गोरखपुर विश्‍वविद्यालय में शुरू हुआ छात्रावास का आवंटन, 10 दिनों में जमा करनी होगी फीस

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के महारानी लक्ष्मीबाई छात्रावास में आवंटन प्रारंभ है। वार्डन प्रो.सुनीता मुर्मू ने बताया कि स्नातक तृतीय वर्ष की छात्राएं पुन आवंटन के लिए 10 दिन में फीस जाम कर दें अन्यथा उनका आवंटन निरस्त माना जाएगा।

Navneet Prakash TripathiThu, 25 Nov 2021 12:35 PM (IST)
गोरखपुर विश्‍वविद्यालय में शुरू हुआ छात्रावास का आवंटन। प्रतीकात्‍मक फोटो

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के महारानी लक्ष्मीबाई छात्रावास में आवंटन प्रारंभ है। वार्डन प्रो.सुनीता मुर्मू ने बताया कि स्नातक तृतीय वर्ष की छात्राएं पुन: आवंटन के लिए 10 दिन में फीस जाम कर दें, अन्यथा उनका आवंटन निरस्त माना जाएगा। एलएलबी तृतीय सेमेस्टर, बीए, बीएससी बीकाम की द्वितीय वर्ष की आवंटन की प्रथम सूची जारी कर दी गई है। चयनित छात्राएं पोर्टल खुलने के 10 दिन के अंदर फीस जमा कर दें।

शिक्षा शास्त्र विभाग में अभिविन्यास पाठ्यक्रम आज

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालय के शिक्षकों के लिए सीबीसीएस ('वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम) तथा बीएड सीबीसीएस पाठ्यक्रम पर आधारित अभिविन्यास कार्यक्रम का आयोजन गुरुवार को एमपी परिसर स्थित शिक्षा शास्त्र विभाग में किया गया है। जो सुबह नौ से दोपहर एक बजे तक दो सत्रों में आयोजित होगा। यह जानकारी विभागाध्यक्ष व अधिष्ठाता शिक्षा शास्त्र विभाग प्रो.शोभा गौड़ ने दी। उन्होंने कहा कि महाविद्यालयों के प्राचार्यों से अनुरोध है कि वह अभिविन्यास कार्यक्रम में दो शिक्षकों की प्रतिभागिता सुनिश्चित कराएं।

नव चयनित शिक्षकों के लिए फैकेल्टी इंडक्शन प्रोग्राम आज से

विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय में चयनित नए शिक्षकों के प्रशिक्षण के लिए दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के यूजीसी एचआरडीसी केंद्र के तत्वावधान में फैकेल्टी इंडक्शन प्रोग्राम का आयोजन गुरुवार से किया जा रहा है। एक माह तक चलने वाले कार्यक्रम में विभिन्न राज्यों के विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों के लगभग चार दर्जन शिक्षक प्रतिभाग कर रहे हैं।

आनलाइन होगा कार्यक्रम का उद्घाटन

यूजीसी एचआरडीसी के निदेशक प्रो.रजनीकांत पांडेय ने बताया कि कार्यक्रम का उद्घाटन सुबह 11 बजे आनलाइन किया जाएगा। मुख्य अतिथि रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय जबलपुर के कुलपति प्रो.कपिल देव मिश्रा होंगे। अध्यक्षता कुलपति प्रो.राजेश सिंह करेंगे।

शिक्षण के नये आयामों से परिचित होंगे शिक्षक

कार्यक्रम समन्वयक व अंग्रेजी विभाग के वरिष्ठ आचार्य प्रो.अजय कुमार शुक्ला ने बताया कार्यक्रम के माध्यम से शिक्षकों को शिक्षण के नए आयामों से परिचय कराया जाता है, जिससे वह अपने विद्यार्थियों के बीच बेहतर से बेहतर शैक्षणिक नवीनता के साथ शिक्षण कार्य कर सकें। कार्यक्रम 25 नवंबर से 24 दिसंबर तक आनलाइन संचालित होगा। सह समन्वयक की जिम्मेदारी समाजशास्त्र विभाग के डा.मनीष पांडेय को सौंपी गई है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.