सीसी कैमरे की फुटेज में मां-बेटे को ले जाता दिखा युवक, हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही पुलिस

गोरखनाथ और राजघाट इलाके से दो महिलाएं क्रमश चार व पांच वर्षीय बेटों के साथ लापता हैं। पुलिस उनकी तलाा कर रही है। सीसी कैमरे की फुटेज में गोरखनाथ इलाके की एक महिला बाइक सवार युवक के साथ जाती दिख रही है।

Navneet Prakash TripathiSun, 19 Sep 2021 05:50 PM (IST)
बच्‍चों के साथ लापता दो महिलाओं का नहीं लगा सुराग। प्रतीकात्‍मक फोटो

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखनाथ पुलिस ने ग्रीन सिटी से मां-बेटे के लापता होने के मामले में एक युवक को हिरासत में लिया है। इससे पहले एक आटो चालक को हिरासत में लिया गया था।सीसी कैमरे की फुटेज में मां-बेटा को युवक अपनी बाइक से ले जाते हुए दिख रहा है।

चार वर्षीय बेटे के साथ 15 सितंबर से लापता है मां

ग्रीन सिटी निवासी अतुल अग्रवाल की पत्नी जूही उर्फ यासमीन फातिमा 15 सितंबर को अपने चार वर्षीय बेटे विनायक अग्रवाल के साथ घर से निकली, तबसे लापता है। अपहरण का केस दर्ज कर गोरखनाथ पुलिस सर्विलांस व सीसी कैमरा फुटेज की मदद से मां-बेटे की तलाश कर रही है। छानबीन में एक जगह बाइक से दोनों जाते हुए दिख रहे हैं।

जलभराव वाले इलाके से गुजरने के लिए महिला ने मांगी थी मदद

हिरासत में लिए गए युवक ने पूछताछ में बताया कि जलभराव वाले इलाके से गुजरते समय मदद मांगने पर उसने महिला व बच्‍चे को बाइक पर बैठा लिया था। युवक ने महिला के बारे में कोई भी जानकारी होने से इन्‍कार किया है। उसका दावा है कि महिला कहां की थी, कहां जाना था, इस बारे में उसे कुछ भी पता नहीं है। जलभराव वाले इलाके से गुजरने के बाद उसने मां-बेटे को बाइक से उतार दिया था। फिलहाल युवक से गोरखनाथ पुलिस की पूछताछ जारी है।

15 सितंबरको ही राजघाट इलाके से भी बच्‍चे के साथ गायब हुई थी महिला

15 सितंबर को ही राजघाट के रायगंज निवासी ओंकार प्रजापति की पत्नी राधिका अपने पांच वर्षीय बेटे समर के साथ लापता है। वह बसंतपुर में रहने वाली बुआ के घर जाने की बात कहकर घर से निकली थी। तभी से उसका कोई सुराग नहीं मिला। एसपी सिटी सोनम कुमार ने बताया कि बच्‍चे के साथ लापता हुईं महिलाओं की तलाश चल रही है। जल्द ही उन्हें बरामद कर लिया जाएगा।

डकैती के आरोपित की जमानत अर्जी खारिज

डकैती करने के आरोपित सीवान बिहार के धनौती के ग्राम धनौती मठ निवासी आरोपित लड्डन उर्फ रहमत अली की जमानत अर्जी जिला व सत्र न्यायाधीश तेज प्रताप तिवारी ने अपराध की गंभीरता को देखते हुए खारिज कर दी। अभियोजन पक्ष की ओर से जिला शासकीय अधिवक्ता यश पाल ङ्क्षसह का कहना था कि वादी संतोष कुमार सिंह गल्फ टेक्निकल इंस्टीट्यूट के नाम से आदर्श नगर सिंघडिया में कार्यालय खोलकर लोगों को कमीशन पर विदेश भेजने का काम करता है। 27 अक्टूबर 2020 को वादी अपने कार्यालय में मौजूद था। शाम करीब सात बजे चार की संख्या में अज्ञात बदमाश असलहा लेकर उसके कार्यालय में आए और उसके एजेंट को थप्पड़ मारकर मेज के दराज में रखा बाइस लाख रुपये तथा वादी और उसके एजेंट की चेन व मोबाइल छीन कर भाग गए। विवेचना के दौरान वादी के एजेंट पवन सिंह की घटना में संलिप्तता पाई गई और आरोपित लड्डन उर्फ रहमत का नाम प्रकाश में आया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.