दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

कोविड एंटी ब्लैक मार्केटिंग टास्क फोर्स कसेगी कालाबाजारियों की नकेल Gorakhpur News

वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी। जागरण

कोरोना से बचाव से संबंधित आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी पर लगाम लगाने के लिए एसएसपी ने टास्क फोर्स बनाई है जिसे कोविड एंटी ब्लैक मार्केटिंग टास्क फोर्स नाम दिया गया है। हेल्पलाइन नंबर पर मिलने वाली कालाबाजारी की सूचना को तस्दीक करने के बाद टीम कार्रवाई करेगी।

Rahul SrivastavaTue, 18 May 2021 10:10 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन : कोरोना से बचाव से संबंधित आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी पर लगाम लगाने के लिए एसएसपी ने टास्क फोर्स बनाई है, जिसे कोविड एंटी ब्लैक मार्केटिंग टास्क फोर्स नाम दिया गया है। हेल्पलाइन नंबर पर मिलने वाली कालाबाजारी की सूचना को तस्दीक करने के बाद टीम कार्रवाई करेगी। सूचना देने वाले का नाम व पता पुलिस गोपनीय रखेगी।

आवश्‍यक वस्‍तुओं की कालाबाजारी की शिकायत

कोरोना का संक्रमण बढ़ने के साथ ही आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी होने की शिकायत भी बढ़ गई है। गुलरिहा में मरीज को भर्ती कराने के नाम पर तीमारदार से रिश्वत लेने, चिलुआताल क्षेत्र में आक्सीजन सिलेंडर की जमाखोरी करने और गोरखनाथ क्षेत्र में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने का मामला पकड़ा जा चुका है। दो दिन पहले गुलरिहा पुलिस ने मरीज से ज्यादा रुपये लेने के आरोपित एंबुलेंस चालक को गिरफ्तार किया था। इसको देखते हुए एसएसपी दिनेश कुमार पी ने स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया, जिसमें एक सीओ, दो इंस्पेक्टर, तीन दारोगा व सिपाही हैं। कालाबाजारी की सूचनाओं को प्राप्‍त करने के लिए कोविड कंट्रोल रूम, पुलिस कंट्रोल रूम, साइबर थाना प्रभारी के नंबर व वाट्सएन नंबर जारी किए गए हैं। साथ ही ट्विटर आइडी जारी की गई है। एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि लोग इन नंबरों पर मास्क, सैनिटाइजर, जीवन रक्षक दवा, आक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की सूचना दे सकते हैं।

यंहा दे सकते है सूचना

लोग काला बाजारी की सूचना पुलिस को 9454403527 व 9454417470 मोबाइल नंबर पर काल करके, 7839865731 व 9454458118 मोबाइल नम्बर पर वाट्सएप के जरिये तथा @gorakhpurpolice पर ट्वीट करके दे सकते हैं।

मेडिकल कालेज पहुंचे अधिकारी, तीमारदारों को रैन बसेरा में ठहराने की हुई व्यवस्था

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सदर/एसडीएम सदर कुलदीप मीणा एवं तहसीलदार सदर डा. संजीव दीक्षित मेडिकल कालेज परिसर पहुंचे और इधर-उधर बैठे मरीजों के तीमारदारों को वहां बने रैन बसेरा में ठहरने की अपील की। मंडलायुक्त एवं जिले के नोडल अधिकारी जयंत नार्लिकर ने मरीजों के तीमारदारों को रैन बसेरा में ठहराने का निर्देश दिया है। अधिकारी जब मेडिकल कालेज पहुंचे तो वहां कई लोग पेड़ के नीचे, लान में जमीन पर बैठे नजर आए। अधिकारियों ने उनसे रैन बसेरा के बारे में पूछा तो तीमारदारों ने जानकारी होने से इन्‍कार किया। इसके बाद ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने राजस्व कर्मियों की सहायता से तीमारदारों को वहां बने 108 एवं 125 बेड के रैन बसेरा में भिजवाया। उन्होंने बताया कि तीमारदारों के रहने की व्यवस्था मेडिकल कालेज सड़क से पश्चिम वीर अब्दुल हमीद पीजी कालेज में भी की जाएगी। वहां की सफाई एवं अन्य व्यवस्था करने के लिए नगर निगम के कर्मचारियों को निर्देश दिया गया। यहां ठहरने की व्यवस्था 17 मई से है। इस दौरान राजस्व निरीक्षक प्रद्युम्न सिंह व घनश्याम शुक्ल एवं लेखपाल उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.