DDU University Exam 2021: गोरखपुर विश्वविद्यालय की परीक्षाएं आज से, 213 केंद्रों पर देंगे दो लाख 46 हजार विद्यार्थी परीक्षा

DDU University Exam 2021 विश्वविद्यालय एवं सम्बद्ध महाविद्यालयों की वार्षिक DDU Exam 2021 परीक्षाओं की शुरूआत मंगलवार से हो रही है। 213 केंद्रों पर दो लाख 46 हजार विद्यार्थी इस परीक्षा में शामिल होंगे। विश्वविद्यालय प्रशासन ने आनलाइन मानिटरिंग के साथ साथ आनलाइन शिकायत सेल की स्थापना की है।

Pradeep SrivastavaTue, 27 Jul 2021 07:02 AM (IST)
गोरखपुर विश्वविद्यालय की परीक्षाएं मंगलवार से शुरू हो रही हैं।

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। DDU University Exam 2021: दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय एवं सम्बद्ध महाविद्यालयों की वार्षिक परीक्षाओं की शुरूआत मंगलवार से हो रही है। 213 केंद्रों पर दो लाख 46 हजार विद्यार्थी इस परीक्षा में शामिल होंगे। शुचिता के साथ परीक्षा कराने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने आनलाइन मानिटरिंग के साथ साथ आनलाइन शिकायत सेल की स्थापना की है। वार्षिक परीक्षा से जुड़ी किसी भी प्रकार की समस्या के लिए कोई भी विद्यार्थी, शिक्षक, मैनेजर और केंद्राध्यक्ष vco.exam.complain@gmail.com और 9453033996 पर शिकायत दर्ज करा सकेंगे।

कोविड प्रोटोकाल के साथ होगा परीक्षाओं का आयोजन, सीसीटीवी से रखी जाएगी केंद्रों पर नजर

परीक्षा की निगरानी कुलपति कार्यालय से की जाएगी। गलत शिकायत करने वाले के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। परीक्षाओं का आयोजन कोविड प्रोटोकाल के तहत किया जाएगा। सीसीटीवी कैमरे माध्यम से परीक्षा केंद्रों के निगरानी की व्यवस्था की गई है। परीक्षा कोविड प्रोटोकाल के साथ होगी।

शुचिता के साथ परीक्षा के लिए स्थापित हुई आनलाइन मानिटरिंग और शिकायत सेल

परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि सभी केंद्रों पर प्रश्नपत्र और उत्तरपुस्तिकाएं भेजी जा चुकी हैं। शुचितापूर्ण परीक्षाओं को लेकर केंद्रीय उड़ाका दल के साथ पांच क्षेत्रीय उड़ाका दलों का गठन किया गया है। पहली बार परीक्षा केंद्रों की आनलाइन निगरानी की जा रही है। इसे लेकर सभी महाविद्यालयों को अपने यहां सीसीटीवी कैमरा लगवाने का निर्देश पहले ही दिया जा चुका है।

सभी केंद्रों के सीसीटीवी कैमरा को विश्वविद्यालय के सेंट्रल आनलाइन मानिटरिंग सेल से जोड़ा गया है। वार्षिक परीक्षाओं के सकुशल आयोजन को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन ने विगत वर्षों के आधार पर कुछ संवेदनशील केंद्रों को भी चिन्हित किया है। उन केंद्रों की विश्वविद्यालय प्रशासन की विशेष नजर रहेगी।

दस मिनट तक नहीं चला कैमरा तो पहुंचेगा उड़ाका दल

आनलाइन मानिटरिंग सेल से अगर कोई महाविद्यालय 10 मिनट तक कनेक्ट नहीं होगा तो उस महाविद्यालय को चेतावनी दी जाएगी और तत्काल उड़ाका दल की टीम को केंद्र पर भेजा जाएगा। आनलाइन सेल और उड़ाका दल को नकल के पुख्ता सबूत मिलने पर केंद्र निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी।

परीक्षाओं के दौरान प्रश्न पत्र खोलने और उत्तर पुस्तिकाओं के सील होने तक की आनलाइन मानिटरिंग की जाएगी। महाविद्यालयों को परीक्षा शुरू होने से 30 मिनट पहले और बाद तक रिकार्डिंग सुरक्षित रखनी होगी। जरूरत के मुताबिक विश्वविद्यालय प्रशासन उस रिकार्डिंग को कभी भी मांग सकता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.