Gorakhpur Coronavirus Test: यह कैसा अभियान, नमूने बढ़ रहे, घट रहीं जांच

गोरखपुर में नमूना लेने की संख्‍या बढ़ रही है लेकिन जांच कम हो रही है। - प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

गोरखपुर में एंटीजन किट पर्याप्त न होने से कोरोना जांच की संख्या लगातार घटती जा रही है। एंटीजन किट कम होने से आरटीपीसीआर जांच ज्यादा हो रही है। इससे मेडिकल कालेज के माइक्रोबायोलाजी विभाग में भार बढ़ा है।

Pradeep SrivastavaFri, 07 May 2021 08:30 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए ज्यादा से ज्यादा संदिग्धों की जांच कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने नमूने लेने पर ज्यादा जोर दिया है। नमूने तो लगातार बढ़ रहे हैं। लेकिन जांच की संख्या घट रही है। इसका मुख्य कारण एंटीजन किट का कम होना और रीयल टाइम पालीमरेज चेन रियेक्शन (आरटीपीसीआर) के नमूनों की संख्या बढ़ना है।

हर ब्लाक के चार गांवों में रोज जांच करने जा रही मोबाइल टीम

एंटीजन किट पर्याप्त न होने से कोरोना जांच की संख्या लगातार घटती जा रही है। एंटीजन किट कम होने से आरटीपीसीआर जांच ज्यादा हो रही है। इससे मेडिकल कालेज के माइक्रोबायोलाजी विभाग में भार बढ़ा है। शहर में 20 व ग्रामीण क्षेत्र में 19 केंद्रों पर कोरोना की जांच हो रही है। इस समय ग्रामीण क्षेत्र में संक्रमितों की संख्या बढ़ने से वहां विभाग का ज्यादा जोर है। आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को घर-घर जाकर संदिग्धों को तलाशने और उन्हें जांच कराने के लिए स्वास्थ्य केंद्रों पर भेजने के लिए लगाया गया है। जो लोग केंद्र तक नहीं जा सकते, उनके घर जाकर जांच की व्यवस्था की गई है। टीकाकरण प्रभारी डा. एके सिंह ने बताया कि हर ब्लाक में एक दिन में चार गांवों में जांच की जा रही है।

शहर में 20 व ग्रामीण क्षेत्र में 19 केंद्रों पर हो रही नियमित जांच

गुरुवार को स्वास्थ्य केंद्र खजनी के अलावा मोबाइल टीम ने बेलडांड, सहसी, सरया तिवारी व रुद्रपुर गांव में जाकर जांच की। 133 जांच हुई, जिसमें 85 एंटीजन व आरटीपीसीआर के लिए 48 नमूने लिए गए। अब तक 165 करोना संक्रमित पाए गए हैं। सहजनवां सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व हरपुर में 97 लोगों की कोरोना जांच हुई, जिसमें एंटीजन 66 व आरटीपीसीआर 31 शामिल है। चार लोग पाजिटिव मिले हैं। ठर्रापार स्वास्थ्य केंद्र पर 71 लोगों की जांच हुई। एंटीजन 21 व आरटीपीसीआर के लिए 50 नमूने लिए गए। दो पाजिटिव मिले। पिपरौली स्वास्थ्य केंद्र पर 120 लोगों की जांच हुई। इसमें 62 एंटीजन व 58 आरटीपीसीआर शामिल है। चार लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उरुवा में 117 नमूने लिए गए। एंटीजन 70, आरटीपीसीआर 47। एक में संक्रमण की पुष्टि हुई। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कैंपियरंज में एंटीजन 36 व आरटीपीसीआर के लिए 35 नमूने लिए गए। कोई संक्रमित नहीं मिला। जंगल कौड़िया में 77 लोगों की जांच हुई। 14 पाजिटिव आए। उनके नमूने आरटीपीसीआर जांच के लिए भेजे गए हैं। 

हर केन्‍द्र पर कम हुई जांच

स्वस्थ्य केंद्र चरगांवा में 129 एंटीजन जांच की गई। 52 नमूने आरटीपीसीआर के लिए भेजे गए। कोई पाजिटिव नहीं मिला। ब्रह्मपुर स्वास्थ्य केंद्र पर 80 लोगों की एंटीजन जांच तथा 41 नमूने आरटीपीसीआर के लिए भेजे गए। 76 लोग पाजिटिव आए। बड़हलगंज में 32 एंटीजन व 17 आरटीपीसीआर के लिए नमूने लिए गए। कोई पाजिटिव नहीं मिला। खोराबार में 90 एंटीजन व 56 आरटीपीसीआर के लिए नमूने लिए गए। 20 पाजिटिव मिले। गोला में 104 एंटीजन व 65 आरटीपीसीआर के लिए नमूने लिए गए। दो लोग संक्रमित मिले हैं। बेलघाट में 78 लोगों की जांच की गई। चार पाजिटिव आए।

भटहट सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कुल 47 लोगों की एंटीजन जांच की गई। छह संक्रमित मिले। मोबाइल टीम ने चार गांवों में 16 लोगों की जांच की जिसमें 13 पाजिटिव आए। बांसगांव में 50 लोगों की जांच में सात की रिपोर्ट पाजिटिव आई। पिपराइच में 58 की एंटीजन व 50 नमूने आरटीपीसीआर के लिए भेजे गए। सात लोग पाजिटिव आए। कौड़ीराम में 79 एंटीजन एवं 75 आरटीपीसीआर के लिए नमूने लिए गए। छह लोग पाजिटिव आए। जंगल धूसड़ के बड़ी रेतवहिया में दो संक्रमित मिले।

वैक्सीन लग रही न हो रही कोरोना की जांच

नगर पंचायत उनवल के अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर न तो वैक्सीन लग रही है और न ही कोरोना की जांच हो रही है। वहां न तो डाक्टर हैं और न ही फार्मासिस्ट।

नहीं हुई जांच

नया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पीपीगंज में गुरुवार को कोरोना की जांच नहीं की गई। बड़ी संख्या में संदिग्ध पहुंचे और उन्हें निराश होकर लौटना पड़ा। प्रभारी चिकित्सा अधिकारी कैंपियरगंज डा. भगवान प्रसाद ने बताया कि जांच टीम अब गांव- गांव जाकर जाच कर रहीं है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चौरीचौरा में भी बड़ी संख्या में लोग जांच कराने पहुंचे लेकिन उन्हें निराश होकर लौटना पड़ा।

एक सप्ताह के आंकड़े

तारीख आरटीपीसीआर एंटीजन जांच

29 अप्रैल 4241     5245 7311

30 2751             5585 7638

01 मई 3463       3444 7984

02 1481             2095 2898

03 3325             2950 7098

04 3839             2782 4172

05 3551             2714 4086

ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच करने की कोशिश की जा रही है। ताकि संक्रमण बाहर आ सके और कोरोना की रोकथाम हो सके। जांच बढ़ाने के लिए मेडिकल कालेज से बात हो रही है। - डा. सुधाकर पांडेय, सीएमओ। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.