गेहूं बिक्री के लिए किसानों को कराना होगा पंजीकरण

जासं, गाजीपुर : आगामी एक अप्रैल से होने वाली गेहूं की सरकारी खरीद के लिए विभाग की तैयारियां जोरों पर हैं। इस बार सरकार ने नियमों में कुछ और भी बदलाव भी किए हैं। सप्ताह में दो दिन मंगलवार व शुक्रवार केवल लघु व सीमांत किसानों के लिए आरक्षित होगा ताकि उन्हें अपना गेहूं बेचने में कोई समस्या न आए। सरकारी क्रय केंद्र पर किसानों को अपना गेहूं बेचने के लिए आनलाइन पंजीकरण कराना होगा। हालांकि जिन किसानों के धान खरीद के समय पंजीकरण कराए गए हैं उन्हें इसकी जरूरत नहीं है लेकिन उन्हें अपने बोए गए गेहूं के रकबे में संशोधन कर इसे आनलाइन लाक करना होगा।

एक अप्रैल से शुरू होने वाली गेहूं खरीद 15 जून तक चलेगी। इसके लिए जिले में कुल 56 खरीद केंद्र बनाए गए हैं। सरकार ने इस बार गेहूं का समर्थन मूल्य 1840 रुपये प्रति क्विटल घोषित किया है। इसके अलावा गेहूं की उतराई, छनाई व सफाई के लिए किसानों को 20 रुपये प्रति क्विटल अलग से मिलेंगे। किसानों को अपना गेहूं बेचते समय आनलाइन पंजीकरण का प्रपत्र, खतौनी, फोटोयुक्त पहचान प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक की छाया प्रति व आधार कार्ड साथ लेकर आएं। अपना गेहूं सरकारी क्रय केंद्र पर बेचने में किसानों को अगर कोई समस्या आ रही है तो वह टोल फ्री नंबर-18001800150 पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा तहसील के क्षेत्रिय विपणन अधिकारी सदर के संजय कुमार गौतम-9838887999, मुहम्मदाबाद व कासिमबाद तहसील के चंद्रभान पांडेय-9452232306, जखनियां व सैदपुर तहसील के शैलेश कुमार यादव-9450080786 और जमानियां व सेवराई तहसील के संजीव कुमार राय-9450757036 पर फोन कर सकते हैं।

------

बिना पंजीयन नहीं होगी खरीद

- सरकारी क्रय केंद्रों पर किसानों को अपना गेहूं बेचने के लिए आनलाइन पंजीकरण कराना होगा। जिनका पिछले धान की बिक्री का पंजीयन है वह उसे अपडेट करवा लें। सरकार ने सप्ताह में दो दिन केवल लघु एवं सीमांत किसानों का गेहूं खरीदने का निर्देश दिया है।

- रतन कुमार शुक्ला, जिला खाद्य विपणन अधिकारी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.