Gorakhpur Weather: चक्रवती तूफान का पूर्वांचल में असर, कुशीनगर में बारिश शुरू

चक्रवाती तूफन ‘यास’ का पूर्वांचल पर असर शुरू हो गया है। गोरखपुर में जिला प्रशासन ने लोगों का अलर्ट कर दिया है। कुशीनगर में दोपहर से हल्की बूंदाबांदी और शाम को बारिश शुरू हो गई। 27 मई से अन्य जिलों में भी बारिश की आशंका है।

Pradeep SrivastavaWed, 26 May 2021 06:05 AM (IST)
चक्रवाती तूफान ने पूर्वांचल में अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। - प्रतीकात्मक तस्वीर

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। टाक्टे के के बाद चक्रवाती तूफन ‘यास’ का पूर्वांचल पर असर शुरू हो गया है। गोरखपुर में जिला प्रशासन ने लोगों का अलर्ट कर दिया है। कुशीनगर में दोपहर से हल्की बूंदाबांदी और शाम को बारिश शुरू हो गई। 27 मई से अन्य जिलों में भी बारिश की आशंका है। 

30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चलने का पूर्वानुमान

मौसम विशेषज्ञ के अनुसार ‘यास’ के चलते 26 मई की सुबह तक पूर्वी उत्तर प्रदेश के आसमान में बादल आ जाएंगे और दोपहर बाद से बूंदाबादी का सिलसिला शुरू हो सकता है। 27 की सुबह बूंदाबादी बारिश में तब्दील हो जाएगी। उसके बाद हल्की से मध्यम बारिश का सिलसिला 29 मई तक चलेगा। इस दौरान 30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चलने का पूर्वानुमान मौसम विशेषज्ञ कैलाश पांडेय जता रहे हैं।

आज से शुरू हो जाएगा बूंदाबादी का सिलसिला, 27 से लेकर 29 तक हो सकती है बारिश

मौसम विशेषज्ञ ने बताया कि चक्रवाती तूफान फिलहाल उड़ीसा के पारादीप से 300 किलोमीटर और बालासोर से 400 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद है। बुधवार को तड़के 155 से 165 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से उसकी उड़ीसा के बालासोर तट से टकराने की उम्मीद है। परिणाम स्वरूप उड़ीसा और पश्चिम बंगाल में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होगी। जैसे ही वह तूफान पारादीप पर टकराएगा, वहां से चलने वाली पुरवा हवाएं नमी लेेकर तेज रफ्तार से पूर्वी उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ेगी। यहां के गर्म वातावरण के चलते वह नमी बादलों में तब्दील हो जाएगी और बूंदाबादी का सिलसिला शुरू हो जाएगा। 

रूक-रूक कर तीन दिन तक होगी बारिश

जैसे-जैसे बादल घने होते जाएंगे बारिश की रफ्तार भी तेज होती जाएगी। तेज हवा के बीच गरज-चमक के साथ रूक-रूक कर यह बारिश करीब तीन दिन चलेगी। जम्मू के ऊपर बना पश्चिमी विक्षोभ भी इस बारिश को बनाए रखने में भूमिका निभाएगा। 26 मई की शाम या 27 मई की सुबह से वह भी तिब्बत की ओर बढ़ेगा। मौसम विशेषज्ञ ने महाराजगंज और सिद्धार्थनगर जिले में आंधी के साथ भारी बारिश की आशंका भी जताई है।

गोरखपुर में चलेगी तेज हवा

चक्रवात को लेकर गोरखपुर में एलर्ट जारी किया गया है। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व/आपदा प्रभारी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय एवं मौसम केंद्र लखनऊ की ओर से जारी पूर्वानुमान के बाद एलर्ट जारी किया गया है। उन्होंने बताया कि जिले में 26 मई को एक या दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। इस दौरान हवा की गति 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा रहने का अनुमान है। 27 से 29 जनवरी के बीच गरज एवं चमक के साथ भारी वर्षा होने की संभावना है।

इस दौरान तेज हवा भी चलेगी। गोरखपुर आपदा प्रबंधक प्राधिकरण के अंतर्गत संचालित क्लाइमेट सेल के अध्ययन के आधार पर भी तेज हवा के साथ भारी वर्षा की संभावना जताई गई है। जिला आपदा विशेषज्ञ गौतम गुप्ता ने बताया कि नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स (एनडीआरएफ), स्टेट डिजास्टर रिस्पांस फोर्स (एसडीआरएफ), 11वीं वाहिनी पीएसी को भी तैयार रहन को कहा गया है। गोरखपुर से एनडीआरएफ की टीम के कुछ लोग पश्चिम बंगाल भी गए हैं। बिजली विभाग, पुलिस, नगर निगम, सिंचाई विभाग एवं एकीकृत कोविड कमांड सेंटर को भी एलर्ट जारी किया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.