मरीजों की जान से खिलवाड़, 86 अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम अधूरे

जागरण संवाददाता गाजियाबाद कोरोना महामारी की दूसरी लहर में मनमाना शुल्क वसूलने के बाद निजी एवं सरकारी अस्पतालों के संचालक मरीजों की जान से भी खिलवाड़ कर रहे हैं। अग्निशमन विभाग द्वारा किए गए निरीक्षण में पता चला है कि 86 अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम अधूरे हैं।

JagranMon, 14 Jun 2021 08:59 PM (IST)
मरीजों की जान से खिलवाड़, 86 अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम अधूरे

जागरण संवाददाता, गाजियाबाद: कोरोना महामारी की दूसरी लहर में मनमाना शुल्क वसूलने के बाद निजी एवं सरकारी अस्पतालों के संचालक मरीजों की जान से भी खिलवाड़ कर रहे हैं। अग्निशमन विभाग द्वारा किए गए निरीक्षण में पता चला है कि 86 अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम अधूरे हैं। विभाग ने 112 सरकारी एवं निजी अस्पतालों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के तहत केवल 26 अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम पूरे मिले। शेष के खिलाफ सख्त कार्रवाई की तैयारी शुरू है। इनमें जिला एमएमजी अस्पताल, जिला संयुक्त अस्पताल व संतोष अस्पताल भी शामिल हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के एक दर्जन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी आग बुझाने के इंतजाम अधूरे मिले हैं।

इन निजी अस्पतालों में इंतजाम अधूरे

आस्था हास्पिटल प्रताप विहार, आनंद हास्पिटल लालकुआं, सुशीला मल्टीस्पेशियलिटी हास्पिटल पटेलगनर, आलोकी अस्पताल प्रतापविहार, हेल्थ केयर नंदग्राम, नंदग्राम नर्सिंग होम नंदग्राम, शगुप्ता नर्सिंग होम घूकना, कंसल हास्पिटल सेवानगर मेरठ रोड़, पल्लिएटिव केयर गोविदपुरम, वर्धमान हास्पिटल सेक्टर-23 संजयनगर, विनायक हास्पिटल गुलधर, जिदल मेडिकल सेंटर पटेलनगर थर्ड, एपेक्स हेल्थ केयर राजनगर एक्सटेंशन, सर्वोदय हास्पिटल कविनगर औद्योगिक क्षेत्र, पल्मानिक राजनगर, उत्तम हास्पिटल सेक्टर-9 विजयनगर, ओजस हास्पिटल राजेंद्र नगर, श्रेया हास्पिटल शालीमार गार्डन, वर्धमान नर्सिंग होम शालीमार गार्डन, स्पर्श मल्टी, स्पेशियलिटी हास्पिटल शालीमार गार्डन, परख हास्पिटल विक्रम एंक्लेव शालीमार गार्डन, गेटवेल हास्पिटल शालीमार गार्डन, राज नर्सिंग होम शालीमार गार्डन, नंदलाल हास्पिटल गरिमा गार्डन, शिवकृष्ण मेडिकेयर, अंबे हास्पिटल लाजपतनगर, साहिबाबाद मेडिकेयर सेंटर, गुप्ता नर्सिंग होम लाजपतनगर, आशीर्वाद आर्थोपेडिक सेंटर नवीन पार्क, संजीवनी नर्सिंग होम श्याम पार्क, नवजीवन मदर चाइल्ड, राजेंद्र नर्सिंग होम राजेंद्र नगर, वात्सल्य मेडिकेयर, न्यू विजन आइ हास्पिटल राजेंद्रनगर, ब्लेसिग हास्पिटल नेहरूनगर, संतोष सुदर्शन भाटिया मोड, शंकर हास्पिटल लालकुआं, संतोष हास्पिटल अंबेडकर रोड पुराना बस अड्डा, एडवांस लाइफ केयर मेरठ रोड, रामशरण गर्ग इंडो-जर्मन हास्पिटल काजीपुरा, गार्गी हास्पिटल राजनगर, संजीवनी हास्पिटल विजयनगर, रिलायबल हास्पिटल प्रतापविहार, कैलास हास्पिटल मेरठ रोड, अटलांटा हास्पिटल वसुंधरा, प्रेमधर्म हास्पिटल वसुंधरा, चंद्रलक्ष्मी हास्पिटल वैशाली, पारस हास्पिटल वैशाली, जीएमएस हास्पिटल मुरादनगर, रूरल इंसटीटयूट आफ मेडिकल साइंस रावली रोड मुरादनगर, पीजीएम हास्पिटल मुरादनगर, शकुंतला देवी हास्पिटल मोदीनगर, विद्यावती मेमोरियल हास्पिटल मोदीनगर, प्रियदर्शी हास्पिटल मोदीनगर, जीवन हास्पिटल मोदीनगर, दुबे नर्सिंग होम मोदीनगर, लोकप्रिय हास्पिटल मोदीनगर, शिवम हास्पिटल मोदीनगर, आशीर्वाद हास्पिटल मोदीनगर, सर्वोदय अस्पताल मोदीनगर, परमेश्वरी नर्सिंग होम मोदीनगर, नवजीवन नर्सिंग होम मोदीनगर, जशलोक हास्पिटल मोदीनगर, सिटी केयर हास्पिटल निवाड़ी। वर्जन..

मुख्य अग्निशमन अधिकारी द्वारा निरीक्षण के बाद रिपोर्ट भेजी है। रिपोर्ट के आधार पर आग बुझाने के ठोस इंतजाम न करने वाले निजी अस्पतालों के पंजीकरण निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी। जरूरत पड़ने पर सुसंगत धाराओं के तहत एफआइआर दर्ज कराई जाएगी। सरकारी अस्पतालों के प्रबंधन के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। आग बुझाने के इंतजाम न किया जाना मरीजों की जान के साथ खिलवाड़ है।

-डॉ.एन के गुप्ता,सीएमओ

जिले के कोविड और नान कोविड अस्पतालों का निरीक्षण करने पर पाया गया कि कई अस्पतालों में आग बुझाने के इंतजाम मानकों के अनुरूप नहीं हैं। किसी भी अप्रिय घटना की संभावना से बचने के लिए अग्निशमन सुरक्षा व्यवस्था पूर्ण कराकर सदैव कार्यशील रखना अनिवार्य है। सीएमओ को निरीक्षण रिपोर्ट भेजकर कड़ी कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है।

-सुनील कुमार सिंह, मुख्य अग्निशमन अधिकारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.