गाजियाबाद में सीआइएसएफ रोड पर लगा भयंकार जाम, कई घंटे रेंगते रहे वाहन

महाराजपुर सीमा पर जाम की फोटो: जागरण

शिप्रा सनसिटी के पास इस रोड पर दो कार आपस में भिड़ गईं। इसकी वजह से यहां वाहनों की रफ्तार और धीमी हो गई। इससे भयंकर जाम लग गया। वहीं भोपुरा पर दिल्ली जाने वाली लेन पर दिन भर वाहनों की रफ्तार धीमी रही।

Publish Date:Thu, 31 Dec 2020 05:34 PM (IST) Author: Mangal Yadav

साहिबाबाद (गाजियाबाद)  [अवनीश मिश्र]। किसान आंदोलन की वजह से बृहस्पतिवार को वाहन चालक यूपी गेट होकर दिल्ली नहीं जा सके। उन्हें अन्य वैकल्पिक मार्गों व सीमाओं से दिल्ली जाना पड़ा। इसकी वजह से अन्य मार्गों व सीमाओं पर वाहनों का दबाव अधिक रहा। इससे जाम लगा। वाहन चालकों को काफी परेशानी हुई। वहीं, यूपी गेट पर दिल्ली से आने वाली सभी लेन पर यातायात सामान्य रहा। कृषि कानूनों के विरोध में यूपी गेट पर 28 नंवबर से किसानों का आंदोलन चल रहा है। यहां से होकर वाहन चालक दिल्ली नहीं जा पा रहे हैं। वाहनों का रूट डायवर्ट किया गया है। वाहन महाराजपुर, खोड़ा, चंद्र नगर, ज्ञानी बार्डर, सीमापुरी, भोपुरा सीमा से होकर दिल्ली जा रहे हैं।

इन मार्गों पर वाहनों का दबाव बढ़ रहा है। बृहस्पतिवार को वाहनों का दबाव अधिक रहने के कारण महाराजपुर सीमा पर सुबह साढ़े आठ से 11 बजे तक जाम लगा रहा। उसके बाद दिनभर वाहन रेंगते रहे। शाम को दोबार चार बजे से जाम लगा। वहीं, भोपुरा पर दिल्ली जाने वाली लेन पर दिन भर वाहनों की रफ्तार धीमी रही।

सीआइएसएफ रोड पर भयंकर जाम

इंदिरापुरम की सीआइएसएफ रोड पर पाइप लाइन डालने का काम चल रहा है। इसकी वजह से एक ही लेन में वाहन चल रहे हैं। वहीं, यूपी गेट पर किसान आंदोलन की वजह से इस रोड पर वाहनों का दबाव भी बढ़ा है। बृहस्पतिवार शाम करीब पौने तीन बजे शिप्रा सनसिटी के पास इस रोड पर दो कार आपस में भिड़ गईं। इसकी वजह से यहां वाहनों की रफ्तार और धीमी हो गई। इससे भयंकर जाम लग गया। यातायात पुलिस अधीक्षक रामानंद कुशवाहा ने बताया कि किसान आंदोलन की वजह से रूट डायवर्जन किया गया है। जगह-जगह पुलिसकर्मी तैनात हैं। बता दें कि दिल्ली-एनसीआर की सीमाओं पर किसान आंदोलन की वजह से लोगों को कई दिनों से परेशानी हो रही है। सुबह और शाम अक्सर जाम लग जाता है। 

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.