गोरखपुर खाद कारखाना पहुंचे उर्वरक एवं रसायन मंत्री सदानंद गौड़ा और मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

गोरखनाथ मंदिर पहुंचे सीएम योगी आदित्‍यनाथ। - जागरण

हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) के खाद कारखाना का निरीक्षण करने गुरुवार सुबह 1115 बजे केंद्रीय उर्वरक एवं रसायन मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंच गए हैं। केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री खाद कारखाना परिसर का निरीक्षण कर रहे हैं।

Pradeep SrivastavaThu, 04 Mar 2021 10:32 AM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ गुरुवार को गोरखपुर पहुंचे। वह केंद्रीय उर्वरक एवं रसायन मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा के साथ हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) के खाद कारखाना का  निरीक्षण करेंगे। निरीक्षण के बाद अफसरों संग बैठक करेंगे। माना जा रहा है कि बैठक में खाद कारखाना के लोकार्पण की तिथि पर भी चर्चा हो सकती है। दक्षिण कोरिया निर्मित विशेष रबर से बने डैम का केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री निरीक्षण करेंगे। इस रबर डैम पर गोलियों का भी असर नहीं होगा।

खाद कारखाना पहुंचे उर्वरक एवं रसायन मंत्री और मुख्यमंत्री: हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) के खाद कारखाना का निरीक्षण करने गुरुवार सुबह 11:15 बजे केंद्रीय उर्वरक एवं रसायन मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंच गए हैं। केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री खाद कारखाना परिसर का निरीक्षण कर रहे हैं। दोनों रबर डैम, प्रीलिंग टावर और अन्य मशीनों का निरीक्षण करेंगे। निरीक्षण के बाद अफसरों संग बैठक करेंगे। जुलाई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खाद कारखाना का लोकार्पण करेंगे।

यह अफसर भी मौजूद: उर्वरक एवं रसायन मंत्रालय के सचिव राजेश कुमार चतुर्वेदी, अतिरिक्त सचिव धर्मपाल, भारत सरकार के अवर सचिव सचिन कुमार, उर्वरक मंत्री के अतिरिक्त निजी सचिव प्रत्युष कुमार और हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) के प्रबंध निदेशक अरुण कुमार गुप्ता भी केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री के साथ मौजूद हैं। सभी अफसर बारीकी से परिसर का निरीक्षण कर सुधार की जरूरत होने पर निर्देश भी दे रहे हैं।

कोरोना के कारण हुई देर: खाद कारखाना को इस साल फरवरी महीने में शुरू करना था। इसके लिए दो साल पहले ही समयसीमा तय कर दी गई थी लेकिन पिछले साल मार्च महीने में कोरोना के कारण लाकडाउन में काम बंद हो गया। जब तक काम शुरू करने की अनुमति मिली तब तक भारी संख्या में कर्मचारी अपने घरों को लौट चुके थे। खाद कारखाना प्रबंधन ने अपने संसाधनों से सभी को वापस बुलाया और काम शुरू कराया। इस कारण खाद कारखाना शुरू करने की नई तिथि जुलाई 2021 तय की गई थी।

फैक्ट फाइल

शिलान्यास - जुलाई 2016

शिलान्यास किया- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने

कार्यदायी संस्था - टोयो जापान

कुल बजट - 7085 करोड़

यूरिया प्रकार - नीम कोटेड

प्रीलिंग टावर - 149.5 मीटर ऊंचा

शुरू होने का प्रस्तावित माह - जुलाई 2021

रबर डैम का बजट- 28 करोड़

रोजगार प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष - 10 हजार

मुंबई से मंगाकर बेची गई यूरिया - 28 सौ मीट्रिक टन

बिक्री नेटवर्क - 14 डीलर, दो सौ से ज्यादा रिटेलर

रोजाना उत्पादन - 3850 एमटी।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.