top menutop menutop menu

मुंबई रूट की ट्रेनों में यात्रियों के लिए बेहतरीन सुविधाएं, अब नहीं होगी परेशानी Gorakhpur News

गोरखपुर, जेएनएन। पूर्वोत्तर रेलवे से मुंबई रूट पर चलने वाली ट्रेनों में भी अब झटके नहीं लगेंगे। यात्रियों का सफर भी आरामदायक व सुविधाजनक होगा। प्रमुख ट्रेनों में अति आधुनिक लिंक हाफमैनबुश (एलएचबी) कोच लगने लगे हैं। 26 जनवरी 12541-12542 तक गोरखपुर-एलटीटी-गोरखपुर एक्सप्रेस में एलएचबी कोच लग जाएंगे। वैसे रेलवे प्रशासन ने 20 को ही इस ट्रेन में नई रेक लगाने की योजना तैयार की है।

यह चल रही तैयारी

नई रेक के साथ इस ट्रेन में पांच जनरल की जगह पांच शयनयान और एसी श्रेणी के कोच भी लगाने की तैयारी है। इससे आरक्षित टिकट के यात्रियों की सहूलियतें बढ़ जाएंगे। गोरखपुर से बनकर चलने वाली 12597-12598 गोरखपुर-सीएसटी अंत्योदय और 22921-22922 गोरखपुर-बांद्रा अंत्योदय में पहले से ही एलएचबी कोच लग रहे हैं। मुंबई जोन की गोदान, बांद्रा और कुशीनगर एक्सप्रेस में भी एलएचबी कोच लग रहे हैं।

इतिहास बन जाएंगे हाईब्रिड कोच, अब एसी में भी पंखे 

गोरखपुर-एलटीटी-गोरखपुर हाइब्रिड कोच से चल रही है। इस ट्रेन में एलएचबी की रेक लग जाने से हाइब्रिड कोच भी इतिहास बन जाएंगे। दरअसल, हाइब्रिड कोचों की एसी बोगियों में पंखे नहीं होते हैं। गर्मी के दिनों में यात्रियों को परेशानी होती है। एलएचबी के एसी में पंखों की भी सुविधा मिलती है।

सप्ताह में तीन दिन चलेगी अंत्योदय एक्सप्रेस

जनरल टिकट पर यात्रा करने वाले लोगों के लिए राहत भरी खबर है। रेलवे ने गोरखपुर से बांद्रा (मुंबई) के बीच सप्ताह में एक दिन चलने वाली 22922-22921 अंत्योदय जनसाधारण एक्सप्रेस को तीन दिन चलाने की योजना बनाई है।

गोरखपुर से चलने वाली 11 ट्रेनों में हो रही व्‍यवस्‍था

इस संबंध में पूर्वोत्‍तर रेलवे के सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह का कहना है कि गोरखपुर से बनकर चलने वाली 11 व पूर्वोत्तर रेलवे की कुल 22 ट्रेनों में एलएचबी के कोच लग रहे हैं। गोरखपुर- एलटीटी में लगाने का प्लान चल रहा है। आने वाले दिनों में सभी ट्रेनें एलएचबी रेक से ही चलाई जाएंगी। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.