छूटे 1096 शिक्षकों की कोरोना संकट में लगेगी चुनाव ड्यूटी

छूटे 1096 शिक्षकों की कोरोना संकट में लगेगी चुनाव ड्यूटी

बेसिक शिक्षा विभाग में खंड शिक्षा अधिकारियों के यहां कार्यरत कतिपय कंप्यूटर आपरेटर की मनमानी या फिर किसी अन्य तकनीकी कारणों से जिन परिषदीय शिक्षकों की ड्यूटी पंचायत चुनाव में नहीं लगी है उन्हें भी चुनाव कराने के लिए तैयार रहना पड़ेगा।

JagranThu, 15 Apr 2021 11:00 PM (IST)

जागरण संवाददता, सिद्धार्थनगर: बेसिक शिक्षा विभाग में खंड शिक्षा अधिकारियों के यहां कार्यरत कतिपय कंप्यूटर आपरेटर की मनमानी या फिर किसी अन्य तकनीकी कारणों से जिन परिषदीय शिक्षकों की ड्यूटी पंचायत चुनाव में नहीं लगी है, उन्हें भी चुनाव कराने के लिए तैयार रहना पड़ेगा। तेजी से फैल रहे कोरोना संकट को देखते हुए प्रशासन अब शिक्षा विभाग के छूटे हुए 1096 शिक्षकों को भी चुनाव के लिए प्रशिक्षित करेगा। इसकी तैयारी हो रही है। अन्य विभागों में भी जिनकी ड्यूटी नहीं लगी है, उन्हें भी बुलाया जा सकता है।

दरअसल प्रशासन चुनाव तैयारी में कोई रिस्क नहीं लेना चाहता। सीडीओ पुलकित गर्ग ने सहायक कार्मिक अधिकारी व जिला विकास अधिकारी शेषमणि सिंह को ऐसे लोगों की सूची बनाने के निर्देश दिए हैं, जिनके नाम चुनाव ड्यूटी से छूट गए हैं। दरअसल जब पहली ड्यूटी लगाई जा रही थी तो एनआइसी में तकनीकी कारणों के चलते कंप्यूटर से कुछ लोगों की ड्यूटी नहीं उठा पाई। चुनाव के लिए अब तक 14 हजार 156 लोगों को प्रशिक्षित किया जा चुका है। जबकि कुल पंजीकृत कर्मी 21 हजार 227 हैं। 1934 कर्मी चुनाव से मुक्त हैं। जिनमें स्वास्थ्य विभाग के कर्मी हैं। जिनकी ड्यूटी कोरोना टीकाकरण में लगी है। 1096 ऐसे शिक्षक हैं, जिनकी ड्यूटी लगी नहीं है। इसके लिए सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को यह दायित्व सौंपे गए हैं कि जिनके यहां भी शिक्षकों की ड्यूटी नहीं लगी है, उन्हें ड्यूटी लगवाकर चुनाव प्रशिक्षण कराएं। 26 अप्रैल को चुनाव है। ऐसे शिक्षकों को 20 से 23 तारीख के बीच कभी भी प्रशिक्षण के लिए बुलाया जा सकता है। इधर करीब एक हजार लोगों ने शादी और बीमारी के चलते मतदान डयूटी से अपने नाम कटवा लिए हैं। छूटे हुए शिक्षकों को रिजर्व पार्टी के रूप में रखा जाएगा। वैसे दस फीसद रिजर्व पार्टी पहले से रखे गए हैं।

इन ब्लाकों के शेष शिक्षकों का होगा प्रशिक्षण

डुमरियागंज के 212, बर्डपुर-200, नौगढ़ -35, उसका-67, जोगिया-46, शोहरतगढ़-51, बढ़नी-07, लोटन-61, बांसी-123, मिठवल-148, खेसरहा-44, भनवापुर-49, इटवा-20 व खुनियाव के 33 शिक्षक अभी चुनाव ड्यूटी से मुक्त चल रहे हैं। इनका प्रशिक्षण होना है।

कंप्यूटर आपरेटर पर उठे सवाल

डुमरियागंज के खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में तैनात एक कंप्यूटर आपरेटर ने जानबूझ कर खास वर्ग के कुछ शिक्षकों के नाम चुनाव ड्यूटी के लिए नहीं भेजा है। इसे लेकर बीएसए राजेंद्र सिंह ने नाराजगी जाहिर की है। ऐसा ही मामला बर्डपुर में सामने आ रहा है। इन्हें कारण बताओ नोटिस दी जाएगी। सीडीओ व प्रभारी कार्मिक, पंचायत चुनाव पुलकित गर्ग ने कहा कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के चलते अभी और रिजर्व पोलिग पार्टियों की जरूरत महसूस की जा रही है। जो शिक्षक चुनाव ड्यूटी से मुक्त हैं, उन्हें भी प्रशिक्षण कराया जाएगा। अन्य विभागों के भी छूटे हुए लोगों को बुलाने की व्यवस्था की जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.