कुशीनगर में दबंगों के भय से दुष्कर्म पीड़िता ने परिवार के साथ गांव छोड़ा, घर पर चस्पा किया पोस्टर

कुशीनगर ज‍िले के नेबुआ-नौरंगिया थाना क्षेत्र के एक गांव में दबंगों के भय से दरवाजे पर घर बिकाऊ होने का पोस्टर लगा दुष्कर्म पीड़िता का परिवार तीन दिन पूर्व गांव से पलायन कर गया। दुष्कर्म पीड़िता की मां पांच बेटियों संग रहती थी।

Pradeep SrivastavaWed, 08 Dec 2021 02:15 PM (IST)
दुष्‍कर्म पीडि़ता के घर में लगा पोस्‍टर। - जागरण

गोरखपुर, जेएनएन। कुशीनगर ज‍िले में गुंडों की नंगई सामने आई है। नेबुआ-नौरंगिया थाना क्षेत्र के एक गांव में दबंगों के भय से दरवाजे पर घर बिकाऊ होने का पोस्टर लगा दुष्कर्म पीड़िता का परिवार तीन दिन पूर्व गांव से पलायन कर गया। दुष्कर्म पीड़िता की मां पांच बेटियों संग रहती थी। पति रोजगार के सिलसिले में पंजाब रहते हैं। जमानत पर छूटे दबंग के उत्पीड़न से परिवार द्वारा यह कदम उठाए जाने की बात कही जा रही है। मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस छानबीन में जुट गई है। गांव के लोग कुछ भी बोलने से परहेज कर रहे हैं।

यह है मामला

एक साल पूर्व महिला चार बच्चियों को लेकर गांव के चौराहे पर गई थी। घर पर 14 वर्षीय बड़ी बेटी अकेली थी। गांव के ही दबंग ने दुष्कर्म किया। मां की तहरीर पर आरोपित मिथुन के खिलाफ पुलिस ने दुष्कर्म का मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेज दिया। आराेप है कि एक माह पूर्व आरोपित जमानत पर जेल से रिहा होकर घर आया। वह महिला से मुकदमा वापस लिए जाने का दबाव बनाने लगा। इन्कार करने पर साथियाें संग उत्पीड़न कर रहा है।

घर में घुसकर की मारपीट, पुल‍िस ने नहीं की कार्रवाई

बीते 27 व 28 नवंबर को खेत में काम करते समय महिला व बच्चियों को आरोपित व उसके घर के लोगों ने बुरी तरह मारा-पीटा। पुलिस ने काेई कार्रवाई नहीं की। बीते शनिवार को मकान पर घर बिकाऊ होने का पोस्टर लगा बच्चियाें संग महिला थाना क्षेत्र के ही एक गांव में रिश्तेदार के घर चली गई। मंगलवार को यह बात आम हुई। एसपी सचिन्द्र पटेल ने बताया कि पलायन जैसी कोई बात नहीं है। महिला रिश्तेदारी में गई है। घर पर यह पोस्टर महिला या किसी अन्य ने लगाया है, जांच कराई जा रही है।

कोचिंग जा रही छात्रा का अपहरण कर शोहदों ने की छेड़छाड़

कुशीनगर ज‍िले के ही तरयासुजान क्षेत्र के तमकुहीराज कस्बे में कोचिंग जा रही 11वीं की छात्रा का बाइक सवार दो मनबढ़ों द्वारा अपहरण कर छेड़छाड़ किए जाने का मामला सामने आया है। घटना के बाद कस्बे में तनाव की स्थिति कायम हो गई। छात्रा को सकुशल बरामद कर स्वजन आरोपितों को पकड़ पुलिस को सौंप दिए। मुकदमा पंजीकृत कर पुलिस दोनों को न्यायालय ले गई, वहां से जेल भेज दिया गया।

कस्बे के समीप स्थित एक गांव की छात्रा छोटे भाई संग सुबह दस बजे पैदल ही कोचिंग तमकुहीराज जा रही थी। दोनों तमकुहीराज ओवरब्रिज के समीप पहुंचे कि वहां पहले से मौजूद बाइक सवार दो युवकों में पीछे बैठा युवक छात्रा को खींच कर जबरदस्ती बाइक पर बैठा लिया। दोनों व्यापार कर बैरियर की तरफ फरार हो गए। शोर मचाता हुए छात्रा का भाई दोनों का पीछा करने लगा। राहगीर की मदद से उसने इसकी सूचना स्वजन को दी। कुछ ही देर में स्वजन आ गए।

बैरियर के समीप मकानों में छात्रा की तलाश शुरू हो गई। सड़क किनारे एक कमरे में स्वजन गए तो छात्रा को देख अवाक रह गए। स्वजन आरोपितों को पकड़ कस्बा स्थित पुलिस चौकी ले गए। छात्रा ने युवकों पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया। पुलिस आरोपितों को थाने ले गई। पीड़िता के पिता की तहरीर पर हरबाज अंसारी, निवासी रामकोला चट्टी, थाना पटहेरवा व अख्तर खान, निवासी पुरानी तमकुही कस्बा के खिलाफ नाबालिग का अपहरण समेत कई धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया। एसएचओ कपिलदेव चौधरी ने बताया कि आरोपितों को न्यायालय ले जाया गया, वहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। छात्रा को स्वजन को सौंपा गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.