बाहर से आने वाली ट्रेनों के यात्रियों की होगी जांच

विश्व में बढ़ते कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट ने लोगों को चिता में डाल दिया है। देश में भी इससे जुड़े दो मामले पकड़ में आ चुके हैं। इसको लेकर स्वास्थ्य महकमा चितित है। विदेशों से आने वालों पर विशेष निगाह रखी जा रही है। इसके अलावा गैर प्रांतों से आने वाले यात्रियों की कोरोना की जांच कराई जाएगी।

JagranPublish:Sat, 04 Dec 2021 05:27 PM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 05:27 PM (IST)
बाहर से आने वाली ट्रेनों के यात्रियों की होगी जांच
बाहर से आने वाली ट्रेनों के यात्रियों की होगी जांच

सिद्धार्थनगर : विश्व में बढ़ते कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट ने लोगों को चिता में डाल दिया है। देश में भी इससे जुड़े दो मामले पकड़ में आ चुके हैं। इसको लेकर स्वास्थ्य महकमा चितित है। विदेशों से आने वालों पर विशेष निगाह रखी जा रही है। इसके अलावा गैर प्रांतों से आने वाले यात्रियों की कोरोना की जांच कराई जाएगी। रेलवे एवं बस स्टेशन पर स्वास्थ्यकर्मियों की टीम तैनात होगी। यह टीम यात्रियों की कोरोना से जुड़ी एंटीजन जांच करेगी। सर्दी, जुकाम और बुखार होने पर संबंधित व्यक्ति को होम आइसोलेशन में रखा जाएगा। इनकी निगरानी आशा कार्यकर्ता एवं एएनएम नियमित करेंगी। संक्रमण से जुड़े लक्षण होने पर एक सप्ताह के अंदर इनकी आरटीपीसीआर जांच कराई जाएगी। रिपोर्ट पाजिटिव होने पर इन्हें जिला अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती किया जाएगा। कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है। अब तक 38 देश ओमिक्रोन की चपेट में आ चुके हैं। बाहर से आने वाले लोगों के जरिये कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट के फैलने का डर शासन- प्रशासन को सताने लगा है। संक्रमण रोकने के लिए तैयारियां पर खासा ध्यान दिया जा रहा है। टेस्ट, ट्रेसिग और ट्रीटमेंट पर जोर है। संक्रमण न फैले इसके लिए स्वास्थ्य विभाग बस- रेलवे स्टेशनों पर जांच शुरू करेगा।

टीम में यह होंगे शामिल

जांच टीम में एक चिकित्सक, लैब सहायक और एक पैरामेडिकल स्टाफ होंगे। यह रेलवे व बस स्टेशनों पर गैर प्रांत से आने वाले लोगों की एंटीजन जांच करेंगे। संदिग्ध होने पर उनका नाम, पता नोट करके उसकी सूचना नजदीक के चिकित्सा केंद्रों पर देंगे। वहां तैनात कर्मी इनकी एक सप्ताह तक निगरानी करेंगे। कोविड -19 से जुड़ा लक्षण मिलने पर आरटीपीसीआर जांच कराई जाएगी।

इन नियमों का करें पालन, संक्रमण से रहेंगे दूर

घर से बाहर निकलते समय मास्क लगाए रखें। कोई वस्तु छूने पर हाथ को साबुन से धुलें। सैनिटाइजर का प्रयोग भी करते रहें। एक दूसरे से दो गज की दूरी का पालन जरूर करें।

एसीएमओ व नोडल कोरोना डा. सौरभ चतुर्वेदी ने बताया कि कोरोना का संक्रमण न फैले इसके लिए व्यापक इंतजाम किया जा रहा है। बाहर से आए लोगों की जांच कराई जाएगी। रेलवे व बस स्टेशन पर विभागीय टीम कोरोना की जांच करेगी।