नदी की बीच धारा से बह गई दो सौ लोगों से भरी नाव, रात भर टंगी रही सांस- सुबह रेस्क्यू कर निकाले गए

यूपी के कुशीनगर में नाव का नदी की बीच धारा में डीजल खत्म हो गया। इससे नाव नदी में बह गई। नाव में दो सौ लोग सवार थे। सभी लोग रात भर नदी में फंसे रहे। प्रशासन ने सुबह इन्‍हें रेस्‍क्‍यू कर बाहर न‍िकाला।

Pradeep SrivastavaFri, 18 Jun 2021 12:02 AM (IST)
कुशीनगर में हादसे के बाद लोगों को बचाता बचाव दल। - जागरण

कुशीनगर, जेएनएन। बिहार सीमा से सटे नारायणी उस पार जिले के दियारा क्षेत्र से गुरुवार रात की रात 200 लोगों को लेकर आ रही फंसी नाव से लोगों को शुक्रवार सुबह रेस्क्यू कर एसडीआरफ टीम द्वारा सुरक्षित निकाल लिया गया। पूरी रात डीएम और एसपी नदी किनारे अनहोनी की आशंका के बीच कैंप करते रहे।

बाढ़ में फंसे लोगों को लाने गई थी नाव

बताया जा रहा है कि नदी इस पार के एक दर्जन से अधिक गांव के लोग उस पार दियारा में परिवार समेत खेती किसानी के लिए गए थे। इनको लाने के लिए प्रशासन की डर से नाव मालिक रात के अंधेरे में नाव लेकर उस पार गया और उधर से लौटते समय बीच नदी में ही नाव के इंजन का तेल का तेल समाप्त हो गया। नाव नदी की धारा में बहने लगी और बरवापट्टी घाट से पांच किमी दूर अमवादिगर गांव के सामने बने ठोकर के समीप जा फंसी। छोटी नाव से उफनाई नदी में जाकर लोगो को बचा पाना मुश्किल था।

पूरी रात नदी के क‍िनारे बैठे रहे डीएम, एसपी

अनहोनी की आशंका के चलते रात 11 बजे डीएम व एसपी पूरी टीम के साथ पहुंचे तो जरूर लेकिन अंधेरे व नदी के उफान के चलते कुछ कर न सके। पूरी रात मूक दर्शक बने रहे। उधर नदी की धारा में फंसे लोग बचाने की गुहार लगाते हुए चीखते-चिल्लाते रहे। सुबह पांच बजे एसडीआरफ टीम पहुंची और उनको सुरक्षित निकालने के लिए दो घंटे का रेस्क्यू चलाया।

सुबह सभी को सुरक्षित न‍िकाला गया

सुबह सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। फंसने वालों में पुरुषों के साथ महिलाएं व बच्चे भी शामिल थे तो 100 मवेशी भी। जिलाधिकारी एस राजलिंगम, एसपी सचिंद्र ने बताया कि एक बड़ा हादसा होने से बचा। प्रशासन द्वारा नदी के खतरनाक रुख को देखते हुए नाव पर रोक लगाई गई थी, फिर भी ,खतरा मोल लिया गया। अब सख्ती से कार्रवाई होगी।

दियरा के लोगो के साथ सौतेला ब्यवहार करती सरकार : लल्लू

मौके पर पहुंचे तमकुहीराज के विधायक व कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि तमकुहीराज विधान सभा क्षेत्र के तीस फीसद किसानों की खेती नदी उस पार दियारा में ही है। लोगो की मजबूरी है नदी उस पार जाना। सदन में कई बार पीपा लगवाने की बात कही, लेकिन विपक्ष के विधायक के चलते हमारी बात गंभीरता से नहीं ली जाती है।

नेपाल में भी हादसा, तीन की मौत- 17 लापता

उधर, नेपाल के सिंधुपाल चौक के पास बाढ़ के पानी में डूबने से तीन की मौत हो गई। हादसे 17 लोगों के लापता होने की सूचना है। सिंधुपाल के सीडीओ अरूण पोखरेल ने बताया कि मृतकों में दो चीनी नागरिक हैं और एक के भारतीय होने की आशंका जताई जा रही है। अभी उसकी पहचान नहीं हो सकी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.