महराजगंज में बंधे की मरम्मत न होने से गांव की तरफ बढ़ रहा पानी

ग्राम प्रधान मठिया अजय यादव व जिला पंचायत सदस्य सुरेश सहानी ने बताया कि बांध की देख-रेख यदि समय रहते हुई होती तो आज मझार के क्षेत्र का हाल इतना दयनीय नहीं होता। लगातार बारिश व नेपाल के नदियों का पानी हर वर्ष तबाही मचाता है।

JagranSat, 19 Jun 2021 06:10 AM (IST)
महराजगंज में बंधे की मरम्मत न होने से गांव की तरफ बढ़ रहा पानी

महराजगंज: महराजगंज के सिचाई विभाग के कर्मियों की सुस्त रफ्तार अब लोगों पर भारी पड़ रही है। मझार होकर गुजरने वाली कोइरी टोला के निकट रोहिन नदी के क्षतिग्रस्त बांधे की मरम्मत तीन दिन बाद भी नहीं हो सकी है। जिससे पानी अनवरत गांवों की तरफ बढ़ रहा है। गुरुवार को एसडीएम रामसजीवन मौर्य ने सिचाई विभाग के जेई वसीम खान को बंधे की मरम्मत कराने के निर्देश दिए थे, लेकिन दूसरे दिन शुक्रवार को दोपहर तक कोई कार्य नहीं होता देखकर ग्रामीणों में आक्रोश व्यक्त किया।

ग्राम प्रधान मठिया अजय यादव व जिला पंचायत सदस्य सुरेश सहानी ने बताया कि बांध की देख-रेख यदि समय रहते हुई होती तो आज मझार के क्षेत्र का हाल इतना दयनीय नहीं होता। लगातार बारिश व नेपाल के नदियों का पानी हर वर्ष तबाही मचाता है। लेकिन जिम्मेदारों को इस भयावह घटना से कोई वास्ता नहीं है। जिससे खालिकगढ़ टोला बसाहवा, मठिया ईदू, रजापुर, रामपुर झालुआ, काशीपुर गांव संकट में घिरे हुए हैं। सिचाई विभाग अवर अभियंता आदित्य कुमार ने बताया कि बांध का मरम्मत कार्य शुरू कर दिया गया है।शीघ्र ही पानी का बहाव रोक दिया जाएगा। बंद कराया गया रिसाव

पनियरा विकास खंड के डोमरा जर्दी बांध के रानीपुर में बंधे से पानी का रिसाव शुक्रवार को शुरू हो गया। इस बात की जानकारी विभागीय अधिकारियों को होने के बाद रिसाव को बंद कराया गया। जूनियर इंजीनियर डीबी गुप्ता ने बताया कि रोहिन नदी के पानी के दबाव बढ़ने से रिसाव हुआ था। तत्काल उसे बंद किया गया है । बंधे पर हर समय निगरानी की जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.