Electricity corporation: गोरखपुर में स्मार्ट मीटर वाला कनेक्शन कटवा रहे उपभोक्‍ता, जानें-क्‍या है कारण Gorakhpur News

बिजली निगम के संबंध में प्रतीकात्‍मक फाइल फोटो, जेएनएन।

शहर में 55 हजार से ज्यादा स्मार्ट मीटर लगाए जा चुके हैं। पिछले साल जन्माष्टमी पर अचानक पूरे प्रदेश के स्मार्ट मीटरों में खराबी आने के बाद प्रदेश सरकार ने नए कनेक्शन पर इन मीटरों के लगाने पर रोक लगा दी थी।

Satish Chand ShuklaMon, 12 Apr 2021 04:29 PM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। स्मार्ट मीटर तेज चलने की शिकायत करने वाले उपभोक्ताओं ने नया पैंतरा आजमाया है। 111 उपभोक्ताओं ने बिजली कनेक्शन न इस्तेमाल करने का हवाला देते हुए निगम से कनेक्शन कटवा लिया है। इनमें से ज्यादातर ने दूसरे नाम से नया कनेक्शन ले लिया है। इसकी जानकारी के बाद बिजली निगम के अफसरों ने जांच की बात कही है। पिछले साल से स्मार्ट मीटर लगाने पर रोक के बाद नए कनेक्शन पर इलेक्ट्रानिक मीटर लगाए जा रहे हैं।

शहर में 55 हजार से ज्यादा स्मार्ट मीटर लगाए जा चुके हैं। पिछले साल जन्माष्टमी पर अचानक पूरे प्रदेश के स्मार्ट मीटरों में खराबी आने के बाद प्रदेश सरकार ने नए कनेक्शन पर इन मीटरों के लगाने पर रोक लगा दी थी। तब से नए कनेक्शनों पर इलेक्ट्रानिक मीटर लगाए जा रहे हैं।

तेज चलने की शिकायत करते हैं उपभोक्ता

स्मार्ट मीटर तेज चलने की उपभोक्ता लगातार शिकायत करते रहते हैं। पिछले साल बिजली निगम ने उपभोक्ताओं से फीडबैक भी लिया था। इनमें ज्यादातर ने स्मार्ट मीटर तेज चलने और ज्यादा बिल आने की शिकायत की थी। हालांकि बिजली निगम के अफसरों ने कई कनेक्शन पर चेक मीटर लगाने के बाद उपभोक्ताओं के आरोप को निराधार बताया था। अफसरों ने बताया था कि स्मार्ट मीटर निर्धारित से ज्यादा क्षमता की बिजली का उपभोग होने पर खुद ही पेनाल्टी की भी गणना कर बिल में जोड़ देता है इसलिए बिल ज्यादा आता है। अफसर लगातार उपभोक्ताओं से कनेक्शन की क्षमता बढ़ाने की अपील करते रहते हैं।

148 कनेक्शन बिना पीडी कटे

शहर में 111 उपभोक्ताओं ने अपना कनेक्शन कटवाया है तो 148 उपभोक्ता ऐसे हैं जिनके कनेक्शन पोल से कट गए हैं। यानी इन उपभोक्ताओं ने कनेक्शन पीडी नहीं कराया है पर स्मार्ट मीटर वाला कनेक्शन चला भी नहीं रहे हैं।

एलएंडटी ने दी सूचना

स्मार्ट मीटर लगाने की जिम्मेदार लार्सन एंड टूब्रो को दी गई है। कंपनी के अफसरों ने बिजली निगम के अफसरों को कनेक्शन पीडी और उपभोक्ताओं के पोल से तार काट देने की जानकारी दी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.