top menutop menutop menu

करमहरी माइनर किसानों के लिए बना अभिशाप

फोटो-11सी।

जासं, जमानियां (गाजीपुर) : धान के कटोरा के नाम से विख्यात जमानियां क्षेत्र में किसानों को खेतों में सिचाई के लिए पानी की समस्या से जूझना पड़ रहा है। रजवाहों से जुड़े माइनर की सफाई नहीं होती है। फसल सिचाई न होने से किसान परेशान और चितित हैं। दिलदारनगर-देवैथा रजवाहा से निकला करमहरी माइनर किसानों के लिए अभिशाप बना है।

माइनर सफाई के नाम पर केवल खानापूर्ति होती है। करमहरी से ढेकही तक पानी तो आता है लेकिन उसके बाद करमहरी गांव तक के किसानों को परेशान होना पड़ता है। इनर की तलहटी की साफ-सफाई के लिए हर वर्ष लाखों रुपये का बजट आता है, लेकिन धन का बंदरबांट करने से माइनर बदहाल है। सफाई न होने से माइनर में झाड़-झंखाड का अंबार लगा है। झाड़ियों की बहुलता से खेतों तक माइनर का पानी ले जाने में किसानों को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। 1100 मीटर लंबे माइनर से करमहरी और ढेकही गांव के किसान सैकड़ों बीघा फसल की सिचाई बाधित हो रही है। कई बार मांग करने के बाद भी सिचाई विभाग के अधिकारियों से केवल कोरा आश्वासन ही मिला। बुधवार को जब जागरण प्रतिनिधि ने इस मुद्दे पर किसानों से बात की तो उनका दर्द छलक उठे। सभी ने एक स्वर में जनप्रतिनिधि और विभागीय अधिकारियों को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया। --------

माइनर का नहीं मिलता लाभ

फोटो-12सी।

सरकार द्वारा भले ही खेतों की सिचाई के लिए माइनर खोदवा दिया गया है लेकिन इसका लाभ नहीं मिल रहा है। वर्षों से टेल तक पानी नहीं पहुंच रहा है। ऐसे में निजी पंपसेट का सहारा लेना पड़ता है। -जयशंकर प्रजापति किसान करमहरी। --------

नहीं हैं सरकार नलकूप

फोटो-13सी।

माइनर की सफाई के नाम पर महज खानापूर्ति की गई है। टेल तक पानी न पहुंचने से सिचाई करने में परेशानी हो रही है। अगर अच्छी बरसात न हो तो खेतों में पानी भी नहीं भरता है। एक भी सरकारी नलकूप नहीं है। धनेश्वर यादव करमहरी।

------- मनरेगा से होगी सफाई

दिलदारनगर-देवैथा रजवाहा से निकला करमहरी माइनर की सफाई ग्राम सभा द्वारा मनरेगा से होगा। विभाग के पास अभी बजट नहीं है।

-फूलचंद्र मौर्य, सहायक अभियंता, सिचाई निर्माण खंड वाराणसी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.