गोरखपुर पुल‍िस की कड़ी कार्रवाई, भू-माफिया पर दर्ज हुए 16 मुकदमे- 25 हजार का इनाम भी घोष‍ित

गोरखपुर के भू-माफिया ओमप्रकाश पांडेय समेत तीन पर कैंट पुलिस ने जालसाजी कर रुपये हड़पने का केस दर्ज किया है। 25 हजार रुपये का इनामी ओमप्रकाश दो माह से फरार चल रहा है। उसके खिलाफ कैंट थाने में जालसाजी कर रुपये हड़पने के 23 मुकदमे दर्ज हैं।

Pradeep SrivastavaPublish:Tue, 30 Nov 2021 07:46 AM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 03:17 PM (IST)
गोरखपुर पुल‍िस की कड़ी कार्रवाई, भू-माफिया पर दर्ज हुए 16 मुकदमे- 25 हजार का इनाम भी घोष‍ित
गोरखपुर पुल‍िस की कड़ी कार्रवाई, भू-माफिया पर दर्ज हुए 16 मुकदमे- 25 हजार का इनाम भी घोष‍ित

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। भू-माफिया ओमप्रकाश पांडेय समेत तीन पर कैंट पुलिस ने जालसाजी कर रुपये हड़पने का केस दर्ज किया है। 25 हजार रुपये का इनामी ओमप्रकाश दो माह से फरार चल रहा है। उसके खिलाफ कैंट थाने में जालसाजी कर रुपये हड़पने के 23 मुकदमे दर्ज हैं।

यह है मामला

नंदानगर के चंद्रभूषण गुप्ता चार फाटक के पास इलेक्ट्रानिक्स की दुकान चलाते हैं। कैंट पुलिस को दी तहरीर में उन्होंने लिखा है कि मोहद्दीपुर चार फाटक रोड निवासी ओम प्रकाश पांडेय व संजय पांडेय से परिवार के सात सदस्यों ने जमीन खरीदी है। छह की रजिस्ट्री हुई है। एक का एग्रीमेंट कराया गया है। ओम प्रकाश ने महादेव झारखंडी टुकड़ा नंबर दो में जमीन देने के नाम पर 10 लाख रुपये ले लिए।जब रजिस्ट्री करने की बात कही गई तो ओम प्रकाश व उसके साथी संजय पांडेय आनाकानी करने लगे।दबाव देने पर जान से मारने की धमकी देने लगे।कैंट पुलिस केस दर्ज कर जांच कर रही है।

फरार भू-माफिया पर घोषित है 25 हजार का इनाम

ढाई माह के भीतर बिहार, देवरिया व कुशीनगर जिले के रहने वाले 16 पीडि़त कैंट थाने में ओमप्रकाश पांडेय व उसके साथियों के खिलाफ कूटरचित दस्तावेज तैयार कर जालसाजी करने और रुपये हड़पने का केस दर्ज करा चुके हैं। प्रभारी निरीक्षक कैंट ने 23 अगस्त को उसके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की थी। जिसमें उसके ऊपर 25 हजार का इनाम घोषित है।एसएसपी डा. विपिन ताडा ने बताया कि ओमप्रकाश की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

अवैध कच्ची शराब बनाने के आरोपित की जमानत अर्जी खारिज

गोरखपुर।कच्ची शराब बनाने के आरोप में अपर सत्र न्यायाधीश संतोष कुमार गौतम ने बेलघाट थाना क्षेत्र के ग्राम नरगड़ाजंगा सिंह निवासी आरोपित लाल जी केवट की जमानत अर्जी अपराध की गंभीरता को देखते हुए खारिज कर दी। अभियोजन पक्ष की ओर से सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता धर्मेन्द्र कुमार मिश्र एवं राम प्रकाश सिंह का कहना था कि 15 अगस्त 2021 को वादी उप निरीक्षक रामजी गुप्ता को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम नरगड़ा जंगा सिंह के बाहरी तरफ दियारा क्षेत्र के निकट घाघरा नदी के किनारे कुछ लोगों द्वारा अवैध कच्ची शराब बनाई जा रही है।

सूचना पर विश्वास कर पुलिस मौके पर पहुंचकर दो लोगों को अवैध शराब बनाते हुए गिरफ्तार कर ली।पूछ ताछ में एक ने अपना नाम संजय तथा दूसरे ने अमिताव बताया। तीसरा व्यक्ति वहां से फरार हो गया। तलाशी के दौरान मौके पर गिरफ्तार आरोपितों के पास से चार प्लास्टिक के गैलन में 60 लीटर तरल पदार्थ,नौशादर और यूरिया बरामद हुआ। गिरफ्तार आरोपितों के बताने से लालजी केवट का नाम प्रकाश में आया।