बिजली व्यवस्था में सुधार को लगाए जाएंगे 188 नए ट्रांसफार्मर

रीवैम्प्ड (पुनरोत्थन) वितरण योजना के तहत शहर क्षेत्र में 188 नए ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। इसके अंतर्गत 100 250 एवं 400 केवीए क्षमता के ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। शहर क्षेत्र के चारो वितरण खंडों के अलग-अलग क्षेत्रों में ट्रांसफार्मर स्थापित किए जाएंगे।

Navneet Prakash TripathiTue, 30 Nov 2021 03:05 PM (IST)
बिजली व्यवस्था में सुधार को लगाए जाएंगे 188 नए ट्रांसफार्मर। प्रतीकात्‍मक फोटो

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। रीवैम्प्ड (पुनरोत्थन) वितरण योजना के तहत शहर क्षेत्र में 188 नए ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। इसके अंतर्गत 100, 250 एवं 400 केवीए क्षमता के ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। शहर क्षेत्र के चारो वितरण खंडों के अलग-अलग क्षेत्रों में ट्रांसफार्मर स्थापित किए जाएंगे। नए ट्रांसफार्मर लग जाने से बिजली आपूर्ति व्यवस्था में सुधार हो सकेगा। इसके साथ ही कई बिजली घरों के ट्रांसफार्मरों की क्षमता में वृद्धि भी की जाएगी।

ट्रांसफार्मर लगाने में खर्च होंगे 7:74 करोड

अधीक्षण अभियंता शहर ई. यूसी वर्मा ने बताया कि बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए इस योजना के तहत नए ट्रांसफार्मर लगाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि 188 ट्रांसफार्मरों में से 100 केवीए की क्षमता का एक ट्रांसफार्मर, 250 केवीए की क्षमता के 144 और 400 केवीए की क्षमता के 43 ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। इन ट्रांसफार्मरों को स्थापित करने में 7.74 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

बढेगी बिजली घर की क्षमता

शहर क्षेत्र में बढ़ते विद्युत लोड के कारण बिजली घर की क्षमता बढ़ाने के साथ ही नए बिजली घर भी स्थापित किए जा रहे हैं। क्षमता वृद्धि एवं नए बिजली घरों से विद्युत भार को नए ट्रांसफार्मरों पर प्रवाहित कर बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने बताया कि शहर क्षेत्र के रूस्तमपुर बिजली घर, रानीबाग, नार्मल, तारामंडल, लोहिया इंक्लेव, लालडिग्गी, धर्मशाला, यूनिवर्सिटी, सर्किट हाउस, दुर्गाबाड़ी, इंडस्ट्रियल एस्टेट, राजेंद्र नगर, मोहद्दीपुर सहित कुछ अन्य बिजली घरों पर स्थापित किए गए 63, 100, 250, 400 केवीए के ट्रांसफार्मरों की क्षमता वृद्धि करने की भी तैयारी चल रही है। जल्द ही क्षमता वृद्धि का काम शुरू कर दिया जाएगा।

चार घंटे बंद रहा पाली फीडर

गीडा स्थित 132 केवी उपकेंद्र के उपखंड अधिकारी चंद्रजीत ने बताया कि 30 नवंबर को गीडा से निर्गत होने वाले पाली फीडर सुबह 10 से दोपहर बाद दो बजे तक बंद रहा। इस दौरान खलीलाबाद-दुल्हीपार लाइन खींची गई और ढीले तारों को कसा गया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.