Gorakhpur Weather News: गोरखपुर में टूटा 14 वर्षों का रिकार्ड, मई के पहले पखवारे में हुई सर्वाधिक बारिश

गोरखपुर में पिछले कई दिनों से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। - जागरण

​​​​​Gorakhpurweatherforecast मई में बुधवार की शाम तक कुल 62.6 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है जो प्राप्त आंकड़ों के अनुसार बीते 14 वर्ष में मई के पहले पखवारे की सर्वाधिक है। औसत बारिश की बात करें तो इस बार की बारिश उस आंकड़े से काफी आगे निकल चुकी है।

Pradeep SrivastavaThu, 13 May 2021 06:45 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। बीते पांच दिन से गरज-चमक के साथ रुक-रुक कर हो रही बारिश ने मई के पहले 12 दिन में ही पखवारे भर का कोटा पूरा कर दिया है। मई में बुधवार की शाम तक कुल 62.6 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है, जो प्राप्त आंकड़ों के अनुसार बीते 14 वर्ष में मई के पहले पखवारे की सर्वाधिक है। औसत बारिश की बात करें तो इस बार की बारिश उस आंकड़े से काफी आगे निकल चुकी है। मई के पहले पखवारे के औसत बारिश का आंकड़ा 45 मिलीमीटर ही है।

गरज-चमक के साथ बीते पांच दिन से जारी है रुक-रुक कर बारिश का सिलसिला

मौसम विशेषज्ञ कैलाश पांडेय के मुताबिक बीते पांच दिन से हो रही बारिश की वजह जम्मू के ऊपर पिछले दिनों बने पश्चिमी विक्षोभ का तिब्बत की ओर बढ़ने के क्रम में पूर्वी उत्तर प्रदेश की ओर से गुजरना है। इसके अलावा राजस्थान से लेकर उत्तर प्रदेश और बिहार होते हुए नागालैंड तक निम्न वायुदाब की एक पट्टी भी मौजूद है, जो बारिश के लिए पश्चिमी विक्षोभ की मददगार बनी हुई है। चूंकि यह वायुमंडलीय परिस्थितियां अपनी सक्रियता के चरम पर हैं, इसलिए पूर्वी उत्तर प्रदेश में पहाड़ों सा वातावरण बन गया है। 

पश्चिमी विक्षोभ ने कराया पूर्वी उत्तर प्रदेश में पहाड़ों से मौसम का अहसास

पश्चिमी विक्षोभ को पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के उत्तरी हिस्से से आगे निकलने में अभी दो दिन लग सकता है, ऐसे में बारिश की स्थिति इसी तरह अभी दो दिन और बनी रहेगी। बुधवार की सुबह भी बारिश के साथ ही हुई। पहले आसमान में इस कदर बादल छाए कि सुबह शाम जैसी दिखने लगी। कुछ ही देर वह बादल गरजते बादलों और चमकती बिजली के साथ तेज बारिश के रूप में जमीन पर उतर पड़े। करीब आधे घंटे बाद बारिश तो थम गई लेकिन बादल देर रात तक जमे रहे और बारिश का माहौल बना रहा।

बारिश से हुई बुधवार की शुरुआत व समापन, गुरुवार को निकली चमकीली धूप

बुधवार को शुरुआत और समापन दोनों बारिश के साथ ही हुआ। सुबह होते ही आसमान में काले बादल छा गए और करीब आधे घंटे बारिश हुई। इसी तरह रात 11 से 12 बजे के बीच भी तेज हवा के साथ करीब आधे से पौन घंटे तेज बारिश हुई। हालांकि बुधवार की देर रात होने वाली बारिश से वातावरण साफ हो जाने से गुरुवार की सुबह से ही चमकीली धूप निकल गई है लेकिन तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से अधिक नहीं बढ़ सकता है। ऐसे में लोगों को गर्मी का अहसास नहीं हो रहा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.