TET Paper Leak Case: गोरखपुर में शिक्षक समेत पांच गिरफ्तार

यूपीटीईटी परीक्षा में अभ्यर्थियों से मोटी रकम लेकर पेपर आउट करने तथा आंसर शीट उपलब्ध कराने के मामले में बस्ती से भी पांच आरोपित पकड़े गए हैं। इसमें एक प्राथमिक विद्यालय का शिक्षक बताया गया है। एंटी नारकोटिक्स व लालगंज पुलिस की संयुक्त टीम उनसे पूछताछ की।

Navneet Prakash TripathiTue, 30 Nov 2021 07:04 PM (IST)
टीईटी परीक्षा का पेपर लीक करने वालेे आरोपितों को पुलिस ने मीडिया के सामने पेश किया। जागरण

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। यूपीटीईटी परीक्षा में अभ्यर्थियों से मोटी रकम लेकर पेपर आउट करने तथा आंसर शीट उपलब्ध कराने के मामले में बस्ती से भी पांच आरोपित पकड़े गए हैं। इसमें एक प्राथमिक विद्यालय का शिक्षक बताया गया है। एंटी नारकोटिक्स व लालगंज पुलिस की संयुक्त टीम ने इनको थाना क्षेत्र से ही गिरफ्तार कर पूछताछ की। मामले में मुख्य आरोपित अभी भी फरार है। उसके गिरफ्तार होने के बाद ही यह पता चल सकेगा कि प्रश्न पत्र और आंसर शीट कहां से उपलब्ध हुआ और किसने उपलब्ध कराया।

कई जिलों में आउट हुआ था पेपर

टीईटी परीक्षा से पहले प्रदेश के कई हिस्से में पेपर आउट हो गया था। रकम लेकर इसे वाट्स एप पर भी भेजे जाने की शिकायत मिली थी। ऐसे में सरकार ने तत्काल परीक्षा रद्द कर इसकी जांच एसटीएफ को सौंप दी थी। अन्य जिलों की तरह बस्ती में भी एसटीएफ की टीम सोमवार को लालगंज थाना क्षेत्र में पहुंची थी। उसने कुछ लोगों को चिन्हित कर पुलिस के आला अधिकारियों को इसकी सूचना दी। उसी क्रम में 30 नवंबर को थानाध्यक्ष लालगंज उमाशंकर त्रिपाठी व एंटी नारकोटिक्स टीम के प्रभारी योगेश सिंह की टीम ने पांच आरोपितों को दिन में 1.30 बजे गौरा घाट पुल के पास से गिरफ्तार किया।

इनकी हुई है गिरफ्तारी

इनमें आनंद प्रकाश यादव, जगदीश यादव निवासीगण माझा मानपुर, थाना गौर, विनय कुमार निवासी मुंडेरवा (लबनापार) थाना कोतवाली, शिक्षक सत्येंद्र सिंह उर्फ सोनू तथा धर्मेंद्र यादव निवासीगण तिघरा थाना लालगंज जनपद बस्ती शामिल है। इनके पास से पांच मोबाइल जिसकी गैलरी में साफ्ट कापी के रुप में टीईटी परीक्षा 2021 का मूल प्रश्न पत्र व आंसर शीट है। समस्त साफ्ट कापी को हार्ड कापी के रुप में निकलवाकर बरामद किया गया। उनके पास से कुल 630 रुपये बरामद किया गया। सत्येंद्र प्राथमिक विद्यालय भानपुर में शिक्षक हैं।

लालगंज थाने में दर्ज की गई रिपोर्ट

बरामदगी के आधार पर थाना लालगंज में धोखाधड़ी व साजिश की धारा के साथ ही 66डी आइटी एक्ट व 4/10 सार्वजनिक परीक्षा नियंत्रण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

वांछित ने आरोपित आनंद से मांगा था एक लाख

एंटी नारकोटिक्स टीम के प्रभारी योगेश ने बताया कि मामले में जिस वांछित की तलाश है, उसी ने आनंद प्रकाश यादव से टीईटी के प्रश्नपत्र और आंसर शीट के एवज में एक लाख मांगा था। आनंद ने उसे 40 हजार रुपये ही दिए थे, बाकी रकम बाद में देने की बात कही थी। इस पर उसे प्रश्नपत्र और आंसर शीट उपलब्ध करा दिया गया। उसने बाद में जगदीश को, जगदीश ने विनय को और विनय ने उसे चेक करने के लिए शिक्षक सत्येंद्र को भेजा था। बाद में सत्येंद्र ने धर्मेद्र को भेज दिया।

आरोपितों से की जा रही है पूछताछ

एसपी बस्‍ती आशीष श्रीवास्‍तव ने बताया कि पांचों आरोपितों को गिरफ्तार कर पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। मामले में एक व्यक्ति की तलाश की जा रही है। उसके पकड़े जाने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा कि प्रश्नपत्र व आंसर शीट उसे कहां से मिला था।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.