विजय की वंदना या चंचल की सपना

जागरण संवाददाता गाजीपुर जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव की तिथि करीब आते ही जिले की राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है।

JagranWed, 23 Jun 2021 09:05 PM (IST)
विजय की वंदना या चंचल की सपना

जागरण संवाददाता, गाजीपुर : जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव की तिथि करीब आते ही जिले की राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है। सपा ने जमानियां प्रथम से निर्वाचित जिला पंचायत सदस्य कुसुम यादव पर दांव लगाया है। भाजपा ने अब तक पत्ता नहीं खोला है, लेकिन दो नामों में से ही किसी एक के प्रत्याशी बनना लगभग तय है। भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश मंत्री डा विजय यादव की पत्नी डा वंदना यादव व सैदपुर के युवा नेता पंकज उर्फ चंचल सिंह की पत्नी सपना सिंह ने भाजपा से अध्यक्ष पद के लिए दावेदारी की है। भाजपा किसे अपना प्रत्याशी बनाएगी इसकी घोषणा आज यानि गुरुवार को हो सकती है।

सैदपुर प्रथम सीट से निर्वाचित जिपं सदस्य सपना सिंह के प्रचार प्रसार में उनके पति पंकज सिंह व जेठ डा. मुकेश सिंह चुनाव परिणाम आने के बाद से ही लगे हुए हैं। वे जिले भर में जिला पंचायत सदस्यों को अपने पक्ष में करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। यही हाल डा वंदना यादव के पति डा. विजय यादव का भी है। वह भी जिला पंचायत सदस्यों को अपने पक्ष में करने में कोई चूक नहीं कर रहे हैं। कुछ दिन पहले जमानियां विधायक सुनीता सिंह के साथ डा. विजय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मिले थे। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह से मिलकर भी जिला पंचायत सदस्यों के अपने पक्ष में होने की बात कह चुके हैं। इधर, सपना को टिकट दिलवाने का जिम्मा एमएलसी विशाल उर्फ चंचल सिंह का है। सपना एमएलसी की सरहज व डा मुकेश की अनुजभार्या हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से एमएलसी की नजदीकी से हर कोई वाकिफ है। जब भी वे जिले में आए हैं चंचल उनके आसपास ही रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह से भी उनका बेहतर संबंध है। मामला प्रदेश कार्यालय तक पहुंचने के बाद दोनों के दावे में कितनी मजबूती है इसे जानने के लिए बतौर पर्यवेक्षक प्रभारी मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला एवं संगठन प्रभारी कौशलेंद्र सिंह पटेल दो दिन पहले जिले में आए थे। उन्होंने एमएलसी विशाल सिंह चंचल एवं डा विजय यादव दोनों लोगों से मुलाकात की और बातचीत कर कितने जिला पंचायत सदस्य किसके पक्ष में हैं इसका आंकलन किया, इसके बाद लौट गए। अब लोगों का कहना है कि गुरुवार की दोपहर तक पार्टी जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशी की घोषणा कर सकती है। बता दें कि गाजीपुर जिला पंचायत अध्यक्ष पद की सीट पर ढाई दशक से समाजवादी पार्टी का ही कब्जा रहा है। इस समाजवादी पार्टी के आंतरिक कलह का लाभ उठाने में भारतीय जनता पार्टी कोई चूक नहीं करेगी।

---

सूत्रों के मुताबिक प्रभारी मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला के समक्ष मंगलवार की रात एमएलसी के कार्यालय पर सपना सिंह के समर्थक 33 जिलापंचायत सदस्यों की परेड कराई गई। चार लोगों को अनुपस्थित बताते हुए वीडियो कालिग पर बात कराने के साथ पहचान कराई गई। उधर, देर रात कैथी में वंदना यादव के समर्थकों की भी परेड कराई गई। वहां कितनी संख्या रही यह पता नहीं चल सका। इन रिपोर्टों के साथ प्रभारी मंत्री लखनऊ पहुंचे हैं।

---

आठ पर्चे बिके: जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए नामांकन प्रपत्र की बिक्री 21 जून से शुरू हो गई है। अब तक तीन जिला पंचायत सदस्यों ने आठ सेट नामांकन प्रपत्र खरीदा है। 26 जून तक नामांकन प्रपत्र की बिक्री होनी है। 26 को जून को 11 से तीन बजे तक नामांकन होगा। तीन बजे के बाद कार्य नामांकन प्रपत्रों की जांच होगा। 29 जून को नाम वापसी हो जाएगी। तीन जुलाई को 11 से तीन बजे तक मतदान होगा। तीन बजे के बाद मतगणना कर परिणाम घोषित किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.