भानपुर तहसील क्षेत्र में फीका रहा स्वास्थ्य मेला, स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों पर नहीं पहुंचे मरीज

भानपुर तहसील क्षेत्र में मुख्यमंत्री जन आरोग्य स्वास्थ्य मेला फीका रहा। क्षेत्र के चारों प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में मरीजों की संख्या काफी कम रही। इसकी वजह प्रचार-प्रसार की कमी बताई जा रही है। चारों स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों पर 165 मरीजों का परीक्षण हुआ।

Navneet Prakash TripathiMon, 20 Sep 2021 11:05 AM (IST)
वाल्‍टरगंज प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र पर आयोजित सीएम जन आरोग्‍य स्‍वास्‍थ्‍य मेला। जागरण

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। भानपुर तहसील क्षेत्र में मुख्यमंत्री जन आरोग्य स्वास्थ्य मेला फीका रहा। क्षेत्र के चारों प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में मरीजों की संख्या काफी कम रही। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र परसा कुतुब में आयोजित मेले में डा.पीसी यादव,डा.पल्लवी, संजय कुमार,शेषमणि,भवानी शंकर,गायत्री देवी,मीना देवी की उपस्थिति में 35 मरीजों की सेहत जांची गई। अमरौली शुमाली में डा.संतोष कुमार,डा.मो.अफाक,गिरजेश चौधरी,प्रमोद चौधरी,प्रमोद यादव,जयंती गुप्ता व राजू की उपस्थिति में 50 मरीजों की जांच हुई।

करमहिया स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र पर 30 मरीजों का हुआ स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र करमहिया में डा. अमिश कुमार, डा. उमैना खातून, राम प्रकाश मौर्य, विवेक यादव व अंबिका प्रसाद की उपस्थिति में 30 व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सगरा में डा. कलाम, डा. संतोष गौड़, देवेंद्र कुमार की उपस्थिति में 50 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण हुआ। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र वाल्टरगंज में 28 मरीजों की सेहत जांची गई। डा. शिवांगी, डा. स्मिता, स्टाफ नर्स अनीता वर्मा, अंजलि, करुणेश द्विवेदी, अश्वनी, मनोज मौजूद रहे।

हरदी में मुख्यमंत्री जन आरोग्य स्वास्थ्य मेला लगा

जासं. दुबौला,बस्ती: हरदी पीएचसी में आयोजित मुख्यमंत्री जन आरोग्य स्वास्थ्य मेले में डा. ज्योति स्वरूप, डा. अनिल कुमार मिश्र ने मरीजों के स्वास्थ्य की जांच की। 75 मरीजों की जांच केंद्र पर हुई और उन्हें दवाएं भी दी गई। डा. ज्योति स्वरूप ने बताया वायरल फीवर के मामले सबसे अधिक आ रहे हैं। लोगों को इसको लेकर सतर्क रहना होगा। फार्मासिस्ट धर्मेंद्र चौधरी, एलटी अनिल गुप्ता, मौजूद रहे।

औपचारिकता में निपटा गया स्वास्थ्य मेला

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनकटी में मुख्यमंत्री जन आरोग्य स्वास्थ्य मेला का आयोजन औपचारिकता में निपट गया। मेला में आए लोग बैठने के लिए कुर्सी ढूंढ़ रहे थे। इलाज में मिलने वाली सुविधाएं भी कम दिखी। ओपीडी में डा.राजेश कुमार,डा.आनंद कुमार,डा. अनीता पाल मौजूद रहे। पैथालाजी में मुनिराम,संतोष कुमार,सुरेश पाल,फार्मासिस्ट पीसी पांडेय रहे। देईसांड़ निवासी अरविंद यादव,दिलीप चौधरी, गिरजेश चौधरी व बनकटी निवासी पिंटू पाल ने बताया कि मेले में न जांच हो पाई और न दवाएं ही मिलीं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.