इस जिले में होम आइसोलेशन के मरीजों तक लेखपाल पहुंचाएंगे मेडिकल किट Gorakhpur News

बस्‍ती जिले में जो कोरोना संक्रमित होम आइसोलेशन में रह रहे हैं उन्हें अब मेडिकल किट लेखपाल के माध्यम से उपलब्ध कराई जाएगी। यह निर्देश जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने दिया। वह विकास भवन सभागार में समीक्षा बैठक कर रही थी।

Rahul SrivastavaSun, 09 May 2021 04:30 PM (IST)
विकास भवन में कोविड संक्रमण को लेकर समीक्षा बैठक करतीं डीएम सौम्या अग्रवाल। जागरण

गोरखपुर, जेएनएन : बस्‍ती जिले में जो कोरोना संक्रमित होम आइसोलेशन में रह रहे हैं, उन्हें अब मेडिकल किट लेखपाल के माध्यम से उपलब्ध कराई जाएगी। यह निर्देश जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने दिया। वह विकास भवन सभागार में समीक्षा बैठक कर रही थी। उन्होंने पाया कि होम आइसोलेटेड सभी मरीजों को समय से मेडिकल किट उपलब्ध नहीं हो पा रही है।

दवाओं की कोई कमी नहीं

जिलाधिकारी ने सभी एमओआईसी को निर्देश दिया है कि छूटे हुए मरीजों की सूची संबंधित तहसीलों पर मरीजों के नाम, पता सहित उपलब्ध करा दें।  लेखपालों के माध्यम से छूटे हुए मरीजों को किट उपलब्ध करा दी जाएगी। कहा कि कोविड-19 के इलाज के लिए दवाओं की कोई कमी नहीं है। उन्होंने सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिया कि साऊंघाट स्थित ड्रग वेयरहाउस से जिंक, आईवरमेक्टीन, डाक्‍सीन, विटामिन सी, बी कांप्लेक्स, सैनिटाइजर, मास्क, सर्जिकल ग्लव्स प्राप्त कर लें। फील्ड में कार्य कर रहे कर्मचारियों को उपलब्ध कराएं। उन्होंने बताया कि सोडियम हाइपोक्लोराइड सीएमएसडी स्टोर में उपलब्ध है। कंटेनमेंट जोन में छिड़काव के लिए इसे भी प्राप्त कर लें। कुछ दवाओं एवं सामानों के लिए आनलाइन इंडेंट समय से भिजवाना सुनिश्चित करें। एनआरएलएम की महिला स्वयं सहायता समूह द्वारा तैयार कपड़े का मास्क सभी एमओआइसी को उपलब्ध कराया गया।

आरआरटी टीम, लैब टेक्नीशियन की उपलब्धता की हासिल की जानकारी

जिलाधिकारी ने ब्लाकवार समीक्षा करते हुए आरआरटी टीम तथा लैब टेक्नीशियन की उपलब्धता की जानकारी हासिल की। एमओआइसी द्वारा जानकारी दिए जाने पर जिलाधिकारी ने अलग से डाक्टर एवं लैब टेक्नीशियन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने पल्स आक्‍सीमीटर तथा इंफ्रारेड थर्मामीटर की उपलब्धता की समीक्षा की। एसीएमओ डा. सीके वर्मा ने बताया कि 50 पल्स आक्‍सीमीटर तथा 40 इंफ्रारेड थर्मामीटर नए खरीदे गए हैं, जो सभी टीमों को उपलब्ध कराया जा रहा है। जिलाधिकारी ने बताया कि मंडलायुक्त द्वारा बनकटी ब्लाक के कंटेनमेंट जोन का निरीक्षण किया गया, जिसमें काफी कमियां पाई गई हैं। सभी प्रभारी चिकित्साधिकारी अपने-अपने कंटेनमेंट जोन में प्रतिदिन सैनिटाइजेशन कराना, प्रभावित परिवारों को मेडिसिन किट उपलब्ध कराना, मरीजों की नियमित जांच एवं निगरानी किया जाना सुनिश्चित करें।

पर्याप्‍त मात्रा में है एंटीजन किट

डीएम ने कहा कि एंटीजन किट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। कोविड-19 के मरीजों के इलाज के दौरान तमाम डाक्‍टर एवं स्टाफ भी कोरोना पाजिटिव हो रहे हैं। इस स्थिति को देखते हुए जिलाधिकारी ने होम्योपैथ एवं आयुर्वेद विभाग के चिकित्सकों की ड्यूटी भी लगाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कैली ओपेक अस्पताल में चिकित्सा व्यवस्था को सही करने के लिए 10 सीएचओ एवं 20 स्टाफ नर्स की ड्यूटी लगाई है। जिलाधिकारी सौम्‍या अग्रवाल ने मरीज अथवा तीमारदार द्वारा फीडबैक देने के लिए सीएमएस कैली, एसआर हास्पिटल एंव श्रीकृष्णा मिशन हास्पिटल को निर्देशित किया है कि फीडबैक प्राप्त करने के लिए आइसीसीस फोन नंबर-05542-245699 को प्रत्येक कोविड एवं प्रिसंपटिव कोविड वार्ड में चस्पा कराएं। सीडीओ डा.राजेश कुमार प्रजापति, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नंदकिशोर लाल, डा.सोमेश श्रीवास्तव, डा. जीएम शुक्ला, उप जिलाधिकारी आनंद श्रीनेत, डा. आलोक कुमार, यूनिसेफ के आलोक राय, डा. सीके वर्मा, जगदीश शुक्ला, उपायुक्त मनरेगा इंद्रपाल सिंह, सुधीर यादव, उमेश, डा. अजय, राजा शेर सिंह आदि माैजूद रहे। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.