बिना सुरक्षा कोविड वार्ड, उत्पात मचा रहे स्वजन

बिना सुरक्षा कोविड वार्ड, उत्पात मचा रहे स्वजन

जागरण संवाददाता गाजीपुर जिला अस्पताल में बने कोविड वार्ड में ही कोरोना प्रोटोकाल का पा

JagranFri, 23 Apr 2021 05:41 PM (IST)

जागरण संवाददाता, गाजीपुर : जिला अस्पताल में बने कोविड वार्ड में ही कोरोना प्रोटोकाल का पालन नहीं हो पा रहा है। वार्ड के भीतर केवल रोगियों को रहना है, लेकिन यहां उनके स्वजन भी जबरदस्ती घुस जा रहे हैं। मना करने पर चिकित्साकर्मियों से दु‌र्व्यवहार कर रहे हैं और मारपीट पर उतर जा रहे हैं। शुक्रवार को भी सुबह स्वजनों ने जमकर हंगामा किया और चिकित्सकों संग गाली-गलौज की। इससे कोविड वार्ड में जान जोखिम में डालकर ड्यूटी कर रहे चिकित्साकर्मी असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। दूसरी तरफ स्वजनों का आरोप है कि उनके मरीजों को न तो ठीक से देखा जा रहा है और न ही पर्याप्त व्यवस्था है। लापरवाही का आलम है। बहरहाल, ऐसी स्थिति में न सिर्फ स्वजनों में भी कोरोना संक्रमण फैलने का भय सता रहा है बल्कि टकराव की भी स्थिति बन रही है। ध्यान नहीं दिया गया तो कभी भी यह बड़ा रूप ले सकता है।

--- वार्ड में फैला रहे गंदगी

- कोविड वार्ड की पहली प्राथमिकता साफ-सफाई है, लेकिन यहां तो गंदगी का अंबार है। मना करने के बाद भी उनके स्वजन खाने-पीने का सामान लेकर वार्ड में घुस जा रहे हैं। इससे इकलौते स्वीपर को सफाई करना मुश्किल हो रहा है। मना करने पर शु्क्रवार को लोगों ने जमकर हंगामा किया। उधर, स्वजनों का आरोप है कि अस्पताल में वार्ड में गंदगी का साम्राज्य है। संक्रिमतों को ठीक से देखा नहीं जा रहा है।

--- एसपी को लिखा पत्र

- जिला अस्पताल के प्रभारी सीएमएस डा. केएन चौधरी ने बताया कि हमने एसपी को पत्र लिखकर कोविड वार्ड के लिए पुलिसकर्मियों की मांग की थी, लेकिन नहीं मिले। एसपी ने कहा कि इस समय पुलिसकर्मी पंचायत चुनाव में लगे हैं, अस्पताल में उनकी ड्यूटी लगवाना संभव नहीं है। डा. चौधरी ने आगे बताया कि प्रतिदिन कोविड वार्ड में भर्ती रोगियों के स्वजन आकर हंगामा कर रहे हैं और वार्ड के अंदर घुस जा रहे हैं, जबकि यहां किसी का भी आना मना है। इससे चिकित्सकों व चिकित्साकर्मियों को उपचार करने में परेशानी हो रही है।

--- : सीएमएस के पत्र पर कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही फोर्स की तैनाती की जाएगी। जिला अस्पताल स्थित पुलिस चौकी के इंचार्ज को भी इस संबंध में निर्देशित किया गया है। वहां हंगामा करने वाले अराजक तत्वों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

- डा. ओपी सिंह, पुलिस अधीक्षक।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.