शातिर अपराधी त्रिभुवन समेत तीन पर गैंगस्‍टर की कार्रवाई Gorakhpur News

अपराध के संबंध में प्रतीकात्‍मक फाइल फोटो।

शातिर बदमाश त्रिभुवन माफिया परवेज टांडा का साथी रहा है। उसके ऊपर हत्या लूट गैंगस्टर जाली करेंसी सहित 30 मुकदमे दर्ज हैं। त्रिभुवन नेपाल से हवाला के धंधे में भी जुड़ा है। जबकि उसका दूसरा साथी दीपक कुमार निभानी चेन स्नेचर है।

Satish chand shuklaWed, 20 Jan 2021 11:51 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। लूट के लिए प्रधानाध्‍यापिका की हत्‍या करने वाले शातिर बदमाश त्रिभुवन, दीपक निभानी व नेपाल के रहने वाले साथी पर शाहपुर पुलिस ने गैंगस्‍टर की कार्रवाई की है। शाहपुर थानेदार ने सोमवार की रात में बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। तीनों बदमाश इस समय जेल में है।

लूट में असफल होने पर कर दी थी प्रधानाध्‍यापिका की हत्‍या 

20 सितंबर 2020 को प्रधानाध्‍यापिका डेविना मेजर उर्फ निवेदिता अपनी बेटी डेलसिया के साथ स्कूटी से घर जा रहीं थीं। स्कूटी डेविना चला रहीं थीं जबकि बेटी पीछे बैठी थी। इसी दौरान त्रिभुवन सिंह निवासी काजीपुर, चिलुआताल और दीपक निभानी निवासी आवास विकास, बरगदवां बाइक से काफी तेजी से आए। त्रिभुवन बाइक चला रहा था पीछे बैठे दीपक ने निवेदिता की चेन छीन ली लेकिन उन्‍होंने बदमाश को पकड़ लिया। साथी को छुड़ाने के लिए त्रिभुवन ने मां-बेटी पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। वारदात के बाद बदमाश फरार हो गए। गंभीर रुप से घायल मां - बेटी को स्‍थानीय लोग मेडिकल कालेज ले गए। जहां डाक्‍टरों ने निवेदिता को मृत घोषित कर दिया था।

काफी मशक्‍कत के बाद हुई थी गिरफ्तारी

प्रधानाध्‍यापिका डेलसिया हत्‍याकांड पुलिस के लिए चुनौती बन गई थी। इसके लिए पुलिस को काफी मशक्‍कत करनी पड़ी। काफी प्रयास के बाद सीसी टीवी फुटेज व सर्विलांस की मदद से पुलिस ने त्रिभुवन और दीपक के साथ ही उन्‍हें शरण देने वाले नेपाल के कपिलवस्‍तु जिला के तौलिहवा निवासी अकबर हुसैन को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

परवेज टांडा का साथी रहा है त्रिभुवन

शातिर बदमाश त्रिभुवन माफिया परवेज टांडा का साथी रहा है। उसके ऊपर हत्या, लूट, गैंगस्टर, जाली करेंसी सहित 30 मुकदमे दर्ज हैं। त्रिभुवन नेपाल से हवाला के धंधे में भी जुड़ा है। जबकि उसका दूसरा साथी दीपक कुमार निभानी चेन स्नेचर है। हरियाणा की शराब तस्करी के मामले में वह पहले भी सहजनवां पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। नेपाल का रहने वाला अकबर हुसैन बदमाशों को अपने यहां शरण देता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.