ध्यानार्थ--चयनकर्ताओं को नजर नहीं आए सूर्य

ध्यानार्थ--चयनकर्ताओं को नजर नहीं आए 'सूर्य'
Publish Date:Fri, 30 Oct 2020 04:35 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, खानपुर (गाजीपुर) : थाना क्षेत्र के हथौड़ा निवासी क्रिकेट खिलाड़ी सूर्यकुमार यादव का इंडिया टीम में चयन नहीं होने पर न सिर्फ अंतरराष्ट्रीय पूर्व खिलाड़ी व विशेषज्ञ, बल्कि परिवारीजन भी है। जिले के लोगों में इसे लेकर गहरी निराशा है कि लगातार बेहतर प्रदर्शन के बाद भी उसकी अनदेखी हो रही है।

अपने दस साल के प्रथम श्रेणी कैरियर में सूर्यकुमार यादव ने सभी को काफी प्रभावित किया है। प्रथम श्रेणी के मैचों में 50.96 की औसत से ढेर सारे रनों का अंबार लगाया है और एक दोहरा शतक भी उनके नाम दर्ज है। ऑलराउंडर के रूप में सूर्यकुमार मैदान पर सबको प्रभावित कर चुके हैं। सूर्यकुमार के पूर्व कोच और उनके चाचा विनोद यादव कहते हैं कि किसी को यकीन ही नहीं हो रहा कि जिस बल्लेबाज ने आइपीएल और घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है उसे किस वजह से नेशनल टीम में मौका नहीं मिल रहा है। वर्तमान सीजन के आईपीएल में भी सूर्यकुमार ने 12 मैचों में 362 रन बनाए हैं। तीन अर्धशतक भी जमा चुके हैं। आइपीएल में सूर्यकुमार ने अब तक 97 मैच खेले हैं और दस अर्धशतकों की मदद से 1906 रन बनाने में सफल रहे हैं। दाहिने हाथ से बल्लेबाजी और मध्यम तेज गेंदबाजी करने वाले तीस वर्षीय सूर्यकुमार यादव के माता-पिता अशोक यादव और स्वप्ना यादव को यकीन है कि जल्द ही मेरे सूर्य का किस्मत उदय होगा और आगामी सत्र में भारतीय टीम की ओर से देश का प्रतिनिधित्व करेगा।

---

इससे समझ में आता है अहमियत

दुबई में चल रहे आइपीएल में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे सूर्यकुमार यादव का आस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 और वनडे सीरीज में चयन न होने से पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह सहित अन्य कमेंटेटरों और पूर्व चयनकर्ताओं ने भी आश्चर्य व्यक्त किया किया है। वही न्यूजीलैंड के पूर्व खिलाड़ी और कोच स्कॉट स्टायरिस ने सूर्यकुमार को न्यूजीलैंड या किसी विदेशी टीम से क्रिकेट खेलने के सुझाव ने सूर्यकुमार के अंतरराष्ट्रीय अहमियत को दर्शाता है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.