अगले माह से देश के प्रमुख रेलवे स्टेशनों से जुड़ जाएगा बहराइच, गोरखपुर से अयोध्या चलेंगी सीधी ट्रेनें

बहराइच रेलवे स्‍टेशन अगले माह से देश के प्रमुख स्टेशनों से जुड़ जाएगा। इसके लिए मंगलवार से गोंडा स्टेशन पर नान इंटरलाकिंग (एनआइ) शुरू क‍िया गया। इस कार्य के पूरा होने के बाद गोरखपुर अयोध्या और लखनऊ से भी बहराइच के लिए सीधी ट्रेन सेवा शुरू हो जाएगी।

Pradeep SrivastavaPublish:Tue, 17 May 2022 12:52 PM (IST) Updated:Tue, 17 May 2022 12:52 PM (IST)
अगले माह से देश के प्रमुख रेलवे स्टेशनों से जुड़ जाएगा बहराइच, गोरखपुर से अयोध्या चलेंगी सीधी ट्रेनें
अगले माह से देश के प्रमुख रेलवे स्टेशनों से जुड़ जाएगा बहराइच, गोरखपुर से अयोध्या चलेंगी सीधी ट्रेनें

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। अगले माह से बहराइच भी भारतीय रेलवे के अन्य सभी प्रमुख स्टेशनों से रेलमार्ग से जुड़ जाएगा। गोरखपुर, अयोध्या और लखनऊ से भी बहराइच के लिए सीधी ट्रेन सेवा शुरू हो जाएगी। इसके लिए मंगलवार से गोंडा स्टेशन पर नान इंटरलाकिंग (एनआइ) शुरू क‍िया गया। पहले 20 दिन प्री एनआइ और उसके बाद तीन दिन एनआइ होगा।

निरस्त रहेंगी दर्जनों ट्रेनें

एनआइ (अंतर पाशन) पूरा होने के बाद गोरखपुर-लखनऊ रेलमार्ग गोंडा स्टेशन पर बहराइच रूट से भी कनेक्ट (जुड़) जाएगा। नान इंटरलाकिंग के दौरान 23 दिन तक लगातार दर्जनों ट्रेनों का संचालन प्रभावित रहेगा। गोरखपुर-गोंडा-लखनऊ रूट पर चलने वाली अधिकतर ट्रेनें निरस्त रहेंगी, कुछ का मार्ग बदल जाएगा।

गोंडा से बहराइच चलने लगीं ट्रेनें

दरअसल, गोंडा से बहराइच लगभग 60 किमी तक का आमान परिवर्तन हो गया है। इस मार्ग पर बड़ी रेल लाइन बिछ गई है। विद्युतीकरण भी हो गया है। गोंडा से बहराइच के बीच दो डेमू ट्रेनें भी चलने लगी हैं। लेकिन गोंडा स्टेशन यार्ड में इंटरलाकिंग नहीं होने से गोरखपुर-लखनऊ और गोंडा-बहराइच रेल मार्ग आपस में नहीं जुड़ पाए हैं। ऐसे में गोरखपुर या लखनऊ से बहराइच रूट पर ट्रेनें नहीं चल पाती है। बहराइच जाने वाले लोगों को गोंडा पहुंचकर डेमू ट्रेनों का इंतजार करना पड़ता है।

गोरखपुर-गोंडा-लखनऊ-बहराइच रूट पर ट्रेनों की क्षमता बढ़ेगी

जानकारों के अनुसार इंटरलाकिंग के बाद गोरखपुर-लखनऊ मार्ग से बहराइच तो जुड़ ही जाएगा, गोंडा जंक्शन पर तीन की जगह पांच प्लेटफार्म तैयार हो जाएंगे। गोंडा से बढ़नी रूट पर दस रेल लाइनों से मालगाड़ियों का संचालन भी शुरू हो जाएगा। गोरखपुर-गोंडा-लखनऊ-बहराइच पर ट्रेनों की क्षमता बढ़ जाएगी।

17 मई से इंटरलाकिंग शुरू हो जाएगा। इंटरलाकिंग हो जाने से ट्रेनों का संचालन सुविधाजनक हो जाएगा। रेल लाइनों की ट्रेन क्षमता बढ़ जाएगी। गोंडा के रास्ते बहराइच तक ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा। लोगों की रेल यात्रा सुगम होगी। - मनीष कुमार, एरिया मैनेजर- गोंडा।