ट्रेन की की चपेट में आए दो युवकों की मौत, जेब में मिले कागज से हुई पहचान

गोरखपुर में दो स्‍थानों पर ट्रेन की चपेट में आने से दो युवकों की मौत हो गई है। दोनों के शव रेलवे ट्रैक पर पडे मिले। जेब में मिले कागज से उनकी पहचान हो पाई। पुलिस के सूचना देने पर परिजन मौके पर पहुंचे।

Navneet Prakash TripathiSun, 26 Sep 2021 12:15 PM (IST)
ट्रेन की चपेट में आने से दो युवको की मौत। प्रतीकात्‍मक फोटो

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखनाथ ओवरब्रिज के नीचे और चिलुआताल के सिक्टौर में शुक्रवार सुबह ट्रेन की चपेट में आए दो युवकों की मौत हो गई। जेब में मिले कागजात से उनकी पहचान कर पुलिस ने सूचना स्वजन को दी।

डोमिनगढ व सिक्‍टौर में हुआ हादसा

प्रभारी निरीक्षक गोरखनाथ रामाज्ञा सिंह ने बताया कि सुबह सात बजे ओवरब्रिज के नीचे 35 वर्षीय युवक डोमिनगढ़ की तरफ से आ रही ट्रेन की चपेट में आ गया। जेब में मिले कागजात से उसकी पहचान देवरिया जिले के गौरीबाजार क्षेत्र स्थित इंदुपुर निवासी मनीष यादव के रुप में हुई। गोरखनाथ क्षेत्र में रहने वाले अपने नाना के घर रहकर मनीष लस्सी की दुकान पर काम करता था।दूसरा हादसा चिलुआताल के सिक्टौर में सुबह नौ बजे हुआ।सिक्टौर में पंडित टोला के पास ट्रेन की चपेट में आए युवक की मौत हो गई। जेब में मिले कागजात से उसकी पहचान सिक्टौर गांव के रहने वाले जितेंद्र यादव के रुप में हुई।

छेडख़ानी व अपहरण की शिकायत पर घरवालों ने दी धमकी

सहजनवां की एक महिला ने गांव के एक युवक पर अपनी पुत्री को बहला-फुसलाकर भगाने का आरोप लगाया है। महिला का कहना है कि उनकी पुत्री अपने साथ घर से 20 हजार रुपये व जेवरात भी ले गई है। वह युवक की मां के पास उलाहना लेकर गई तो उसने गाली व धमकी देकर घर से भगा दिया। सहजनवां थाना क्षेत्र की ही एक अन्य महिला ने थाने में तहरीर दी है कि गांव का एक युवक उसकी पुत्री के साथ छेडख़ानी करता है। बीते 28 जुलाई को उसकी पुत्री गांव में सामान लेने गई थी। युवक ने उसके साथ छेडख़ानी की। उन्होंने बताया कि दूसरे दिन वह युवक के घर इसका उलाहना देने गईं तो युवक के घर वालों ने उन्हें व उनकी पुत्री को मारा पीटा और वहां से भगा दिया। महिला ने चार दिन पूर्व आईजीआरएस पर भी मामले की शिकायत की है।

लूट के आरोपित की जमानत अर्जी खारिज

लूट के आरोप में अपर सत्र न्यायाधीश ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने रामगढ़ताल थाना क्षेत्र के मोहल्ला कजाकपुर निवासी आरोपित सिकंदर निषाद की जमानत अर्जी अपराध की गंभीरता को देखते हुए खारिज कर दी। अभियोजन पक्ष की ओर से सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता अतुल शुक्ला का कहना था कि सिक्टौर निवासी वादी नवनीत कुमार मिश्र सीएमएस कम्पनी में कस्टोडियन के पद पर कार्यरत है। बीते 16 अगस्त वह स्पेंसर हायर मंत्रा से प्राप्त पांच लाख 28 हजार रुपये बैंक रोड स्थित एक्सिस बैंक में जमा करने बाइक से जा रहे थे। एसबीआई बैंक बुद्ध बिहार रामगढ़ताल के पास एक मोटरसाइकिल पर सवार तीन व्यक्तियों ने उन्हें रोककर उनकी आंख में लाल मिर्च पाउडर डालकर रुपयों से भरा बैग छीन लिया। विवेचना के दौरान आरोपित का नाम प्रकाश में आया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.