दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

इस जिले में 29 मई तक नहीं बनेंगे ड्राइविंग लाइसेंस, 15 जून के बाद मिलेगी अगली तिथि Gorakhpur News

29 मई तक नहीं बनेंगे ड्राइविंग लाइसेंस। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

परिवहन विभाग (आरटीओ दफ्तर) में अब 29 मई तक ड्राइविंग लाइसेंस (लर्निंग परमानेंट और नवीनीकरण) नहीं बनेंगे। लाइसेंस से संबंधित सभी कार्य स्थगित कर दिए गए हैं। 17 से 29 मई के बीच वाले टेस्ट अब 15 जून के बाद होंगे।

Rahul SrivastavaSat, 15 May 2021 03:50 PM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन : परिवहन विभाग (आरटीओ दफ्तर) में अब 29 मई तक ड्राइविंग लाइसेंस (लर्निंग, परमानेंट और नवीनीकरण) नहीं बनेंगे। लाइसेंस से संबंधित सभी कार्य स्थगित कर दिए गए हैं। 17 से 29 मई के बीच वाले टेस्ट अब 15 जून के बाद होंगे। आवेदकों के मोबाइल पर टेस्ट की जानकारी दे दी जाएगी। परिवहन विभाग में 23 अप्रैल से ही लाइसेंस से संबंधित सभी सेवाओं पर रोक लगी हुई है।

नए डेट पर होंगे संबंधित कार्य

सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन) श्याम लाल के अनुसार जिन अभ्यर्थियों को 29 मई तक लाइसेंस संबंधित टेस्ट या किसी भी कार्य के लिए डेट मिला है। उनके मोबाइल पर फिर से मैसेज जाएगा। अब नए डेट पर ही संबंधित कार्य होंगे। ड्राइविंग लाइसेंस की वैधता तिथि भी 30 जून तक बढ़ा दी गई है। यानी, जनवरी, फरवरी, मार्च और अप्रैल में किसी भी महीने में वैधता तिथि समाप्त होने वाले ड्राइविंग लाइसेंस 30 जून तक मान्य होंगे।

कोरोना संक्रमण पर अंकुश लगाने के लिए बढ़ी सतर्कता

दरअसल, कोरोना संक्रमण पर पूरी तरह अंकुश लगाने के लिए सतर्कता बढ़ा दी गई है। आरटीओ दफ्तर में भी रोजाना लाइसेंस बनवाने वाले सैकड़ों अभ्यर्थी जुट रहे थे। संक्रमण फैलने की आशंका बढ़ गई थी।

30 जून तक रेलवे के सभी पुनश्चर्या पाठ्यक्रम व प्रशिक्षण स्थगित

 रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों के निर्बाध संचालन और कोरोना संक्रमण पर पूरी तरह से अंकुश लगाने के लिए जान और डिवीजन स्तर पर होने वाले सभी तरह के पुनश्चर्या पाठ्यक्रम और प्रशिक्षण कार्यक्रम को स्थगित कर दिया है। ऐसे में रेलवे प्रशासन ने रनिंग स्टाफ (लोको पायलट, गार्ड और स्टेशन मास्टर आदि) तथा संरक्षा से जुड़े रेलकर्मियों के प्रशिक्षण और पुनश्चर्या पाठ्यक्रम तत्काल प्रभाव से रोक दिया है। साथ ही संबंधित रेलकर्मियों के निर्धारित समय पर होने वाले विभागीय स्वास्थ्य परीक्षण भी अब नहीं किए जाएंगे। जानकारों के अनुसार अब स्थिति सामान्य होने पर ही पाठ्यक्रम और प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू होंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.