जेल में जगह की कमी नहीं, जरूरत पड़ी तो भर दूंगा

'जेल में जगह की कमी नहीं, जरूरत पड़ी तो भर दूंगा'

जिला प्रशासन ने तैयारी पूरा होने का किया दावा निगरानी की बनाई गई व्यवस्था।

JagranSat, 17 Apr 2021 11:46 PM (IST)

गोंडा : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर तैयारी पूरी कर ली गई है। शांतिपूर्ण व निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के लिए निगरानी की अलग-अलग व्यवस्था की गई है। ये जानकारी जिला निर्वाचन अधिकारी मार्कण्डेय शाही ने शनिवार को दी। उन्होंने कहा कि चुनाव को लेकर जिले को तीन भाग में बांटा गया है। सीडीओ, एडीएम व सीआरओ के साथ ही अपर पुलिस अधीक्षक की टीम बनाई गई है।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि अन्य जिलों से चार सीओ व चार एसडीएम बुलाए गए हैं। ये भी अलग-अलग निगरानी करेंगे। इसके अलावा प्रत्येक जिले में एक-एक नोडल, 16 सुपर जोनल, जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती गई है। उन्होंने बताया कि शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिए जिले में 401 मतदान केंद्र संवेदनशील, 453 अतिसंवेदनशील व 275 अतिसंवेदनशील प्लस की श्रेणी में दर्ज किए गए हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव में किग मेकर की भूमिका निभाने वाले 54 लोगों की गतिविधियों को प्रतिबंधित किया गया है। मतदान कार्मिकों को वीडियो कैमरे उपलब्ध कराए गए हैं। इसके अलावा गूगल मैप के जरिए भी निगरानी होगी।

पुलिस अधीक्षक एसके मिश्र ने कहा चुनाव में खलल डालने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। जेल मे जगह की कमी नहीं है जरूरत पड़ी तो जेल भरा जाएगा। एसपी के मुताबिक जिले में 12 हजार फोर्स की ड्यूटी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि पांच हजार होमगार्ड व 300 आरक्षी दूसरे जिले से मिले हैं। इसके अलावा दो कंपनी पीएससी व एक कंपनी पैरामिलिट्री फोर्स भी आ गई है। 1500 लोगों को रेडकार्ड जारी किया गया है। उन्होंने बताया कि कलस्टर मोबाइल टीमें भी गठित की गई हैं। इसके लिए मतदान की निगरानी ड्रोन कैमरे से भी कराई जाएगी। इनकी तैनाती चौखड़िया, तिर्रेमनोरमा, परासपट्टी मझवार आदि गांवों में किया जाएगा।

अबतक हुई कार्रवाई पर एक नजर :

48480 - लोग पाबंद

23524 - लीटर शराब बरामद

1050 - अवैध शराब को लेकर हुई एफआइआर

932 - लोग गिरफ्तार

89786 - लीटर लहन नष्ट

161 - लोग हुए जिला बदर

86 - शस्त्र लाइसेंस निरस्त

184 - शस्त्र लाइसेंस निलंबित

90 - प्रतिशत शस्त्र जमा कराए गए

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.