दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Gorakhpur Weather News: गोरखपुर में बदला मौसम का मिजाज, बारिश के बीच हुई ओलावृष्टि- दिन में दिखा रात जैसा अंधेरा

गोरखपुर में रविवार को बारिश के बीच ओलावृष्टि हुई। - जागरण

Gorakhpur Weather News गोरखपुर में रविवार को मौसम का मिजाज बदल गया। तेज हवा के साथ बारिश व कहीं-कहीं ओलावृष्टि भी हुई है। कई इलाकों में विद्युत आपूर्ति व्यवस्था ध्वस्त हो गई। आम के बागबानों को काफी नुकसान हुआ।

Pradeep SrivastavaSun, 09 May 2021 01:30 PM (IST)

गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर में रविवार को दोपहर में अचानक मौसम का मिजाज बदल गया। तेज हवा के साथ बारिश व कहीं-कहीं ओलावृष्टि भी हुई है। कई इलाकों में विद्युत आपूर्ति व्यवस्था ध्वस्त हो गई। आम के बागबानों को काफी नुकसान हुआ। जगह-जगह जल जमाव की स्थिति पैदा हो गई। बदले मौसम से गर्मी से जहां राहत मिली, वहीं सब्जी के खेती के लिए बारिश लाभप्रद रही।

पिछले एक सप्ताह से मौसम करवट ले रहा है। कभी आसमान पर बादल छाए रहते हैं तो कभी बूंदाबांदी के बीच हल्की बारिश। दो दिन पहले तेज आंधी के बीच बारिश हुई तो दूसरे दिन मौसम साफ हो गया। आज भी सुबह तेज धूप निकली। मगर दोपहर में तेज हवा के साथ बारिश शुरू हो गई। इटवा में इसका असर कम रहा तो पचपेडवा व बैरिहवा के बीच में तेज वर्षा के साथ ओले भी गिरे। मिठौवा व भगवतपुर में बारिश इतनी तेज रही कि थोड़ी देर में मिठौवा मार्ग पानी से भर गया। राहगीरों का आवागमन कठिन हो गया।

पश्चिमी विक्षोभ का असर

मौसम विशेषज्ञ कैलाश पांडेय ने बताया कि जम्मू-कश्मीर के ऊपर बने सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ ने तिब्बत की ओर बढ़ना शुरू कर दिया है। इधर पंजाब से उत्तर प्रदेश होते हुए असम तक एक निम्न वायुदाब क्षेत्र भी बन गया है। पश्चिमी विक्षोभ जब पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपरी हिस्से में पहुंचेगा तो वह निम्न वायुदाब के साथ मिलकर तेज हवाओं के साथ गरज-चमक के बीच बारिश का वजह बनेगा। बारिश का यह सिलसिला 12 मई से शुरू होकर तीन दिन तक चल सकता है। एक अनुमान के अनुसार इस वायुमंडलीय परिस्थिति की वजह से पूर्वी उत्तर प्रदेश के 60 से 70 फीसद स्थानों 15 से 20 मिलीमीटर बारिश का पूर्वानुमान है। बारिश होने की संभावना वाले स्थानों में गोरखपुर और आसपास का क्षेत्र भी शामिल है। यह बारिश एक बार फिर अधिकतम तापमान को 35 डिग्री सेल्सियस से और न्यूनतम तापमान को 22 डिग्री सेल्सियस से नीचे लाएगी। 

आगे और बढ़ेगी मुसीबत

मौसम विशेषज्ञ के अनुसार लगातार चल रही पुरवा हवाएं बंगाल की खाड़ी से नमी लेकर पूर्वी उत्तर प्रदेश तक पहुंच रही हैं। इधर बादलों और धूप के बीच जद्दोजहद भी जारी है। नमी, बादल और धूप की यह रस्साकसी हीट इंडेक्स को बढ़ा देगी। ऐसी परिस्थिति में पैमाने पर तो तापमान नियंत्रण में दिखेगा लेकिन गर्मी का अहसास रिकार्ड तापमान से चार-पांच डिग्री सेल्सियस अधिक का होगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.