कुशीनगर में खेत में मिली शराब तो जिम्मेदार होंगे भू-स्वामी

कुशीनगर :शराब तस्करी रोकने के लिए बिहार बार्डर के थानों को ड्रोन कैमरे से लैस किए जाने के बाद पुलिस

JagranTue, 27 Jul 2021 04:00 AM (IST)
कुशीनगर में खेत में मिली शराब तो जिम्मेदार होंगे भू-स्वामी

कुशीनगर :शराब तस्करी रोकने के लिए बिहार बार्डर के थानों को ड्रोन कैमरे से लैस किए जाने के बाद पुलिस की नजर अब तस्करों के मददगारों पर है। पुलिस अब उन भू-स्वामियों को भी कार्रवाई के दायरे में लाएगी जिनके खेतों से शराब बरामद होगी। खेतों से शराब की खेप बरामद होने के बाद यह कदम उठाया गया है। पुलिस का मानना है कि मुख्य मार्ग पर बढ़ी चौकसी के चलते तस्कर वैकल्पिक मार्गों का सहारा लेकर इस धंधे को अंजाम दे रहे हैं। कुछ स्थानीय मददगारों के खेत व मकान का सहारा ले रहे हैं।

अप्रैल 2016 से बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। इसके बाद बिहार में शराब तस्करी का धंधा चोरी-छिपे होता है। बिहार सीमा से सटे खड्डा, हनुमानगंज, तरयासुजान, पटहेरवा, सेवरही थाना क्षेत्रों में मुख्य मार्ग पर बढ़ाई गई चौकसी के बाद तस्कर अब बिहार जाने वाले वैकल्पिक मार्गों के जरिये शराब की खेप बार्डर उस पार पहुंचा रहे हैं। इसमें स्थानीय लोगों की महत्वपूर्ण भूमिका सामने आई है। पता चला है कि तस्कर बार्डर के नजदीक मकान व निर्जन जगहों पर स्थित खेतों में शराब की खेप उतरवा कर बाइक व अन्य छोटे साधनों से बिहार भेज रहे हैं।

----

भट्ठा मालिक भी होंगे जिम्मेदार

अवैध शराब का निर्माण तथा बिक्री पर भी अंकुश लगाने को लेकर पुलिस सजग है। पुलिस अधिकारियों ने भट्ठा मालिकों को सूचित करा दिया है कि भट्ठे पर अवैध शराब बनाने तथा बिक्री की पुष्टि होने पर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कठोर कार्रवाई होगी।

----

शराब तस्करी पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए पुलिस प्रतिबद्ध है। जिन खेतों से शराब बरामद होगी उनके भू-स्वामी पर भी अब मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। इसी तरह जिस मकान से शराब बरामद की जाएगी उसके मालिक भी जिम्मेदार माने जाएंगे। शराब तस्करी से जुड़ी सूचना या फोटो कोई भी व्यक्ति मेरे निजी नंबर 7467000666 पर दे सकता है, उसकी पहचान गुप्त रखी जाएगी।

-सचिद्र पटेल, एसपी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.