तीन उम्मीदवारों के पर्चे निरस्त,अध्यक्ष समेत विभिन्न पदों पर 47 उम्मीदवार

बस्ती में शिवहर्ष किसान पीजी कालेज (केडीसी) व अंबिका प्रताप नारायन पोस्ट ग्रेजुएट कालेज (एपीएन) में छात्रसंघ चुनाव में एक दिसंबर को नामांकन वापसी के साथ ही उम्मीदवारों की फाइनल सूची जारी कर दी गई है। दोनों महाविद्यालयों में अध्यक्ष समेत विभिन्न पदों के लिए 47 उम्मीदवार मैदान में हैं।

Navneet Prakash TripathiFri, 03 Dec 2021 07:05 AM (IST)
नामांकन निरस्‍त होने पर शिव हर्ष किसान डिग्री कालेज में धरना देते छात्र। जागरण

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। बस्ती में शिवहर्ष किसान पीजी कालेज (केडीसी) व अंबिका प्रताप नारायन पोस्ट ग्रेजुएट कालेज (एपीएन) में छात्रसंघ चुनाव में एक दिसंबर को नामांकन वापसी के साथ ही उम्मीदवारों की फाइनल सूची जारी कर दी गई है। दोनों महाविद्यालयों में अध्यक्ष समेत विभिन्न पदों के लिए कुल 47 उम्मीदवार मैदान में हैं। एपीएन में किसी भी उम्मीदवार ने नाम वापस नहीं लिया,जबकि केडीसी में तीन उम्मीदवारों की सूची निरस्त कर दी गई, इसको लेकर नाराज छात्रनेताओं ने चुनाव में लगे अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कालेज गेट पर धरना शुरू कर दिया। दूसरी तरफ एहतियात के तौर पर कालेज गेट पर पुलिस कर्मी तैनात कर दिए गए हैं।

गलत तरीके से सूची निरस्‍त करने का आरोप

छात्र नेताओं ने कहा कि सूची गलत तरीके से निरस्त की गई है, इसकी जानकारी पहले नहीं दी गई थी। आरोप लगाया कि कुछ लोगों के दबाव में सूची निरस्त की गई है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के संगठनमंत्री शिवानंद, विभाग संयोजक अर्मत्य सुंदरम अमित गोंड, विपिन त्रिपाठी, सचिन सिंह, अतुल भट्ट, सलमान, शिवम प्रताप सिंह, सुयश प्रताप सिंह, आदि छात्र नेताओं का कहना था कि जानबूझ कर सूची निरस्त की गई है। प्रवेश सही तरीके से उन तीनों छात्रनेताओं का हुआ है। फिलहाल दोनों महाविद्यालयों में नामांकन की प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है।

अंतिम सूची का हुआ प्रकाशन

केडीसी में अध्यक्ष समेत छह पदों के लिए वोट डाले जाएंगे, जबकि एपीएन में सात पदों पर वोट डाले जाएंगे। दोनों महाविद्यालयों में नामांकन पत्रों की वापसी 11 बजे से 1.30 बजे तक हुई। उसके बाद अंतिम सूची प्रकाशित कर दी गई। सात दिसंबर को सुबह नौ बजे से 1.30 बजे तक मतदान होगा। दो बजे से मतगणना होगी और चुनाव परिणाम भी उसी दिन जारी कर दिए जाएंगे।

किसी ने वापस नहीं लिया नामांकन

एपीएन पीजी कालेज के मुख्य चुनाव अधिकारी डा. राजेंद्र बौद्ध ने बताया कि जितने उम्मीदवार नामांकन किए थे, वह सभी मैदान में हैं। किसी ने भी नामांकन वापस नहीं लिया। अध्यक्ष पद के लिए नौ उम्मीदवार अंशुल चौधरी, करन चौधरी, शिवम श्रीवास्तव, अंकुर पांडेचय, आदित्य विक्रम सिंह, आशुतोष तिवारी, दिनेश त्रिपाठी, जीशान फारूकी व दिनेश कुमार, उपाध्यक्ष पद के लिए अखिलेश यादव, मो. मोहसिन व देवेंद्र कुमार, महामंत्री पद के लिए सुजीत कुमार, मो. हारिस व शिवम तिवारी, पुस्तकालय मंत्री के लिए मनोज कुमार चौधरी, निखिल भास्कर, मो. एहसानुल्लाह, कृष्ण चौधरी व मो. आलम, कला संकाय प्रतनिधि के लिए राज कुमार, ओसामा, आजाद व वसुधा चौधरी, वाणिज्य संकाय प्रतिनिधि के लिए देवांश पांडेय, नदीम अहमद खान, देवव्रत मिश्र, अनुद्रास पांडेय, विधि संकाय प्रतिनिधि के लिए ज्ञानेंद्र चौधरी, शिवा सिंह, अमर कुमार, अखिलेश कुमार, विनोद कुमार शुक्ल ने नामांकन किया।

शांतिपूर्ण ढंग से कराया जाएगा चुनाव

एपीएन के प्राचार्य डा.एपी सिंह ने बताया कि चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से कराए जा रहे हैं। मो. हारिस सिद्दीकी, डा. सुरेंद्र कुमार सिंह, डा. फूलदेव, लालमणि, सुभाष मौर्य, डा. रघुनाथ चौधरी, डा. एपी शुक्ल, डा. ए एन भारती, कृष्ण मोहन श्रीवास्तव, सूर्य प्रताप सिंह आदि ने सहयोग किया।

गलतियों पर की निरस्‍त किए गए पर्चे

केडीसी के मुख्य चुनाव अधिकारी डा. गोपाल जी कुशवाहा ने बताया कि अध्यक्ष पद के लिए अमित गोंड विक्की, अखिलेश भट्ट अतुल, सुयश प्रताप सिंह की सूची निरस्त की गई है। अब अध्यक्ष पद के लिए अमित कुमार विक्की, उज्जवल पांडेय व आशुतोष दूबे, उपाध्यक्ष पद के लिए प्रशांत पांडेय, अजय कुमार पाल, विकास चौधरी, अंशी देवी, सुधीर मिश्र, मनोज कुमार यादव, महामंत्री पद के लिए आयुष पांडेय, राहुल चौधरी, अमर पांडेय, पुस्तकालय मंत्री पद के लिए सूरज कुमार शुक्ल, दशरथ नंदन मिश्र मैदान में हैं। प्राचार्य डा. रीना पाठक ने बताया कि चुनाव का मुख्य उद्देश्य महाविद्यालय में शैक्षणिक वातावरण का विकास करना है। चुनाव नियमानुसार कराए जा रहे हैं। जिन उम्मीदवारों की सूची निरस्त की गई है, उनमें खामियां मिली थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.