Gorakhpur Coronavirus Updates: गोरखपुर में पांच संक्रमितों की मौत, 522 नए लोग हुए पॉजिटिव

गोरखपुर में कोरोना संक्रमित पांच लोगों की मौत हो गई है। - प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

बाबा राघव दास मेडिकल कालेज में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमित पांच मरीजों की मौत हो गई।इसमें से चार गोरखपुर के हैं। जिले में पहली बार 522 संक्रमित मिले हैं। यह अब तक की सबसे बड़ी संख्या है। गोरखपुर में अब तक 24396 लोग संक्रमित हो चुके हैं।

Pradeep SrivastavaTue, 13 Apr 2021 07:55 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। जिले में पहली बार 522 संक्रमित मिले हैं। यह अब तक की सबसे बड़ी संख्या है। साथ ही बाबा राघव दास मेडिकल कालेज में पांच संक्रमितों की मौत हो गई है, इसमें से चार गोरखपुर के हैं। लेकिन पोर्टल पर मौतों की संख्या अपलोड न होने से स्वास्थ्य विभाग ने मृतकों की संख्या शून्य जारी की है।

एम्स में छात्र व डाक्टर समेत 13 में मिला संक्रमण

संक्रमितों में 284 शहर के हैं। इनमें एम्स के छात्र व डाक्टर समेत 13 मरीज शामिल हैं। जिले में एक बच्चा भी संक्रमित मिला है। अब तक 24396 लोग संक्रमित हो चुके हैं। 21540 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। 374 लोगों की मौत हो चुकी है। 2482 सक्रिय मरीज हैं। सीएमओ डा. सुधाकर पांडेय ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने कोविड से बचाव के नियमों का पालन करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि कोरोना भयानक रूप धारण करता जा रहा है। बचाव के हथियार से ही इसे हराया जा सकता है।

इनकी हुई मौत

शहर के बशारतपुर निवासी 67 वर्षीय व्यक्ति, तिवारीपुर की रहने वाली 76 वर्षीय महिला, राप्ती नगर निवासी 81 वर्षीय व्यक्ति व गोरखनाथ क्षेत्र के 35 वर्षीय युवक बीआरडी मेडिकल कालेज के कोरोना वार्ड में भर्ती थे। सोमवार को उनकी मौत हो गई। इसी वार्ड में भर्ती देवरिया के न्यू कालोनी निवासी एक महिला की भी मौत हुई है। सभी के शव कोविड प्रोटोकाल के तहत स्वजन को सौंप दिए गए।

13128 लोगों ने लगवाया कोरोना का टीका

कोविड टीकाकरण उत्सव के दूसरे दिन सोमवार को 126 बूथों पर 13128 लोगों को टीका लगाया गया। जबकि हर बूथ पर कम से कम 100 लोगों को लगाने का लक्ष्य रखा गया था। सौ फीसद से अधिक टीकाकरण हुआ। इसमें 11833 को पहली व 1295 को दूसरी डोज लगाई गई। टीकाकरण सुबह 10 बजे शुरू हुआ। बूथों पर उत्सव व उल्लास का माहौल था। बड़ी संख्या में लोगों ने लाइन में खड़े होकर अपनी बारी आने पर टीका लगवाया। हर जगह वैक्सीन व इमरजेंसी दवाओं की किट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध थी। बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच लोगों में टीकाकरण के प्रति जागरूकता आई है। बड़ी संख्या में लोग स्वेच्छा से बूथों पर पहुंचे। टीका लगवाने के बाद उन्हें आब्जर्वेशन कक्ष में डाक्टरों की निगरानी में 30 मिनट बैठाया गया। शाम तक किसी की तबीयत खराब नहीं हुई।अधिकारियों ने किया निरीक्षण

टीकाकरण बूथों का अधिकारियों ने निरीक्षण किया। सीएमओ डा. सुधाकर पांडेय व जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. एनके पांडेय ने जिला अस्पताल, प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा. माला कुमारी सिन्हा ने जिला महिला अस्पताल व प्राचार्य डा. गणेश कुमार ने बीआरडी मेडिकल कालेज के बूथ का निरीक्षण कर व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने वैक्सीनेटर काे मानक के अनुसार वैक्सीन लगाने का निर्देश दिया। कहा कि 45 वर्ष से नीचे के लोगाें को टीका न लगाया जाए। जिनका पंजीकरण नहीं है, मौके पर पंजीकरण कर टीका लगाया जाए।

126 बूथों पर टीकाकरण किया गया है। लक्ष्य से अधिक लोग बूथों पर पहुंचे, सभी को टीका लगाया गया। उत्सव व उल्लास का माहौल था। किसी की तबीयत खराब होने की सूचना नहीं है। वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित और असरदार है। हर व्यक्ति को इसे लगवाना चाहिए। - डा. सुधाकर पांडेय, सीएमओ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.