिक्री के लिए भटक रहे किसान। प्रतीकात्‍मक फोटो

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। बस्ती जिले में बाढ़, बरसात से सुरक्षित जो धान का उत्पादन बचा अब उसे बेचने के लिए किसान भटक रहे हैं। गेंहू की बोआई के लिए खाद व बीज की जरूरत है। वहीं लगन भी जोरो पर है। किसान के पास जो पूंजी थी उसे खरीफ के फसल में लगा दिया। पैसों से हाथ खाली है, यदि समय से धान की खरीद व भुगतान हो जाए तो किसानों को आढतियों के हाथ औने पौने दाम पर धान न बेचना पड़े।

एक नवंबर से चल रही धान खरीद

एक नवंबर से धान की खरीद चल रही है। कुदरहा में 14 तो बहादुरपुर में नौ धान क्रय केंद्र स्थापित किए गए हैं। खाद्य विभाग के कुछ केंद्रो को छोड़कर अधिकांश केंद्रों पर ताले लटक रहे हैं। क्रय केंद्र साधन सहकारी समिति जगन्नाथपुर एक माह से ताला नहीं खुला। किसानों को पता ही नहीं यहां भी धान की खरीद होनी है। सचिव वेद प्रकाश किसानों द्वारा फोन करने पर दूसरे को धान बेचने की सलाह देते है।

नहीं लगा बैनर

गौरा धुंधा में स्थापित धान क्रय पर अब तक न तो बोरे का गठ्ठर खुला और न ही बैनर लगा। केंद्र प्रभारी विजेंद्र का कहना है कि दो दिन पहले आइडी पासवर्ड मिला है। इसके वजह से खरीद शुरू नहीं सकी। कुछ ऐसा ही हाल ठोकवा में स्थापित क्रय केंद्र का है। यहां भी अभी तक धान की खरीद शुरू नहीं हो सकी है। केंद्र प्रभारी अजय का कहना है कि उन्हें अभी तक बोरा ही नहीं मिला, जिसके कारण खरीद शुरू नहीं हो सकी।

किसान बोले नहीं हो रही धान खरीद

किसान दिनेश पाल, रोहित यादव, राम नरेश चौधरी, कृष्ण बहादुरपुर पाल, सियाराम चौधरी, दीपक सिंह, परमेश्वर सिंह, प्रभुनाथ चौधरी, राजनरायन पाल, शिव प्रसाद आदि का कहना है कि बाढ़ व बरसात से धान की फसल का काफी नुकसान हुआ है, जो बचा है उसकी भी खरीद नहीं हो पा रही है। क्रय केंद्रों पर ताले लटक रहे हैं। केंद्र प्रभारी अपने दो चार लोगों का कागजों में धान खरीद कर अधिकारियों का गुमराह कर रहे हैं।

यहां स्थापित हैं धान क्रय केंद्र

कुदरहा ब्लाक में खाद्य विभाग द्वारा कुदरहा बाजार में ए व बी दो सेंटर, क्रय विक्रय द्वारा महुआपार कला, ठोकवा, कड़जा अजमतपुर, चिलवनिया में तथा डीसीएफ भिटिया, बगही उर्फ बेनीपुर गौरा धुंधा में, एसएस द्वारा बानपुर में क्रय केंद्र स्थापित किया गया है। इसके अलावा पीसीएफ द्वारा खखरा अमानाबाद, कपसौना सहित चार क्रय केंद्र स्थापित किए गए हैं। वहीं बहादुरपुर ब्लाक में खाद्य विभाग द्वारा कुसौरा बाजार में एक, डीसीएफ द्वारा सुकरौली व पकड़ी छब्बर में, एस एस द्वारा बहादुरपुर व कोठिला में, क्रय विक्रय द्वारा बहादुरपुर शुक्ल में, संघ द्वारा बेईली में तथा केंद्रीय उपभोक्ता भंडार द्वारा सिंघोरवा तथा मीतनजोत में क्रय केंद्र स्थापित किया गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.