गोरखपुर एयरपोर्ट टर्मिनल के लिए नागरिक उड्डयन मंत्री से मिले पूर्व मंत्री शिव प्रताप शुक्‍ल

Former Minister Shiv Pratap Shukla ने गोरखपुर एयरपोर्ट टर्मिनल के निर्माण के लिए केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य स‍िंध‍िया से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान उन्होंने केंद्रीय मंत्री को बताया कि टर्मिनल के लिए भूमि पूजन के बाद से आज तक वहां एक ईंट भी नहीं रखी जा सकी है।

Pradeep SrivastavaPublish:Tue, 30 Nov 2021 11:04 AM (IST) Updated:Wed, 01 Dec 2021 08:32 AM (IST)
गोरखपुर एयरपोर्ट टर्मिनल के लिए नागरिक उड्डयन मंत्री से मिले पूर्व मंत्री शिव प्रताप शुक्‍ल
गोरखपुर एयरपोर्ट टर्मिनल के लिए नागरिक उड्डयन मंत्री से मिले पूर्व मंत्री शिव प्रताप शुक्‍ल

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। Former Minister Shiv Pratap Shukla: गोरखपुर एयरपोर्ट टर्मिनल के जल्द निर्माण के लिए राज्यसभा सदस्य शिव प्रताप शुक्ल ने नई दिल्ली में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य स‍िंध‍िया से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान उन्होंने केंद्रीय मंत्री को बताया कि टर्मिनल के लिए भूमि पूजन तो 28 मार्च मार्च 2021 को ही हो गया लेकिन उसके बाद से आज तक वहां एक ईंट भी नहीं रखी जा सकी है। यह दुखद है।

नागरिक उड्डयन मंत्री ने द‍िया आश्‍वासन

राज्यसभा सदस्य ने यह भी बताया कि गोरखपुर के यात्रियों के माध्यम से एयरपोर्ट अथारिटी को हर महीने एक करोड़ रुपये से अधिक की आमदनी होती है जबकि सुविधा के नाम पर यात्री ठगा सा महसूस करता है। यह बात उन्हें कई यात्रियों ने ही बताई है। यात्रियों ने उनसे यह आग्रह भी किया है कि सुविधा का ध्यान रखते हुए जल्द से जल्द टर्मिनल का विस्तार किया जाए। राज्यसभा सदस्य के अनुसार नागरिक उड्डयन मंत्री ने टर्मिनल के जल्द से जल्द निर्माण का आश्वासन दिया। साथ ही सचिव को यह निर्देश भी दिया कि गोरखपुर सिविल एयरपोर्ट का जल्द से जल्द निर्माण कराया जाए ताकि यात्रियों को बेहतर से बेहतर सुविधा मिल सके।

बदल जाएगी एयरपोर्ट की सूरत

नया कार्य पूरा होने के बाद एयरपोर्ट की सूरत बदल जाएगी। अभी यह टर्मिनल 1890 वर्गमीटर में है। विस्तारीकरण के बाद इसका दायरा बढ़कर 3440 वर्गमीटर हो जाएगा। ऐसे में इसमें यात्रियों के बैठने की क्षमता भी बढ़ जाएगी। अबतक इसमें 100 यात्री बैठते हैं। विस्ताकरण के बाद 200 यात्री बैठ सकेंगे।

दो तल का होगा नया टर्मिनल तल

नया टर्मिनल दो तल में होगा। डिपार्चर हाल मे 10 चेक इन काउंटर बनाएं जाएंगे जबकि अराइवल हाल मे सामान लेने के लिए दो बेल्ट की व्यवस्था होगी। नया टर्मिनल लिफ्ट, एस्केलेटर आदि से सुविधाओं से भी सुसज्जित होगा। इसमें यात्रियों की सुविधा के लिए रेस्तरां व शांपिंग के लिए दुकानों का भी इंतजाम रहेगा।