दस लाख की रंगदारी मांगने में तीन गिरफ्तार

पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र के गौरा तिराहे से पकड़े गए आरोपित पांडेय बाजार के व्यापारी प्रद्युम्न से फोन पर मांगी गई थी रंगदारी

JagranThu, 02 Dec 2021 10:09 PM (IST)
दस लाख की रंगदारी मांगने में तीन गिरफ्तार

जागरण संवाददाता, बस्ती : पुरानी बस्ती के गल्ला व्यवसायी प्रद्युम्न कुमार गुप्ता के पुत्र को अपहृत करने की धमकी देकर दस लाख रुपये की रंगदारी मांगने वाले बदमाशों को पुलिस ने दबोच लिया। पुरानी बस्ती पुलिस, क्राइम ब्रांच की स्वाट और सर्विलांस सेल की संयुक्त टीम ने गुरुवार की सुबह 5.30 बजे इस मामले में संलिप्त तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। यह हैं नीरज पटवा निवासी मझौवा मीर थाना वाल्टरगंज, भोला निषाद निवासी केवटहिया, बभनान रेलवे स्टेशन के पास थाना छपिया जनपद गोंडा व श्रवण पटवा निवासी बेलभरिया थाना वाल्टरगंज जनपद बस्ती हाल मुकाम पैड़ा चौराहा थाना वाल्टरगंज, बस्ती। इनके पास से दो कट्टा, दो कारतूस, दो चोरी का मोबाइल व एक चोरी का सिम बरामद किया गया है।

यह जानकारी एसपी आशीष श्रीवास्तव ने गुरुवार को पुलिस लाइन स्थित प्रेक्षागृह में पत्रकारों से बातचीत के दौरान दी। बताया कि 26 नवंबर को पुरानी बस्ती थाने के पांडेय बाजार के व्यापारी प्रद्युम्न कुमार गुप्ता के मोबाइल पर फोन कर पुत्र के अपहरण की धमकी देकर किसी ने अपने आपको हनुमंत पांडेय बताते हुए 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगी। पुन: दिनांक 28 नवंबर को रंगदारी मांगने के लिए फोन किया गया। न देने व शिकायत करने पर परिवार सहित जान से मारने की धमकी दी गई। व्यापारी ने पुरानी बस्ती पुलिस को तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया था। एसओ आलोक कुमार श्रीवास्तव ने जब इस घटना की छानबीन की तो पता चला कि हनुमंत वर्तमान में हत्या के मामले में जेल में निरुद्ध है। रंगदारी मांगने वालों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की तीन टीमें लगाई गईं। एसपी ने बताया कि छानबीन में घटना में तीन लोगों की संलिप्तता सामने आई। गिरफ्तार किए गए बदमाशों में श्रवण पटवा पर जिले के विभिन्न थानों में कुल 13 मुकदमे पहले से ही दर्ज हैं। वहीं भोला पर गोंडा जिले के छपिया व जीआरपी थाने में एक-एक मुकदमा दर्ज है। रंगदारी मांगने में चुराई गई मोबाइल के सिम का हुआ था प्रयोग

पूछताछ में आरोपित भोला ने बताया कि जिस मोबाइल से रंगदारी मांगी गई थी वह 24 नवंबर को उसने गोंडा जिले के खोड़ारे थाना क्षेत्र के मकोइया गांव से चुराया था। उसमें लगे सिम को उसने दोस्त नीरज पटवा को दे दिया था। नीरज पटवा ने बताया कि उस सिम का प्रयोग उसने अपने रिश्तेदार श्रवण पटवा के साथ मिलकर दस लाख रुपये की रंगदारी मांगने के लिए किया था। बाद में उस सिम को तोड़ दिया। नीरज ने बताया कि उसके रिश्तेदार श्रवण पटवा नमकीन बनाने का कारोबार करते हैं। इसके लिए सामान बेसन, तेल आदि पांडेय बाजार के व्यापारी प्रद्युम्न की दुकान से लाते हैं। रकम ज्यादा बकाया हो जाने के कारण व्यापारी ने श्रवण पटवा को सामान देने से मना कर दिया था। इसके बारे में श्रवण ने उसे बताया तो सभी ने फिरौती मांगने की योजना बनाई। पुलिस टीम में यह रहे शामिल

रंगदारी मांगने वाले आरोपितों की गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष पुरानी बस्ती आलोक कुमार श्रीवास्तव, प्रभारी स्वाट टीम एसआइ राजकुमार पांडेय, एसएसआइ जयप्रकाश चौबे, एसआइ जितेंद्र सिंह, हेड कां. उमेश चंद्र राय, राकेश कुमार यादव, कां. मनोज यादव, सतीश कुशवाहा, रविशंकर शाह, धीरज यादव, अरविद यादव, जर्नादन प्रजापति, दीपक कुमार, जितेंद्र यादव, महिला कां. प्रियंका त्रिपाठी शामिल रहीं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.