UP: मुरादनगर अंत्येष्टि स्थल पर जांच टीम को मिले भ्रष्टाचार के सबूत, गोदाम व अन्य भवन सील

मुरादनगर अंत्येष्टि स्थल पर जांच करती जीडीए की टीमः जागरण

जांच के दौरान टीम ने देखा कि गैलरी बनाने मे इस्तेमाल किए गए सरिए का साइज मानक के अनुसार था न ही निर्माण सामग्री। डिजाइन भी गलत है। मानक से भी ज्यादा ऊंचाई पर लेंटर डाला गया है। पिलर की संख्या भी कम है।

Publish Date:Tue, 05 Jan 2021 03:41 PM (IST) Author: Mangal Yadav

गाजियाबाद [अभिषेक सिंह]। मुरादनगर में रविवार को हुए हादसे के बाद मंगलवार को जांच टीम अंत्येष्टि स्थल पहुंची। इस दौरान लकड़ी का गोदाम सहित अन्य भवन को सील कर दिया गया है। टीम ने अंत्येष्टि स्थल की गैलरी की जो छत गिरी है, उसके मलबे की भी जांच की। उन्होंने पहली नजर में ही साफ कर दिया है कि गैलरी सहित अन्य भवन का निर्माण मानकों के विपरीत हुआ है। न तो पिलर की संख्या ठीक है न ही भवनों का डिजाइन। इसका पर्दाफाश मंगलवार के अंक में दैनिक जागरण ने किया है। 

जीडीए के चीफ इंजीनियर वीएन सिंह ने बताया कि जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने लोक निर्माण विभाग, जीडीए और नगर निगम की एक संयुक्त टीम श्मशान स्थल पर बनी गैलरी, लकड़ी के गोदाम सहित अन्य भवन की जांच के लिए बनाई है। जिसके बाद जांच के लिए टीम श्मशान स्थल पहुंची है।

ये मिली खामियां

जांच के दौरान टीम ने देखा कि गैलरी बनाने मे इस्तेमाल किए गए सरिए का साइज मानक के अनुसार था न ही निर्माण सामग्री। डिजाइन भी गलत है। मानक से भी ज्यादा ऊंचाई पर लेंटर डाला गया है। पिलर की संख्या भी कम है। प्रत्येक पिलर का साइज भी टीम ने नोट किया है।

सिर्फ दीवार है सरिया नहीं

भवन में उन्होंने हथौड़ा मारकर देखा कि कुछ जगह पर खड़े कॉलम में सिर्फ ईंट से चिनाई कर दीवार बनाई गई है। उसमें सरिए का इस्तेमाल ही नहीं किया गया है।

NHRC ने जारी किया यूपी सरकार को नोटिस

वहीं, मुरादनगर श्मशानघाट हादसे के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है। इस हादसे में 20 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी जबकि कई लोग घायल हुए थे।

संगम विहार में एक और बुजुर्ग की मौत

वहीं, उखलारसी में हुए हादसे का गम संगम विहार कॉलोनी में रहने वाले एक बुजुर्ग को ऐसा हुआ कि उनकी जान चली गई। उनके शव को अंतिम संस्कार के लिए उसी अंत्येष्टि स्थल पर लाया गया, जहां रविवार को हादसा हुआ था। बार एसोसिएशन के पूर्व सचिव और स्थानीय निवासी विजय गौड़ ने बताया कि मृतक बुजुर्ग इंद्रजीत सिंह संगम विहार के रहने वाले थे। उनके घर के पास ही रहने वाले 7 लोगों की हादसे में रविवार को जान चली गई। जिसका उनको गम बैठ गया था और आज सुबह करीब 4 बजे उनकी मौत हो गई। इंद्रजीत सिंह हादसे को लेकर काफी दुखी थे।

ये भी पढ़ेंः मुरादनगर अंत्येष्टि स्थल हादसे का आरोपित ठेकेदार अजय त्यागी गिरफ्तार 

Moradnagar Incident: श्मशान घाट पर मौतों के जिम्मेदार ठेकेदार को महिला ने चप्पल से मारा

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.