Gorakhpur Faizabad MLC Election Result: ध्रुव त्रिपाठी ने लगाई जीत की हैट्रिक, कहा- यह शिक्षकों की जीत

गोरखपुर-फैजाबाद खंड शिक्षक स्नातक क्षेत्र में जीत दर्ज करने वाले ध्रुव त्रिपाठी। - जागरण

गोरखपुर-फैजाबाद खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के 2020 के चुनाव में बाजी मारते हुए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के प्रत्याशी ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने जीत की हैट्रिक लगाई उन्होंने अपने निकतटम प्रतिद्वंद्वी अजय सिंह को पराजित किया।

Publish Date:Thu, 03 Dec 2020 09:58 AM (IST) Author: Pradeep Srivastava

गोरखपुरजेएनएन। गोरखपुर-फैजाबाद खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के 2020 के चुनाव में भी बाजी मारते हुए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के प्रत्याशी ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने जीत की हैट्रिक लगाई है। इस सीट पर लगातार तीन बार जीतने वाले वह पहले प्रत्याशी बन गए हैं। उन्होंने अपने निकतटम प्रतिद्वंद्वी अजय सिंह को 1935 मतों से पराजित किया। ध्रुव को 11154 जबकि अजय सिंह को 9219 वोट मिला। चुनाव का फैसला दूसरी वरीयता के मतों की गिनती के बाद हुआ। 16 में से 14 प्रत्याशी परिणाम की दौड़ से बाहर (एलिमिनेट) होते गए। नई पेंशन के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले निर्दल प्रत्याशी राजीव यादव ने 4529 मत हासिल करते हुए तीसरा स्थान प्राप्त किया है। चौथे स्थान पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अवधेश कुमार यादव रहे, उन्हें 2667 वोट मिले। मंडलायुक्त/ रिटर्निंग आफिसर जयंत नार्लिकर ने विजयी प्रत्याशी को प्रमाण पत्र प्रदान किया।

मतगणना प्रक्रिया गुरुवार की सुबह आठ बजे से कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हुई। दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के वाणिज्य संकाय भवन में सबसे पहले इस क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले 17 जिलों से यहां लायी गई मटपेटिका का मिलान किया गया, 50-50 की गड्डी बनाई गई। उसके बाद प्रथम वरीयता के मतों की गिनती शुरू हुई। शाम करीब सात बजे तक मतों की गिनती पूरी हुई। इसमें 1277 मत अवैध रहे। प्रथम वरीयता के मतों में ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने अजय सिंह पर 854 वोटों की बढ़त बना ली थी। इलेक्टोरल कोटा (कुल वैध मतों के 50 फीसद से एक वोट अधिक) के लिए जरूरी मत न पाने के कारण दूसरी वरीयता की गणना शुरू की गई। नीचे से 14 प्रत्याशियों अनिल कुमार गौतम, अनिल कुमार श्रीवास्तव, नागेंद्र दत्त त्रिपाठी, देशबंधु शुक्ला, लाल बहादुर यादव, अरुण सिंह, रमेश कुमार विमल, नागेंद्र प्रताप सिंह, विभ्राट चंद कौशिक, राम प्रताप राम, राम जन्म सिंह, नरेंद्र सिंह, अवधेश यादव व राजीव यादव परिणाम के दौर से बाहर (एलिमिनेट) हो गए। ध्रुव कुमार त्रिपाठी एवं अजय सिंह के बीच अंत तक कांटे की टक्कर जारी रही। सपा प्रत्याशी के दौड़ से बाहर होने तक ध्रुव त्रिपाठी 729 वोटों से आगे चल रहे थे। 

पहले राउंड में अजय सिंह ने बढ़ाई थी बढ़त

इसके पहले राउंड में भी अजय सिंह ने उनपर बढ़त बनाई थी। हालांकि अंतिम प्रत्याशी के मतों की गणना में ध्रुव त्रिपाठी ने एक बार फिर बढ़त बनाकर जीत का अंतर भी बढ़ा लिया। चुनाव आयोग के निर्देश के बाद अजय सिंह के मतों के द्वितीय वरीयता की गिनती भी करायी गई। शिक्षक एमएलसी के चुनाव के लिए एक दिसंबर को वोट डाले गए थे। पूरे क्षेत्र में 73.94 फीसद यानी करीब 28802 मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया था। करीब 22 घंटे तक चली मतगणना के दौरान अधिकतर समय तक मंडलायुक्त जयंत नार्लिकर, जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पाण्डियन, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सदर गौरव सिंह सोगरवाल, अपर आयुक्त प्रशासन अजयकांत सैनी, एडीएम सिटी राकेश कुमार श्रीवास्तव व एडीएम वित्त एवं राजस्व राजेश कुमार सिंह उपस्थित रहे।

इस चुनाव में लड़ाई काफी कठिन रही। इलेक्टोरल कोटा 27525 मतों का था और इसके अनुसार जीत के लिए 13763 वोट पाने थे। पर, दूसरी वरीयता के मतों की गिनती में भी मतों के बिखराव के कारण कोई प्रत्याशी इस आंकड़े तक नहीं पहुंच सका। इसलिए प्रत्याशियों के एलिमिनेट होने के बाद सबसे अधिक मत पाने वाले को विजेता घोषित किया गया।

रात भर जागते रहे समर्थक

निर्णायक लड़ाई में बने रहे ध्रुव त्रिपाठी एवं अजय सिंह के समर्थक रात भर जागते रहे। जैसे-जैसे ध्रुव मतों की गिनती समाप्ति की ओर जा रही थी थी ध्रुव के समर्थकों में उत्साह बढ़ता जा रहा था। गोरखपुर विश्वविद्यालय के कर्मचारी संघ भवन में उन्होंने अस्थायी ठिकाना बना रखा था। वहीं अजय सिंह के समर्थकों के चेहरे पर निराशा देखी गई। अंतिम दौर की गिनती पूरी होते-होते अजय सिंह मतगणना स्थल से निकल गए।

यह शिक्षकों की जीत है : ध्रुव कुमार त्रिपाठी

जीत के बाद ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने कहा कि यह शिक्षकों की जीत है और शिक्षक विरोधी ताकतें परास्त हुुई हैं। शिक्षक समुदाय पूरे प्रदेश में रणनीति बनाकर शिक्षकों के हित में काम करेगा। वित्तवहीन शिक्षकों एवं नई पेंशन योजना के तहत नियुक्ति पाने वाले शिक्षकों को साधते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी शिक्षकों को समान कार्य का समान वेतन एवं पुरानी पेंशन दिलाने की व्यवस्था की जाएगी। शिक्षक एमएलसी ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने सभी शिक्षकों को मेडिकल सुविधा दिलाने की बात भी कहीं।

प्रथम एवं द्वितीय वरीयता के मतों की गिनती के बाद प्रत्याशियों को मिले वोट

अवधेश कुमार यादव 2667

नागेंद्र दत्त त्रिपाठी 131

अजय सिंह 9219

अनिल कुमार गौतम 59

अनिल कुमार श्रीवास्तव 60

अरुण सिंह 235

देशबंधु शुक्ला 211

ध्रुव कुमार त्रिपाठी 11154

नरेंद्र सिंह 1607

नागेंद्र प्रताप सिंह 519

रमेश कुमार विमल 241

राजीव यादव 4529

राम प्रताप राम 610

राम जन्म सिंह 653

लाल बहादुर यादव 232

विभ्राट चंद कौशिक 553

कुल पड़े वोट 28802

अवैध मत एवं एलिमिनेट प्रत्याशी को मिले दूसरी वरीयता के वोट 9356

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.