चोरी में बाधा बनने वालों पर चला देते थे गोली

चोरी में बाधा बनने वालों पर चला देते थे गोली

बैट्री चोर गिरोह की करतूत सुनकर सभी दंग हैं।

Publish Date:Sat, 24 Oct 2020 06:54 AM (IST) Author: Jagran

संतकबीर नगर : बैट्री चोर गिरोह की करतूत सुनकर सभी दंग हैं। गिरोह के सरगना नूरुद्दीन ने बताया कि चोरी के समय यदि कोई विरोध करता था तो उसे टीम सबक भी सिखाती थी। गैंग का सदरे आलम पर फायरिग की जिम्मेदारी थी। वाहन कौन चलाएगा, चोरी का स्थल को निर्धारित करेगा और माल कौन बेचेगा, यह पहले से तय होता था। गैंग पिछले चार वर्ष से टीम भावना से काम कर रही थी।

धर्मसिंहवा पुलिस के हत्थे चढ़े बैट्री चोरों का गिरोह बहुत शातिर है। टीम का सक्रिय सदस्य और फायरिग का जिम्मा उठाने वाला महराजगंज जिले के कोतवाली क्षेत्र के खेमपिपरा गांव का सदरे आलम अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है। गैंग लीडर नूरुद्दीन ने बताया कि सदरे आलम अच्छा निशानेबाज है। मोबाइल टावर पर काम कर चुके हैं पांच आरोपित

पकड़े गए आरोपितों में से पांच मोबाइल टावर लगाने वाली कंपनियों में कार्य कर चुके हैं। चोरी के पहले यह लोग दो-तीन दिन रेकी करने प्लान बनाते थे। देर रात चोरी की घटना को अंजाम दिया जाता था। यह रही पुलिस टीम

एसपी ने बताया कि चोरों को पकड़ने वाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष धर्मसिंहवा धमेंद्र कुमार तिवारी, सविलांस प्रभारी मनोज कुमार पंत, उपनिरीक्षक धर्मेंद्र कुमार सिंह, संतोष कुमार यादव, हेड कांस्टेबल मोहन प्रसाद चौधरी, संजय सिंह, असगर अली, प्रदीप कुशवाहा, पुष्पेंद्र गौतम, रामप्रवेश मद्वेशिया, मोतीलाल यादव, सतीश मिश्र, मधुसुदन भारती, मुनीर, अफसर इमाम, आकाश कुमार, धर्मेंद्र कुमार यादव शामिल रहे। बैट्री चोरों को पकड़ने में लगी थी सविलांस व पुलिस की टीम जागरण संवाददाता, संतकबीर नगर : धर्मसिंह़वा पुलिस ने मोबाइल टावरों से बैट्री चुराने वाले गिरोह के आठ सदस्यों को असलहे व कारतूस के साथ गिरफ्तारी व चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए सर्विलांस व पुलिस टीम लगायी गयी थी। गिरफ्तार आरोपितों के पास से पुलिस ने पिकअप व मोबाइल भी बरामद किया है। बरामद बैट्री की कीमत बाजार में छह लाख रुपये से अधिक है।

पुलिस अधीक्षक ब्रजेश सिंह ने अपने कार्यालय में पत्रकार वार्ता में बताया कि घटना का पर्दाफाश करने वाली टीम को आइजी ने 20 हजार रुपये के पुरस्कार की घोषणा की है। अपने स्तर से उन्होंने भी 15 हजार का पुरस्कार देने का निर्णय लिया है। गैंग के गोलीबाज सदस्य को भी जल्द ही पुलिस गिरफ्तार कर लेगी।

उन्होंने बताया कि धर्मसिंहवा थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार तिवारी को सूचना मिली कि थाना क्षेत्र के ग्राम सेवहा बाबू चौराहे पर एक पिकअप पर चोरी की बैट्री लादकर कुछ लोग उसे बेचने जा रहे हैं। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया। कागजात मांगे जाने पर आरोपितों ने बताया कि बैट्री चोरी की है। वह सभी मोबाइल टावरों से बैट्री को चुराकर बेचते हैं। पूछताछ में पकड़े गए आरोपितों ने अपना नाम नूरुद्दीन निवासी बहुआर खुर्द थाना निचलौल जिला महराजगंज, सतीश यादव, सराफत हुसैन निवासी लौहरोली थाना दुधारा, सुलेमान उर्फ सोनू निवासी महदेवा थाना मेंहदावल, संतोष कुमार साहनी, सुरेंद्र साहनी निवासी बेलहर कला, जय सिंह निवासी खर्रा थाना धनघटा, संदीप उपाध्याय निवासी नंदौर थाना बखिरा बताया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.