North Eastern Railway: रेलवे के विद्युत और यांत्रिक विभाग के विलय पर नरमू का प्रदर्शन

गोरखपुर में विरोध प्रदर्शन करते रेलवे कर्मचारी।

महामंत्री केएल गुप्त ने अधिकारियों पर मनमानी करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि अधिकारी रेलवे बोर्ड के आदेशों की भी अवहेलना कर रहे हैं। प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर और प्रमुख मुख्य यांत्रिक इंजीनियर ने अपने हिसाब से दोनों विभागों का विलय कर लिया है।

Satish chand shuklaSat, 27 Feb 2021 05:07 PM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। एनई रेलवे मजदूर यूनियन (नरमू) ने विद्युत और यांत्रिक विभाग के विलय पर आक्रोश व्यक्त किया है। साथ ही लोको पायलटों व गार्डों को लाइन बाक्स की जगह ट्राली बैग देने का भी विरोध किया है। गोरखपुर स्टेशन पर प्रदर्शन कर आंदोलन की चेतावनी देते हुए यूनियन ने रेलवे प्रशासन से विलय समाप्त कर बाक्स परंपरा को कायम रखने की मांग की।

अधिकारियों पर मनमानी का आरोप

अपने उद्बोधन में यूनियन के महामंत्री केएल गुप्त ने अधिकारियों पर मनमानी करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि अधिकारी रेलवे बोर्ड के आदेशों की भी अवहेलना कर रहे हैं। प्रमुख मुख्य विद्युत इंजीनियर और प्रमुख मुख्य यांत्रिक इंजीनियर ने अपने हिसाब से दोनों विभागों का विलय कर लिया है। इसकी जानकारी मान्यता प्राप्त यूनियन को भी नहीं दी गई। इसको लेकर कर्मचारियों में रोष है। उन्होंने ट्रेनों में चलने वाले प्राइवेट कर्मचारियों की कार्य प्रणाली पर भी सवाल उठाया। कहा कि प्राइवेट कर्मियों के चलते रेलवे की छवि धूमिल हो रही है। महामंत्री ने बताया कि रेलवे प्रशासन लोको पायलटों और गार्डों को लाइन बाक्स की जगह जबरदस्ती ट्राली बैग दे रहा है। यूनियन इसका विरोध करती है। इस मौके पर मुन्नीलाल गुप्त, नवीन कुमार मिश्र, ओंकार सिंह, विनय कुमार श्रीवास्तव, प्रवीण चौधरी और संजय मालवीय आदि पदाधिकारी मौजूद थे।

मैनुअल पीएफ निकासी को लेकर पीआरएसएस ने की सभा

मैनुअल पीएफ निकासी की मांग को लेकर पूर्वोत्तर रेलवे श्रमिक संघ (पीआरएसएस) ने यांत्रिक कारखाना के गेट पर सभा की। इस दौरान पदाधिकारियों ने कहा कि रेलवे बोर्ड ने 31 मार्च तक मैनुअल पीएफ निकासी का प्रावधान किया है। इसके बाद भी कारखाना प्रबंधन आनलाइन आवेदन की मांग कर रहा है। मैनुअल आवेदन स्वीकार नहीं किए जा रहे हैं। सैकड़ों कर्मचारी पीएफ नहीं निकाल पा रहे। परेशानी बढ़ती जा रही है। केंद्रीय उपाध्यक्ष संजय त्रिपाठी ने कारखाना में आउटसोर्सिंग डिस्प्ले बोर्ड की मांग की। साथ ही 20 और 21 मार्च को गोरखपुर में होने वाले द्विवार्षिक सम्मेलन की तैयारियों पर भी विस्तार से चर्चा की। सभा को राजेश सिंह, सुरेंद्र कुमार यादव, रविंद्र कुमार पांडेय, अजीत सिंह, संजय राय, योगेश शुक्ला और अजय कुमार यादव आदि पदाधिकारियों ने संबोधित किया।

लोको पायलट शंटरों के स्थानांतरण पर पीआरकेएस ने सौंपा ज्ञापन

पूर्वोत्तर रेलवे कर्मचारी संघ (पीआरकेएस) ने गोरखपुर में तैनात लोको पायलट शंटरों के बेवजह स्थानांतरण और उत्पीडऩ पर विरोध जताया है। संघ के महामंत्री विनोद कुमार राय ने मंडल रेल प्रबंधक लखनऊ को ज्ञापन सौंपकर स्थानांतरण पर तत्काल रोक लगाने की मांग की है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.