अजब-गजब : कोरोना पाजीटिव नहीं हूं, गुटखा खाने की वजह से आ गई पाजीटिव रिपोर्ट..

गोरखपुर में कोविड सेंटर के कर्मचारी कांट्रैक्ट ट्रेसिंग में लगे हैं। - प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

गोरखपुर में कोविड सेल में लोगों की तरह-तरह की बातें सुनने को मिल रही हैं। खोराबार थाना क्षेत्र के एक क्षेत्र पंचायत सदस्य (बीडीसी) ने कर्मचारियों को बताया कि वह कोविड पाजिटिव नहीं हैं। मतगणना के दिन उन्होंने गुटखा खा लिया था इसलिए रिपोर्ट पाजीटिव आ गई थी।

Pradeep SrivastavaThu, 13 May 2021 12:50 PM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर में कोविड सेल में करीब दर्जन भर कर्मचारी कोरोना संक्रमित मरीजों से कांट्रैक्ट ट्रेसिंग जुटे हुए हैं। संक्रमण से पूर्व वह किसके संपर्क में आये थे। यहां लोगों की तरह-तरह की बातें सुनने को मिल रही हैं। कोई संक्रमण से पूर्व मिले लोगों के विषय में कुछ बताने को तैयार नहीं है। खोराबार थाना क्षेत्र के एक क्षेत्र पंचायत सदस्य (बीडीसी) ने कर्मचारियों को बताया कि वह कोविड पाजिटिव नहीं हैं। मतगणना के दिन उन्होंने गुटखा खा लिया था, इसलिए रिपोर्ट पाजीटिव आ गई थी। बाद में थर्मल स्कैनर व पल्स आक्सीमीटर से चेक कराया तो रिपोर्ट निगेटिव थी।

संक्रमितों की कांट्रैक्ट ट्रेसिंग में कर्मचारियों सुनने पड़ रहे उल्टे सीधे जवाब

उन्होंने कर्मचारियों से कहा कि ऐसे में यह बताने की क्या जरूरत कि पहले किससे मिला था किससे नहीं। कहकर फोन काट दिया। बाद में कर्मचारियों ने उन्हें फिर फोन लगाया। इस बार कोविड सेल में कार्यरत उपनिरीक्षक जयशंकर दूबे ने उन्हें समझाया कि थर्मल स्कैनर व पल्स आक्सीमीटर से कोविड टेस्ट नहीं होता है। उपनिरीक्षक ने उन्हें समझाया कि वह कोविड पाजीटिव हैं। आरटीपीसीआर से उनकी रिपोर्ट पाजीटिव आई है। ऐसे में वह खुद को होम आइसोलेशन में रखें। कोविड नियमों का पालन करें और समय-समय पर दवाएं लें। योग करें। घर पर ही ठीक हो जाएंगे।

अस्‍पताल जाने के नाम पर डर रहे हैं लोग

उपनिरीक्षक जयशंकर ने बताया कि बीडीसी का मामला इकलौता ऐसा नहीं है। यहां तो ऐसे मामले आते रहते हैं। उन्होंने बताया कि दो दिन पूर्व सहजनवां थाना क्षेत्र से भी एक व्यक्ति की कांट्रैक्ट ट्रेसिंग की गई तो वह भी खुद को कोरोना पाजीटिव मानने को तैयार नहीं थे। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट पाजीटिव होने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कर दिया जाएगा और अस्पताल से अच्छी खबरें नहीं आ रही हैं। उपनिरीक्षक ने उन्हें समझाया कि चिंता न करिए। आपको अस्पताल जाने की जरूरत नहीं है। आप घर पर रहकर ही ठीक हो सकते हैं। बशर्ते आप होम आइसोलेशन का पालन करें। कोविड नियमों पर ध्यान दें। योग करें। काढ़ा पीयें और नियमित दवाएं खाएं।

बीमार रहकर भी सिपाही ने की ड्यूटी

पुलिस लाइन स्थित कोविड सेल में पिछले चार दियों से चुनाव सेल में तैनात सिपाही धर्मेंद्र कुमार को बुखार था। लेकिन चुनाव के दौरान विवाद करने वालों की सूची तैयार करना और इसमें से कितने व्यक्तियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। कितनों की गिरफ्तारी बाकी है आदि को लेकर वह डाटा तैयार करने में जुटे थे। कार्यालय से कोई दबाव नहीं था। बावजूद इसके वह लोगों से शारीरिक दूरी अपनाते हुए ड्यूटी किये। चुनाव सेल के प्रभारी व पुलिस अधीक्षक यातायात आरएस गौतम ने कहा कि धर्मेंद्र ने ड्यूटी के दौरान लोगों से शारीरिक दूरी बनाकर रखी। लगातार मास्क पहने रहे। बुधवार से उन्हें अवकाश पर भेजा गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.