पोलिग पार्टियां तैयार, कमियां दूर करने का निर्देश

पोलिग पार्टियां तैयार, कमियां दूर करने का निर्देश

चित्र परिचय 22 बीएलएम 07 जासं बलरामपुर जिले में 2524 मतदान केंद्रों पर वोटिग की तैया

JagranThu, 22 Apr 2021 10:55 PM (IST)

चित्र परिचय : 22 बीएलएम 07 जासं, बलरामपुर :

जिले में 2524 मतदान केंद्रों पर वोटिग की तैयारी अंतिम दौर में है। 26 अप्रैल को मतदान है। 2776 पोलिग पार्टियां तैयार हैं। 25 अप्रैल को पोलिग पार्टियां ब्लाक मुख्यालय से रवाना होंगी। पार्टी रवानगी स्थल और स्ट्रांग रूम का जायजा लेकर कमियों को दूर करने का निर्देश डीएम ने दिया है। यहां 800 प्रधान, 993 क्षेत्र पंचायत, 40 जिला पंचायत और 10038 सदस्य ग्राम पंचायत के पदों के लिए मतदान होगा। मतदन कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। कार्मिकों को मतदान सामग्री देने के लिए पैकेट तैयार कर लिया गया है। जिलाधिकारी श्रुति ने बताया कि मतदान कार्मिकों को दी जाने वाली चुनाव से जुड़ी सामग्री का पैकेट तैयार कर लिया गया है। उक्त तिथि को पोलिग पार्टियां समय से मतदान केंद्रों तक पहुंचेगी। इसके लिए वाहनों की व्यवस्था कर ली गई है।

उपजिलाधिकारी उतरौला डा. नागेंद्र नाथ यादव व क्षेत्राधिकारी राधारमण सिंह ने विकास खंड कार्यालय उतरौला व गैंडासबुजुर्ग में पार्टी रवानगी स्थल को देखा। बैरीकेडिग कराने के साथ मतदान सामग्री वितरण काउंटर और सुरक्षा व्यवस्था की तैयारियों का जायजा लिया। कर्मचारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। एसडीएम ने कहाकि पोलिग पार्टियां समय से रवाना करने की तैयारी पूरी है। संवेदनशील व अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों का निरीक्षण कर प्रत्याशियों को चुनाव आचार संहिता का पालन करने की हिदायत दी गई है। सभी को मतदाताओं को किसी तरह का प्रलोभन न देने की हिदायत दी गई है। कहाकि शिकायत मिलने पर संबंधित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

----------------

रिश्तों की डोर से बांधने का चल रहा

संवादसूत्र, गैंसड़ी (बलरामपुर) :

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतदान की तिथि नजदीक आते ही गांव का माहौल बदलता जा रहा है। उम्मीदवारों की नजर में गांव का प्रत्येक नागरिक उनके व्यक्तिगत रिश्ते की डोर में बंधा नजर आ रहा है। पंचायत चुनाव में उम्मीदवार हर हथकंडा अपना रहे हैं। चाचा-चाची, दादा-दादी और भाई भतीजा सभी को सुबह शाम नमस्कार मिल रहा है। अब गांव वाले नहीं बल्कि रिश्तों की डोर से बांधने का प्रयास चल रहा है। हर कोई रिश्ते से पुकारा जा रहा है। खातिरदारी भी खूब हो रही है।

हर कोई कह रहा, काश गांव में माहौल ऐसा ही बना रहे। चुनावी दौर में उम्मीदवारों व उनके समर्थकों द्वारा यथोचित सम्मान देने के साथ ही उम्र के अनुसार रिश्तों से ही पुकारा जा रहा है। गैंसड़ी बाजार के डा. कन्हैया सिंह, अवतार सिंह, अशोक मोदनवाल, सतीश कुमार सिंह कहते हैं कि चुनाव ने गांव का माहौल बदल दिया है। वोट के लिए रिश्तों की दुहाई दी जा रही है। यह आगे भी बना रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.